पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अपराध:चोरी की गाड़ी में हुक्का बार में बेच रहा था ड्रग्स दबदबा बनाने के लिए रखता था अवैध रिवाॅल्वर

पंचकूला8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आरोपी पंचकूला में चोरी की गाड़ी बेचने के लिए आया था, एमडीसी से किया गिरफ्तार
  • आरोपी की गाड़ी से एक इलेक्ट्रॉनिक्स कांटा भी बरामद हुआ

(अमित शर्मा)
क्राइम ब्रांच सेक्टर-26 की पुलिस टीम को सूचना मिली थी कि एमडीसी में चोरी की गाडी को सेल करने के लिए एक आरोपी आ रहा है, रेड कर उसे पकड़ा जा सकता है, लेकिन जब टीम मौके पर गई और आरोपी को पकड़ा, तो कई बड़े खुलासे हो गए। जांच के दौरान पता चला कि आरोपी सिर्फ कार चोर ही नहीं है, बल्कि वह एक ड्रग पैडलर भी है।

जो शहर के हुक्का बारों में जाकर ड्रग्स देने के लिए लिंक बनाता था, उसके बाद उन्हें ड्रग्स सप्लाई की जाती थी। साथ ही ड्रग्स लेने वाले सही टाइम पर पेमेंट देते रहे, इसके लिए एक अवैध रिवाल्वर रखी हुई थी।

हुक्का बार से बनाता था ड्रग्स सप्लाई करने के लिंक

गौतम के पास से पुलिस को 1.10 ग्राम कोकिन भी बरामद हुई। वहीं, उसकी गाड़ी के डैश बोर्ड से 35 छोटे-छोटे खाली पैकेट्स बरामद हुए हैं। जिसमें ड्रग्स सप्लाई करता था, इसके अलावा गाड़ी से एक इलेक्ट्रॉनिक्स कांटा भी बरामद हुआ है। आराेपी ने अभी तक कि पूछताछ में बताया है, कि वो पंचकूला के हुक्का बार में आता था।

यहां युवकों से संपर्क करता था, उन्हें ड्रग्स सप्लाई करता था। वो दिल्ली से ड्रग्स लेकर आता था।रिवाॅल्वर लोडेड थी | पुलिस टीम काे सूचना मिली थी कि अाराेपी एमडीसी में चोरी की होंडा इमेज गाड़ी (डीएल1सीएक्स-1558) को लेकर आया था। जाे उसे किसी को बेचना चाहता था। अभी वह खरीदार का इंतजार कर ही रहा था कि क्राइम ब्रांच की टीम माैके पर पहुंच गई और उसे पकड़ लिया गया।

कार की तलाशी के दाैरान एक रिवाॅल्वर बरामद हुई। जाे लोडेड थी, जिस से वह फायर कर सकता था। आराेपी के पास कोई भी लीगल डॉक्यूमेंट्स मौजूद नहीं था। बताया कि जब वह दिल्ली में रहता था तो उसका वहां लाइसेंस बना था, लेकिन वह भी एक्सपायर हो चुका है। ऐसे में वह अवैध रिवाॅल्वर लेकर आया हुआ था। वह इसी रिवाॅल्वर के दम पर ड्रग्स खरीदने वालों को पेमेंट के लिए डराता था।

}िबजनेस ठप होने पर बना ड्रग पैडलर...पुलिस टीम ने आरोपी गौतम गोयल को गिरफ्तार कर लिया है। असल में आरोपी टोहाना का रहने वाला है और बिजनेस करने के लिए दिल्ली शिफ्ट हो गया था। लेकिन काम बंद होने के बाद ड्रग्स पैडलिंग के काम में पड़ गया। ऐसे में अब वह जीरकपुर में रह रहा था और पंचकूला एरिया में ड्रग्स सप्लाई करता था।

खबरें और भी हैं...