पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सख्ती:चीफ एडमिनिस्ट्रेटर ने सेक्टर-5 में अतिक्रमण की जांच की

पंचकूला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दूसरी विंग के अफसरों की हाई लेवल कमेटी गठित की

कहीं बेसमेंट में केबिन बने हैं तो कहीं होटल की बेसमेंट में कमरे व टॉयलेट। कहीं कॉरिडोर पर कब्जा कर केबिन बने हैं तो कहीं रसोई। कहीं दुकानदारों ने बिजनेस के लिए इसे कवर कर लिया है। एक होटल में टैरेस पर हुक्का बार चल रहा था जिसमें करीब 150 युवा बैठ कर स्मोकिंग कर रहे थे।

शहर में इंक्रोचमेंट को खत्म करने के लिए हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के चीफ एडमिनिस्ट्रेटर विनय सिंह की तरफ से गठित टीम ने शनिवार को सेक्टर-5 में घूमकर शोरूम में हुई वॉयलेशन चेक की। टीम के सदस्यों का कहना है कि चेकिंग के दौरान काफी ज्यादा वॉयलेशन देखने को मिली जोकि क्रिमिनल ऑफेंस बनता है। एक होटल की छत पर चल रहे हुक्का बार में आने-जाने के लिए केवल लिफ्ट से ही आने-जाने का रास्ता था। अगर कभी आग लग जाए अाैर लिफ्ट बंद हो जाती है। ऐसे में छत पर बैठे लोगों के लिए नीचे आने का कोई रास्ता ही नहीं बचता है। कई होटलों ने बेसमेंट में बेडरूम, टॉयलेट बना लिए है जोकि अतिक्रमण की हद हैं।

कमेटी में शामिल सदस्यों ने सेक्टर-5 में घूमकर वॉयलेशन चेक की। इनमें एचएसवीपी के एडमिनिस्ट्रेटर व कमेटी के चेयरमैन महावीर कौशिक, इस्टेट अफसर व कमेटी के मेंबर सेक्रेटरी एच.एस. दून, चीफ आर्किटेक्ट, चीफ इंजीनियर वाई. एन. मेहरा, टाउन प्लानर लाडी वालिया शामिल रहे। इस दौरान इंफोर्समेंट व पुलिस की टीम भी साथ रही।

एचएसवीपी में अब तक शहर में इंक्रोचमेंट रोकने का जिम्मा एचएसवीपी का इस्टेट ऑफिस और इंजीनियरिंग विंग देखता रहा है। इन पर दुकानदारों से मिलीभगत कर मंथली या हफ्ता लेकर इंक्रोचमेंट के मामले में आंखें मूंदने के आरोप लगते रहे हैं। इस वजह से एचएसवीपी के चीफ एडमिनिस्ट्रेटर ने इस बार एचएसवीपी के दूसरे विंग के अफसरों को लेकर हाई लेवल कमेटी गठित की है। कमेटी के सदस्यों का कहना है जल्द ही दूसरे सेक्टरों में भी विजिट कर वॉयलेशन को चेक किया जाएगा।

शहर में पहचान छिपाकर घूमते रहे चीफ एडमिनिस्ट्रेटर

चीफ एडमिनिस्ट्रेटर ने 27 दिसंबर को हुए चुनाव से ठीक एक दिन पहले 26 दिसंबर को इंक्रोचमेंट देखने के लिए एक अाम अादमी बनकर पूरे शहर का दौरा किया। इस दौरान चीफ आर्किटेक्ट हेमराज यादव भी उनके साथ थे। दोनों ने करीब साढ़े तीन-चार घंटे तक शहर की मार्केटों में घूमकर इंक्रोचमेंट को देखा।

बरामदों और सरकारी जगह पर कब्जा करने वाले दुकानदारों से इंक्रोचमेंट पर बात की। लेकिन कहीं भी अपनी पहचान नहीं बताई। शहर में बढ़ रही इंक्रोचमेंट पर गंभीरता जताते हुए एचएसवीपी के चीफ एडमिनिस्ट्रेटर ने हाई लेवल कमेटी का गठन किया है। इस कमेटी से इंक्रोचमेंट को चेक कर इसे रोकने के सुझावों सहित एक माह में रिपोर्ट मांगी गई है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आसपास का वातावरण सुखद बना रहेगा। प्रियजनों के साथ मिल-बैठकर अपने अनुभव साझा करेंगे। कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा बनाने से बेहतर परिणाम हासिल होंगे। नेगेटिव- परंतु इस बात का भी ध...

    और पढ़ें