पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बहन ने एनआरआई भाई से 75 लाख ठगे, केस दर्ज:मनसा देवी थाने में बहन, जीजा, भांजे के खिलाफ धोखाधड़ी और साजिश रचने के तहत हुई एफआईआर

पंचकूला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कैनेडा में रह रहे अपने भाई से 75 लाख रुपए की ठगी करने के एक मामले में पंचकूला पुलिस ने बहन, जीजा और भांजे के खिलाफ धोखाधड़ी और साजिश रचने की धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। आरोपियों की पहचान सेक्टर-16 पंचकूला निवासी रेनू मनराओ, हरकेश मनराओ और निमित मनराओ के रूप में हुई है। हालांकि इन्हें पुलिस ने अभी गिरफ्तार नहीं किया है। रेनू मनराओ इस समय फरार है जबकि हरकेश और निमित युगांडा में हैं। इन तीनों के खिलाफ एनआरआई नरेश कौशल ने शिकायत दी थी।

नरेश ने शिकायत में बताया कि वह 2019 में कैनेडा से चंडीगढ़ आए थे। कोविड की वजह से वे कैनेडा वापस नहीं जा सके। उनकी बहन रेनू मनराओ और उनका परिवार उस समय युगांडा में रह रहा था। उनकी बहन ने उनसे पैसों की मदद मांगी। उनकी बहन का मनसा देवी कॉम्प्लेक्स सेक्टर-4 पंचकूला में एक घर बन रहा था।

रेनू ने नरेश से घर की रेनोवेशन करवाने के लिए 75 लाख रुपए की मदद मांगी। नरेश ने भाई होने के नाते अपनी बहन की मदद कर दी। रेनू ने नरेश के लिए पैसों से घर में रेनोवेशन और ब्यूटीफिकेशन का काम करवाया। उन्होंने नरेश से वायदा किया कि वे घर का काम पूरा होने के बाद उन्हें 75 लाख रुपए लौटा देंगी। लेकिन उन्होंने रकम नहीं लौटाई।

नरेश का कहना है कि उनकी बहन ने उनके साथ प्रॉपर्टी की भी धोखाधड़ी की है। नरेश ने आरोप लगाया कि उनकी बहन ने उनके पिता के साथ ही मिलकर उनकी मनसा देवी कॉम्प्लेक्स स्थित एक प्रॉपर्टी को धोखे से करोड़ों रुपए में बेच दिया। उस वक्त वे कैनेडा में रह रहे थे। उन्होंने इस बारे में भी पंचकूला पुलिस को शिकायत दी है। जिस पर अभी जांच चल रही है। उन्होंने बहन के अलावा अपने पिता के खिलाफ भी शिकायत दी है।

पैसों के बदले रेनोवेशन वाले घर का पजेशन दे दिया
जब रेनू युगांडा से इंडिया वापस लौटीं तो नरेश ने उनसे अपना पैसा मांगना शुरू कर दिया। लेकिन उन्होंने बहाने बनाने शुरू कर दिए। आखिर में रेनू ने पैसे देने से साफ इनकार कर दिया। हालांकि उन्होंने पैसों के बदले नरेश को रेनोवेशन वाले घर का पजेशन दे दिया। नरेश ने कहा कि वह घर का पजेशन नहीं लेना चाहते थे, उन्हें अपनी रकम वापस चाहिए थी ताकि वह वापस कैनेडा जा सकें।

लेकिन उनके जीजा और भांजे ने उन्हें फोन कर धमकियां देनी शुरू कर दी। जिस वजह से उन्हें पुलिस में शिकायत देनी पड़ी। पुलिस ने उनकी शिकायत पर आईपीसी की धारा 420, 406 और 120बी के तहत केस दर्ज किया।

खबरें और भी हैं...