पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

धोखाधड़ी:रिटायर्ड कर्नल को साइकिल खरीदने का झांसा देकर अकाउंट से निकाले एक लाख से ज्यादा

पंचकूलाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • ठग ने आर्मी जवान की आईडी भेजकर खुद की बताई थी पहचान

खुद को बीएसएफ का जवान बताकर डीएलएफ निवासी रिटायर्ड कर्नल से साइकिल खरीदने का झांसा देकर धोखाधड़ी को ठगों ने अंजाम दे दिया। अब रिटायर्ड कर्नल की शिकायत पिंजौर पुलिस थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है। जिसके चलते अब पुलिस और साइबर सैल की टीम काम कर रही है।

असल में रिटायर्ड कर्नल आरके श्योराण ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उन्होंने ओएलएक्स पर अपनी साइकिल बेचने की फोटो डाली थी। जिसके बाद उनके पास एक कॉल आई और बताया कि वह उनकी साइकिल खरीदना चाहता है। ऐसे में पहचान की तौर पर आरोपी ने बीएसएफ जवान की आईडी का इस्तेमाल किया और आईडी को सोशल मीडिया के जरिये भेज दिया।

डीएलएफ निवासी रिटायर्ड कर्नल ने वेबसाइट पर डाला था विज्ञापन
श्योराण ने बताया कि इसके बाद कॉल करने वाले ने उन्हें कहा था कि वह पेटीएम के जरिए ही सारी पेमेंट करेगा। सौदा होने के बाद कहा कि वह पेटीएम के लिए स्वाइप मशीन का इस्तेमाल करेगा। उसके बाद आईडी के तौर पर बीएसएफ का आईकार्ड भेज दिया। आरोपी ने कहा कि स्वाइप मशीन से पेमेंट करने के लिए आपको पहले 5 रुपए उसके पास भेजने होंगे।

जिस पर श्योराण ने ऐसा ही किया, जिसके बाद उसने 10 रुपए वापस डलवा दिए। जिस पर श्योराण को लगा कि ये प्रोसेस सही होगा। कहा कि उसके अकाउंट में 2 हजार रुपए डाल दो, जिसके बाद वह 4 हजार रुपए वापस डाल देगा।

श्योराण के ऐसा करने के बाद उसने कई बार कुछ कोड, नंबर की जानकारी मांगी और कुल मिलाकर एक लाख दो लाख रुपए उनके अकाउंट से निकलवा लिए गए। शिकायत करने पर पुलिस ने मामला दर्ज कर साइबर सैल को मामले की जांच में हेल्प करने के लिए कहा है। जिस व्हाट्स एप नंबर, अकाउंट नंबर से संपर्क किया था। उसकी जांच की जा रही है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी विशिष्ट कार्य को पूरा करने में आपकी मेहनत आज कामयाब होगी। समय में सकारात्मक परिवर्तन आ रहा है। घर और समाज में भी आपके योगदान व काम की सराहना होगी। नेगेटिव- किसी नजदीकी संबंधी की वजह स...

    और पढ़ें