पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नया फैसला:रोज 11 हजार श्रद्धालु करेंगे मनसा माता के दर्शन

पंचकूला8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • वीआईपी गेट से दर्शन के लिए चुकाने होंगे ~50, मंदिर परिसर में सीसीटीवी कैमरे लगाने का काम शुरू

(रवीश कुमार झा) 17 अक्टूबर से शुरू अश्विन नवरात्राें में अब 11 हजार श्रद्धालु रोजाना श्रीमाता मनसा देवी माता के दर्शन करेंगे। यह फैसला मंगलवार को आयोजित श्राइन बोर्ड की मीटिंग में लिया गया। मीटिंग की अध्यक्षता विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने की।

खास बात यह होगी कि रोजाना मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं का थर्मल स्क्रीनिंग, रेंडम सैंपलिंग और सोशल डिस्टेंसिंग को सुनिश्चित करने के लिए करीब 2000 से 2500 लोगों की उन पर नजर रहेगी। इनमें पुलिस, प्रशासनिक, श्राइन बोर्ड स्टाफ सहित सेवक शामिल होंगे। श्रद्धालुओं की रैंडम सैंपलिंग भी की जाएगी और माता के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं को ऑनलाइन आवेदन देना होगा।

यह आवेदन माता मनसा देवी और कालका काली माता मंदिर में दर्शन के लिए लेना पड़ेगा। उसके बाद ही स्लॉट वाइज के हिसाब से श्रद्धालु माता के दर्शन कर पाएंगे। श्रद्धालुओं को मंदिर की सीढ़ियाें के दोनों ओर लगी रेलिंग, मूर्तियां, दीवारें, जिगजैग ग्रिल, दरवाजे, हैंडल्स सहित किसी भी सामान को नहीं छूने दिया जाएगा। इसके अलावा दर्शन के दौरान मंदिर के सामान को न छूने के लिए अनाउंसमेंट भी किया जाएगा।

ऐसे करें स्लॉट की बुकिंग| श्रद्धालु अपने एंड्रॉयड फोन से mansadevi.org.in टाइप कर क्लिक करें। मनसा देवी श्राइन बोर्ड की वेबसाइट खुलते ही श्रद्धालु टोकन दर्शन ऑप्शन पर क्लिक करें। उसमें श्रद्धालु को अपना मोबाइल नंबर और कितने लोगों के साथ दर्शन करना चाहते हैं उसकी पूरी जानकारी देनी होगी।

जिसके बाद स्लॉट बुक हो जाएगा और श्रद्धालु के मोबाइल पर दर्शन के समय का मैसेज आ जाएगा। उस समय पर श्रद्धालु माता के दर्शन कर पाएंगे। ध्यान रहे कि इसके माध्यम से श्रद्धालु माता मनसा देवी, चंडी कोटला स्थित चंडी माता व कालका काली माता मंदिर का दर्शन कर सकेंगे। खास बात यह होगी सभी श्रद्धालुओं को अपने साथ आईडी कार्ड रखना होगा। तभी मंदिर में एंट्री मिलेगी।

वीआईपी गेट: सीनियर सिटीजन और विकलांग कर सकेंगे फ्री में दर्शन...विस अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता ने बताया कि आमतौर पर वीआइपी गेट से माता के दर्शन के लिए काफी श्रद्धालुओं की भीड़ होती है ऐसे में फैसला लिया है कि वीवीआईपी गेट से दर्शन के लिए श्रद्धालुओं को 50 रुपए देने होंगे। सीनियर सिटीजन और विकलांग श्रद्धालुओं के वीआईपी गेट से फ्री में दर्शन कर पाएंगे।

खबरें और भी हैं...