धोखाधड़ी का मामला:जमीन के फर्जी डॉक्यूमेंट्स और आईडी पर 1 करोड़ से ज्यादा ठगे

पंचकूला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सेक्टर-7 थाने में 8 लोगों के खिलाफ केस दर्ज

जमीन मालकिन की फर्जी आईडी और फर्जी मालकिन को खरीददार के सामने खड़ी कर सेक्टर-7 के एक व्यक्ति के साथ करीब एक करोड़ रुपए की ठगी हुई है। पुलिस ने मामले में एक महिला को गिरफ्तार कर वीरवार को कोर्ट में पेश किया और कोर्ट ने महिला को तीन दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। आरोपी महिला का नाम दयावंती है जो कि करनाल की रहने वाली है।

सेक्टर-7 निवासी मुकेश कुमार की शिकायत पर पुलिस ने महिंदर सिंह, सतवंत कौर, सुखदेव सिंह, बलजिंदर, वीरेंद्र, मास्टर, देवेंदर और विजेंद्र के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला सेक्टर-7 पुलिस थाना में दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। शिकायतकर्ता मुकेश ने बताया कि वह अपने बिजनेस पार्टनर विवेक बंसल के साथ रायपुररानी में गोदाम खरीदने के सिलसिले में जमीन तलाश रहे थे।

उसी दौरान एक प्रॉपर्टी डीलर मुलखराज ने उन्हें नारायणपुर में एक जमीन दिखाई और उस जमीन के मालिक का नाम सुखदेव सिंह बताया जो कि पिंजौर में रहता था। जमीन के सिलसिले में शिकायतकर्ता अपने दोस्त के साथ सुखदेव सिंह के घर पहुंचे और वहां पर उनकी मुलाकात आरोपियों से हुई।

जहां पर शिकायतकर्ता को जमीन के फर्जी डॉक्यूमेंट्स दिखाए और फर्जी मालकिन को भी शिकायतकर्ता के समक्ष पेश किया, जिसके बाद 103 कनाल 14 मरले जमीन का सौदा हुआ और शिकायतकर्ता ने एडवांस के तौर पर 20 लाख रुपए कैश दिए और बाकी 78 लाख रुपए का चेक दिया। इसके बाद आरोपी रजिस्ट्री से मुकरने लगे।

ऐसे हुआ खुलासा

शिकायतकर्ता ने बयाना के बाद अपने जानकार लेखराज को मौके पर भेजा। लेखराज को जमीन पर एक व्यक्ति बिजाई करते हुए मिला जिसने कहा कि यह जमीन न ही किसी ने बेची है न ही किसी ने खरीदी है। लेखराज ने उस व्यक्ति से जमीन के असली मालिक का मोबाइल नंबर लिया। जिसके बाद शिकायतकर्ता की जमीन मालकिन सतवंत कौर के असली बेटे मोहिंदर सिंह से बात हुई और उन्होंने कहा कि उन्होंने जमीन नहीं बेची है और न ही किसी से बात हुई है।

खबरें और भी हैं...