बरवाला एरिया / दोबारा से माफिया सक्रिय हुआ, पुलिस ने अवैध माइनिंग करते हुए दो ट्रैक्टर ट्रॉलियों को किया जब्त

बरवाला एरिया में हुई दोबारा से माइनिंग माफिया वाला क्षेत्र। बरवाला एरिया में हुई दोबारा से माइनिंग माफिया वाला क्षेत्र।
X
बरवाला एरिया में हुई दोबारा से माइनिंग माफिया वाला क्षेत्र।बरवाला एरिया में हुई दोबारा से माइनिंग माफिया वाला क्षेत्र।

  • रत्तेवाली एरिया में हो रही माइनिंग के विराेध में आए लोग, कहा- पानी का लेवल हो जा रहा कम

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

पंचकूला. बरवाला एरिया में अब दोबारा से माइनिंग माफिया सक्रिय होता जा रहा है। क्योंकि अब लीज माइनिंग की आड़ में दोबारा से अवैध माइनिंग का खेल चल रहा है।
 कुछ दिन पहले रत्तेवाली में शुरू की गई माइनिंग का ओर जहां लोगों की ओर से विरोध किया जा रहा है। वहीं दूसरी आेर अब बरवाला की नदियों से माईनिंग करने के मामले भी सामने आए हैं। जिसके चलते पुलिस ने अवैध माइनिंग करते हुए दो ट्रैक्टर ट्रॉलियों को पकड़ा है।
असल में रत्तेवाली के पास सरकार से लीज पर ली गई माइनिंग का आसपास के लोगों ने विरोध किया है। जिसमें लोगों की ओर से बताया गया है, कि यहां माईनिंग करने से उनके आसपास के एरिया को नुकसान है। उनके यहां पानी का लेवल कम होता चला जाएगा। जिसके कारण भविष्य में खेती करने के लिए भूमिगत पानी नहीं रहेगा। इस लिए यहां से माइनिंग को बंद किया जाना चाहिए। वहीं दूसरी ओर इस लीज माइनिंग की आड़ में अब अवैध माइनिंग को किया जा रहा है। इसके लिए अधिकारियों से सेटिंग की जा रही है।
पुलिस ने कार्रवाई करते हुए बाकी एरिया में गश्त को बढ़ाने के लिए कहा गया है
वहीं दूसरी ओर चंडीमंदिर पुलिस थाना एसएचओ ने यहां बरवाला एरिया में अवैध माइनिंग करते हुए दो ट्रैक्टर ट्रॉलियों को इंपाउंड किया है। जिसके बाद उन्हें यहां सेक्टर-23 स्थित चंडीमंदिर थानेे में खड़ा करवाया गया है। अलीपुर इंडस्ट्रियल एरिया के पास लगती नदी से माईनिंग को किया जा रहा था। जबकि एक अन्य जगह पर नदी से माइनिंग की जा रही थी। जिसके बाद पुलिस ने दोनों पर कार्रवाई करते हुए बाकी एरिया में गश्त को बढ़ाने के लिए कहा गया है। वहीं माइनिंग डिपार्टमेंट की टीम ने इंलीगल माइनिंग से जुड़ा एक मामला दर्ज करवाया है। जिसमें सामने आया है, कि सेक्टर 25 निवासी परमिंदर सिंह की ओर से मिट्टी के परमिट को जारी करवाया था। जिसमें नाडा गांव के एरिया में 5600 मीटर के हिसाब से कुल 11,200 मीटर के परमिट जारी की किए गए थे। लेकिन जब यहां जांच की गई, तो सामने आया कि यहां से 110 फुट लंबाई, 110 फुट चौड़ाई और 14 फुट गहराई के हिसाब से खुदाई को किया गया है।

वहीं 100 फुट लंबाई, 100 फुट चौड़ाई, 14 फुट गहराई की खुदाई को किया गया है। इसके अलावा यहां पर 200 फुट लंबाई, 60 फुट चौड़ाई, 14 फुट गहराई के हिसाब से कुल 18हजार 480 मीटर के हिसाब से खनन किया है। इस दौरान 7 हजार 280 मीटर ज्यादा माइनिंग को किया गया है। जिसके बाद इस बारें में नोटिस जारी किया गया था, लेकिन इस पर कोई भी जवाब नहीं दिया गया। ऐसे में अब माइनिंग डिपार्टमेंट की ओर से सेक्टर-23 स्थित चंडीमंदिर पुलिस थाने में परमिंद्र सिंह के खिलाफ आईपीसी की धारा 379, और 21 (4) माईन एंड मिनरल एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है।  

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना