पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नई महामारी का खौफ:ब्लैक फंगस की पुष्टि होने पर पीजीआई में चला इलाज, ठीक होने के बाद घर पहुंचते ही हुई मौत

पंचकूलाएक महीने पहलेलेखक: संदीप काैशिक
  • कॉपी लिंक
  • ब्लैक फंगस के 12 मरीजों में से चार की माैत, कालका का मरीज वेंटिलेटर पर

पंचकूला में अभी तक कुल 16 लाेगाें में ब्लैक फंगस की जांच के लिए सैंपल भेजे गए हैं। जिनमें 12 मरीजाें में ब्लैक फंगस पाई गई है। इनमें अब चाैथे मरीज की भी माैत हाे गई है। 63 साल का मरीज उत्तर प्रदेश के बरेली का रहने वाला था। वह प्राइवेट अस्पताल में अपना इलाज करवा रहा था, जिसके बाद ब्लैक फंगस का टेस्ट पाॅजिटिव आने के बाद उन्हें चंडीगढ़ पीजीआई रेफर किया गया।

इलाज के बाद वह अपने उत्तर प्रदेश के बरेली घर भी जा चुके थे। लेकिन अब उनकी वहां पर माैत हाे गई है। इससे पहले उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरपुर निवासी 50 साल के व्यक्ति और नोएडा निवासी 44 साल के मरीज की मौत हो चुकी है। दोनों व्यक्तियों को पंचकूला में इलाज चल रहा था।

इसी दौरान उनमें ब्लैक फंगस की पुष्टि हुई थी।इसके अलावा 51 साल की महिला की भी प्राइवेट अस्पताल ब्लैक फंगस के कारण माैत हाे गई। महिला माेहाली के जीरकपुर की रहने वाली थी। सेक्टर-11 के एक डेंटल क्लीनिक में भी मरीज के सैंपल ब्लैक फंगस की जांच के लिए भेजे गए थे। महिला अपना टेंडल ट्रीटमेंट करवाने के लिए क्लीनिक पर पहुंची थी, लेकिन डाॅक्टर काे शक हुआ कि कहीं इन्हें ब्लैक फंगस ताे नहीं।

जिसके बाद विभाग काे सूचना दी गई और महिला काे इस बारे में बताया गया। जिसके बाद सैंपल लेकर जांच के लिए लैब भेजे गए और उसकी रिपाेर्ट पाॅजिटिव आई। जिसके बाद अब महिला काे पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया गया था। ये मरीज सेक्टर 4 की रहने वाली है और अब इनकी पीजीआई में ही इलाज चल रहा है।

पंचकूला में पिछले एक महीने के अंदर कुल 16 मरीजाें की ब्लैक फंगस काे लेकर जांच हाे चुकी है। इनमें अभी एक मरीज के सैंपल की रिपाेर्ट आनी बाकि है और अभी तक 12 मरीजाें के सैंपल ब्लैक फंगस पाॅजिटिव पाए जा चुके हैं। पंचकूला में अभी तक सबसे ज्यादा प्राइवेट अस्पताल में इलाज करवा रहे लाेगाें के ब्लैक फंगस काे लेकर जांच के लिए सैंपल लैब भेजे गए है। इसके अलावा 1 मामला प्राइवेट डेंटल क्लीनिक से सामने आया और अब जनरल अस्पताल से भी ब्लैक फंगस काे लेकर 3 मरीजाें की जांच की गई।

कुछ मरीजाें काे पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया गया है: सीएमओ

सीएमओ डाॅ. जसजीत काैर ने बताया कि पंचकूला में ब्लैक फंगस के 12 मामले हाे चुके है। दूसरे राज्याें के चार मरीजाें की माैत हाे चुकी है। तीन सैंपलाें की रिपाेर्ट पेंडिंग थी, जिसकी रिपोर्ट पाॅजिटिव आई हैं। पहले हमारे पास अब 12 मामलाें हाे चुके हैं। कुछ मरीजाें काे पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया और कालका के मरीज का मुलाना मेडिकल काॅलेज में इलाज चल रहा है।

खबरें और भी हैं...