पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सर्वे:दो स्टोन क्रशर के पीछे हो रहा था अवैध खनन

पंचकूलाएक दिन पहले
  • कॉपी लिंक
Advertisement
Advertisement

पंचकूला में खनन माफिया दिन रात अवैध खनन में लगा हुआ है। शनिवार को माइनिंग विभाग की टीम चंडीमदिर एरिया में कौशल्या-घग्गर नदी में सर्वे करने गई है। इस दौरान वहां पर काफी अवैध माइनिंग मिली है। बता दें यहां पर माइनिंग जोन खेतपुरराली, बरवाला, बर्जु कोटिया, सेक्टर-28 के पास अवैध माइनिंग हो रही है। अब चंडीमंदिर के पास चंडीमंदिर के पास कौशल्या नदी में एक बहुत बड़े हिस्से में अवैध माइनिंग को अंजाम दिया गया है, जिसे छुपाने के लिए हाईवे की कंस्ट्रक्शन और नदी के किनारे बने दो स्टोन क्रशरों की आड़ में लाखों रुपए की कीमत का ग्रेवल चोरी किया गया। असल में चंडीमंदिर के साथ ही सुखोमाजरी बाइपास को बनाने का काम चल रहा है, जिसकी आड़ में अवैध माइनिंग हुई है।

पीसीआर, राइडर होने के बावजूद दो क्रशरों पर पहुंचा मैटीरियल: अवैध माइनिंग का काम केके स्टोन क्रशर और दुर्गा स्टोन क्रशरों की ओर से करवाया गया है। नदी के किनारे होने के चलते चोरी के ग्रेवल को नदी से उठाकर सीधा इन दोनों क्रशरों पर पहुंचाया गया। ऐसे में राजनीतिक शह मिलने पर किसी ने कोई शिकायत भी नहीं की। वहीं, पुलिस ने भी इस पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया, जबकि इस एरिया में गश्त करने के लिए पीसीआर, राइडर तक लगे हुए हैं। यह चोरी रात के समय पर की गई है, जबकि नियमों के अनुसार रात के समय वैध माइनिंग तक नहीं हो सकती है। ऐसे में अवैध माइनिंग के टिप्परों को पुलिस ने रोका ही नहीं। सूत्रों के अनुसार अवैध माइनिंग करने वालों को राजनीतिक शह मिली हुई है।

स्टोन क्रशरों की बैक में नदी, बहुत आसान है अवैध माइनिंग करना: अभी तक खेतपुराली, रायपुररानी, बरवाला, चंडीमंदिर, बुर्ज कोटिया सहित कई नदियों से ग्रेवल चोरी किया गया है। इस पूरे खेल में माइनिंग माफिया, स्टोन क्रशर और स्क्रीनिंग प्लांट मालिकों का गठजोड़ बना हुआ है। इन प्लांट्स को जानबूझकर नदियों के किनारे लगाया जाता है, ताकि ग्रेवल को चोरी कर प्लांट्स पर लाया जाए।

वहीं, रात के समय में होने वाली चोरी को रोकने के लिए पुलिस भी कार्रवाई नहीं करती। साथ ही जब प्लांट्स पर चोरी का ग्रेवल आ जाता है, तो जल्द से जल्द उसमें से बजरी, बड़े पत्थर, छोटे पत्थर, रेत को अलग-अलग कर दिया जाता है, जिसके बाद ये एक नंबर का मैटीरियल बन जाता है। माइनिंग टीम की सर्वे रिपोर्ट को हेड ऑफिस भेजा गया है। जहां इन लोगों पर जुर्माना लगाए जाने के बारे में पूछा गया है। वहीं, पुलिस को इस मामले की शिकायत दी गई है। जिस पर पुलिस ने दोनों स्टोन क्रशर मालिकों के खिलाफ आईपीसी की धारा 379, माइनिंग एंड मिनरल्स एक्ट 21(4) के तहत मामला दर्ज किया है।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज रिश्तेदारों या पड़ोसियों के साथ किसी गंभीर विषय पर चर्चा होगी। आपके द्वारा रखा गया मजबूत पक्ष आपके मान-सम्मान में वृद्धि करेगा। कहीं फंसा हुआ पैसा भी आज मिलने की संभावना है। इसलिए उसे वसूल...

और पढ़ें

Advertisement