पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खतरा:बरवाला एरिया में फिर मरीं 70 हजार मुर्गियां, अब तक 2 लाख की हो चुकी मौत; चंडीगढ़ में भी अलर्ट

पंचकूला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • पोल्ट्री फार्मों में एक महीने से लगातार मर रही हैं मुर्गियां, रिपोर्ट में अभी बर्ड फ्लू कन्फर्म नहीं हुआ

बरवाला-रायपुररानी एरिया के पोल्ट्री फार्म में मुर्गियों के मरने का सिलसिला लगातार जारी है। यहां पिछले दो दिनों में अलग-अलग पोल्ट्री फार्म में 70 हजार से ज्यादा मुर्गियां मर चुकी हैं। कुछ ही दिनों में इस एरिया में करीब 2 लाख मुर्गियां मर चुकी हैं। प्रशासन की ओर से जो सैंपल लिए गए थे, उनकी रिपोर्ट अभी तक नहीं आई है।

लेकिन बर्ड फ्लू होने की आशंका के चलते कारोबार एकदम ठप सा हो गया है। हिमाचल में बर्ड फ्लू केस मिलने के चलते चंडीगढ़ में भी चिंता बढ़ गई है। अगर बरवाला में मुर्गियों की मौत की वजह बर्ड फ्लू है तो यह चंडीगढ़ के लिए चिंता की बात है। क्योंकि यहां अंडों और मुर्गियाें की सप्लाई बरवाला एरिया से ही हाेती है।

जब 20-25 दिन पहले कुछ पोल्ट्री फार्मों में मुर्गियों में बीमारी आने लगी थी तो उन्होंने अपनी मुर्गियों को कहीं दूसरी जगह पर बेच दिया था। इनकी जगह पर नई मुर्गियां ले आए थे। इस बारे में प्रशासन को भी कोई जानकारी अभी तक नहीं दी

पोल्ट्री फार्म मालिक सही जानकारी नहीं दे रहे
सूत्रों के अनुसार पिछले दो दिनों में पंचकूला-अंबाला बॉर्डर पर स्थित एक पोल्ट्री फार्म की करीब 63 मुर्गियां मरी हैं। इसके अलावा कुछ पोल्ट्री फार्म में 7 से 8 हजार मुर्गियों की मौतें हुई हैं। पोल्ट्री फार्म मालिकों की ओर से प्रशासन को इस मामले में पूरी जानकारी नहीं दी जा रही है। जो जानकारी उपलब्ध करवाई जा रही है, प्रशासन उसे ही सच मान रहा है। जांच के नाम पर कुछ नहीं हो रहा है।

रिपोर्ट का इंतजार क्यों
बरवाला एरिया के रहने वाले और कामी गांव के सरपंच विजेंद्र शर्मा कामी ने कहा कि मुर्गियों की मौत के मामले में प्रशासन की ढिलाई आने वाले समय में लोगों के लिए भारी पड़ सकती है। क्योंकि प्रशासन रिपोर्ट के इंतजार में बैठा है। सप्लाई पर कोई रोक नहीं लगाई है। जबकि प्रशासन को सप्लाई रोकनी चाहिए थी।

बीमारी से अछूता नहीं यहां कोई भी फार्म...
इस एरिया के पोल्ट्री फार्म में पिछले 1 महीने से लगातार मुर्गियों की मौत हो रही है। हर पोल्ट्री फार्म में रोजाना मुर्गी मर रही हैं। लेकिन पोल्ट्री फार्म मालिक प्राइवेट डॉक्टर्स को बुलाकर वैक्सीनेशन करवा रहे हैं। बरवाला की पोल्ट्री बेल्ट हरियाणा में सबसे बड़ी है। पाेल्ट्री मालिक असल जानकारी छिपा रहे हैं।

सुखना समेत चंडीगढ़ की सभी वाॅटर बाॅडीज में पक्षियों पर रखी जाएगी नजर

हिमाचल स्थित पौंग डैम में बर्ड फ्लू के मामले आने के बाद चंडीगढ़ में भी अलर्ट जारी कर दिया गया है। इस समय चंडीगढ़ की वाॅटर बाॅडीज में माइग्रेटरी बर्ड्स आते हैं। साथ ही पोल्ट्री फार्म में भी सैंपलिंग और मॉनिटरिंग बढ़ाने को लेकर कहा गया है। सोमवार को चीफ कंजर्वेटर ऑफ फाॅरेस्ट व चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन ने मीटिंग की।

निर्देश दिए कि सुखना लेक, सुखना वाइल्ड लाइफ सेंक्चुरी और शहर की बाकी वाॅटर बाॅडीज को लेकर रेगुलर रिपोर्ट हर रोज दें। अगर बर्ड कहीं मरे हुए पाए जाते हैं या बिहेवियर चेंज कुछ दिखता है तो इसको लेकर जानकारी दें। चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन चंडीगढ़ देबिंद्र दलाई ने कहा कि सभी स्टाफ को अलर्ट कर दिया है।

अभी तक यहां ऐसा कुछ नहीं है, लेकिन गंभीरता को देखते हुए अगर कुछ लगता है तो फौरन रिपोर्ट कर सकेंगे। वाइल्ड लाइफ डिपार्टमेंट की तरफ से एनिमल हसबेंड्री को चंडीगढ़ के पाॅल्ट्री फार्म में सैंपलिंग करने को कहा है। 2014 में भी चंडीगढ़ में बर्ड फ्लू का मामला सामने आया था।

इसमें माइग्रेटरी बर्ड से आगे डोमेस्टिक डक्स में भी आने के मामले की पुष्टि हुई थी। इसके बाद सुखना लेक में 109 बत्तखों को मारा गया था और करीब एक महीने से ज्यादा देर तक सुखना लेक को पूरी तरह से बंद करना पड़ा था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह गोचर और परिस्थितियां आपके लिए लाभ का मार्ग खोल रही हैं। सिर्फ अत्यधिक मेहनत और एकाग्रता की जरूरत है। आप अपनी योग्यता और काबिलियत के बल पर घर और समाज में संभावित स्थान प्राप्त करेंगे। ...

और पढ़ें