पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बिडिंग:एनआईए का हुआ टेंडर फाइनेंशियल बिड 23 को

पंचकूला6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद का फरवरी से होगा काम शुरू
  • टाटा कंसल्टेंसी समेत 15 कंपनियों ने बिडिंग में लिया भाग

एमडीसी माता मनसा देवी मंदिर परिसर में बनने वाले नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद का काम फरवरी महीने से शुरू हो जाएगा। 8 जनवरी को प्रोजेक्ट का टेंडर किया गया। पहले फेज के तहत 250 करोड़ का टेंडर किया गया है और उसका फाइनेंशियल बिड 23 जनवरी को खुलेगा। इस प्रोजेक्ट के लिए टाटा ग्रुप समेत 15 कंपनियों ने भाग लिया है।

कंपनियों की ओर से सरकार से टेंडर कॉल करने से फाइनेंशियल बिड खोलने के बीच 15 दिन का समय मांगा गया है ताकि उस दौरान नॉन डीएसआर आइटम का कंपनियों द्वारा मार्केट रेट पता किया जा सके। प्रोजेक्ट के लिए दिल्ली, राजस्थान, गुजरात, कटक, चंडीगढ़, मोहाली सहित अन्य जगहों की 15 कंपनियों ने भाग लिया हैै।

एनआईए जयपुर के डायरेक्ट और प्रोजेक्ट के इंचार्ज डॉ. संजय शर्मा ने बताया कि 8 को टेंडर किया है और महीने के अंत तक फाइनेंशियल बिड खोली जाएगी। फरवरी से काम शुरू किया जाएगा। गौरतलब है कि नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद के लिए करीब 500 करोड़ रुपए खर्चे जाएंगे।

केंद्रीय आयुष विभाग ने दिल्ली की वेबकॉस कंपनी को प्रोजेक्ट कंसल्टेंट के तौर पर रखा है। पहले फेज में 250 करोड़ रुपए का टेंडर किया और दूसरे फेज के तहत बाकी पैसे खर्च होंगे।

पहले फेज के तहत करीब 250 करोड़ का हुआ टेंडर, करीब 500 करोड़ होंगे खर्च

साइट पर पहुंचे थे सर्वेयर...

शनिवार को एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के सर्वेयर नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद की साइट का दौरा किया। सर्वेयर ने प्रोजेक्ट के तहत बनने वाले मकानों की ऊंचाई कितनी होगी इस संबंध में पूरी जानकारी ली। डॉ. संजय शर्मा ने बताया कि एयरपोर्ट अथॉरिटी से क्लीयरेंस लेना पड़ता है और उसी सिलसिले में ये सर्वेयर आते हैं। चूंकि पहले से ही एमडीसी एरिया में ज्यादा ऊंचाई की इमारतें है ऐसे में हमें क्लियरेंस मिलने में कोई समस्या नहीं आएगी।

250 बेड का जनरल वार्ड बनेगा | इंस्टीट्यूट की इमारत में 250 बेड का जनरल वार्ड, 25 कंसल्टेशन कमरे, पंचकर्मा थैरेपी हॉल, प्राइवेट पंचकर्मा थैरेपी रूम, इमरजेंसी , रेडियोलोजी, लैब, योगा हॉल, फिजियोथैरेपी, एडमिनिस्ट्रेटिव ब्लॉक, एक मेजर ऑपरेशन थिएटर, एक शालक्या ओटी, एक लेबर ओटी, 2 माइनर ओटी, प्री-ओपी वार्ड, पोस्ट ओपी वार्ड, डाइट सेंटर किचन के साथ, लॉन्ड्री बनेगी।

ये बनेगा इंस्टीट्यूट में...

कॉलेज बिल्डिंग में 21 क्लास रूम, 1 सेमिनार हॉल, एडमिनिस्ट्रेशन डिपार्टमेंट, 1 लाइब्रेरी, कैंटीन, ऑफिस, वर्कस्टेशन, नॉन टीचिंग स्टाफ, 15 लेबोरेट्रीज, 7 म्यूजियम, 1 एग्जामिनेशन हॉल, 16 डिपार्टमेंट्स होंगे। ऑडिटोरियम बिल्डिंग, 80-80 लड़के व लड़कियों के लिए यूजी हॉस्टल, 34-34 लड़के व लड़कियों के लिए पीजी हॉस्टल, 27 इंटरनेशनल स्टूडेंट्स के लिए हॉस्टल, 6 गेस्ट रूम, डायरेक्टर बंग्लो, टाइप टू से टाइप 5 तक के 96 क्वार्टर, शॉपिंग सेंटर, बेसमेंट पार्किंग, मॉर्चरी, स्टाफ चेंजेज एरिया भी बनेंगे।

अप्रैल 2016 में हुई थी घोषणा

  • 24 अप्रैल 2016 सीएम ने पंचकूला में आयोजित विकास रैली में एमडीसी माता मनसा देवी परिसर में नेशनल इंस्टीट्यूट आयुर्वेदा, योगा एंड नैचुरोपैथी बनाने की घोषणा की थी।
  • 10 मार्च 2017 लैंड ट्रांसफर की जानकारी भारत सरकार के आयुष मंत्रालय को दी और उसके बाद उनकी ओर से अफसरों को लैंड ट्रांसफर की कार्रवाई के लिए भेजा।
  • 27 अप्रैल 2017 प्रशासनिक अधिकारियों के मौजूदगी में श्राइन बोर्ड की ओर से आयुष विभाग को 20 एकड़ जमीन ट्रांसफर की गई।
  • जुलाई 2017 आयुष मंत्रालय ने 500 करोड़ दो फेज में खर्चने के लिए फंड की अप्रूवल दे दी थी।
  • सितंबर 2018 केंद्रीय आयुष मंत्रालय ने दिल्ली की कंसल्टेंट कंपनी को हायर किया गया।
  • अक्टूबर 2018 कंसल्टेंट कंपनी के इंजीनियर्स दिल्ली से पंचकूला इंस्टीट्यूट की साइट पर पहुंचे और साइट का मुआयना भी किया।
  • 12 फरवरी 2019 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुरुक्षेत्र से पंचकूला में बनने वाले इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद का शिलान्यास किया।
  • फरवरी 2020 में आर्मी की ओर से क्लियरेंस दे दिया गया।
  • 2020 अगस्त में ड्राइंग फाइनल की।
  • 2020 अक्टूबर में प्रोजेक्ट के लिए राशि वेबकॉस कंपनी को ट्रांसफर कर दिया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज परिस्थितियां अति अनुकूल है। कार्य आसानी से संपन्न होंगे। आपका अधिकतर ध्यान स्वयं के ऊपर केंद्रित रहेगा। अपने भावी लक्ष्यों के प्रति मेहनत तथा सुनियोजित ढंग से कार्य करने से काफी हद तक सफलत...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...

  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser