पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गठन:कैनाल हाउस में कामकाज के लिए कमेटी हुई गठित, कमेटी में पांच सदस्य हुए शामिल

पंचकूला22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कमेटी सुनिश्चित करेगी कि कैनाल हाउस में जानवरों पर किसी तरह का अत्याचार न हो

डॉग्स केयर एंड रीहेबिलिटेशन सेंटर, सुखदर्शनपुर गांव में डॉग्स की देखभाल और स्ट्रे लाइजेशन के काम को सुचारू ढंग से चलाने के लिए पांच सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया है। यह कमेटी सुनिश्चित करेगी कि सेंटर में किसी तरह की एनिमल क्रूएलिटी न हो। बीमार व घायल कुत्तों को सही इलाज मिले।

एनिमल हसबेंडरी डिपार्टमेंट के पूर्व डिप्टी डायरेक्टर डॉ. एम.आर. सिंगला को इस कमेटी का नोडल अफसर नियुक्त किया गया है। एनिमल बर्थ कंट्रोल में डॉ. सिंगला जाना-पहचाना नाम है। वे एनिमल हसबेंडरी डिपार्टमेंट के डिप्टी डायरेक्टर रहते हुए सेक्टर-3 स्थित पेट केयर सेंटर में कुत्तों की स्ट्रेलाइजेशन करते रहे हैं।

रिटायर होने के बाद उन्होंने पंचकूला नगर निगम में भी कुछ साल तक डॉग्स स्ट्रेलाइजेशन का काम देखते रहे हैं। कमेटी के अन्य सदस्यों में एनिमल हसबेंडरी डिपार्टमेंट के डिप्टी डायरेक्टर अनिल बनवाला, सेक्टर-3 स्थित पेट केयर सेंटर में वेटरनरी सर्जन डॉ. सुनील भारद्वाज, एनिमल वेलफेयर के लिए काम कर रहे एनजीओ की हेड मीनाक्षी महापात्रा, पंचकूला नगर निगम में सेनेटरी इंस्पेक्टर शामिल हैं।

कमेटी के सभी सदस्यों ने डॉग केयर एंड रीहेबिलिटेशन सेंटर में वालेंटरी सर्विसेज देने का फैसला किया है। मेंबर्स को किसी तरह का निगम से वेतन नहीं मिलेगा। यह कमेटी सुनिश्चित करेगी कि सेंटर में रूल्स के तहत ही काम हो।

कैनाल हाउस में कुत्तों को कुछ दिनों तक रखा जाएगा
कमेटी के नोडल अफसर एम.आर. अग्रवाल का कहना है कि नियमों के मुताबिक कुत्तों की स्ट्रेलाइजेशन के बाद उन्हें वापस उसी जगह पर छोड़ना अनिवार्य है, जहां से उन्हें उठाया जाता है। सेंटर में डॉग्स की स्ट्रे लाइजेशन के बाद उन्हें कुछ दिनों तक यहीं रखा जाएगा। घायल व बीमार कुत्तों को भी पूरी तरह से ठीक होने के बाद ही वापस उसी जगह पर छोड़ा जाएगा।

हिंसक व लोगों को काटने वाले कुत्तों को तब तक सेंटर में रखा जाएगा, जब तक उनके व्यवहार में बदलाव नहीं आता है। इन कुत्तों को सेंटर में खाने-पीने के लिए मिलता रहेगा। यहां कुत्तों के लिए 24 घंटे डॉक्टर, दवाईयां, खाने-पीने का प्रबंध किया जा रहा है। कैनाल हाउस में 39 गुणा 20 फुट लम्बे 36 पिंजरे बनाए गए हैं।

डॉग पौंड में 1000 कुत्तों को रख सकेंगे। कैनाल हाउस 4.5 एकड़ एरिया में बनाया गया है। यहां 50 कुत्तों के लिए मेडिकल यूनिट बनाई गई है जिसमें बीमार कुत्तों को रख सकेंगे। सेंटर के लिए 10 लोगों का स्टाफ रखा जाना है। इनमें दो डॉक्टर, चार कंपाउंडर, दो स्वीपर कम हेल्पर, एक सुपरवाइजर होंगे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप प्रत्येक कार्य को उचित तथा सुचारु रूप से करने में सक्षम रहेंगे। सिर्फ कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा अवश्य बना लें। आपके इन गुणों की वजह से आज आपको कोई विशेष उपलब्धि भी हासिल होगी।...

    और पढ़ें