पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आयोजन:भूकंप की दृष्टि से पंचकूला जोन-4 में, अधिकारियों को बताए बचाव के गुर

पंचकूलाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • डीसी ऑफिस में एक दिवसीय ओरियेंटेशन कम कोर्डिनेशन कांंफ्रेस का हुआ आयोजन

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन के तहत डीसी ऑफिस में एक दिवसीय कोर्डिनेशन कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया। इस कॉन्फ्रेंस की अध्यक्षता उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने की। कॉन्फ्रेंस में अधिकारियों को भूकंप आने पर किस प्रकार से तत्काल कार्रवाई की जाए इसके बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। उन्होंने बताया कि जिले में सात सदस्यों की जिला स्तरीय आपदा प्रबंधन ऑथोरिटी का गठन किया गया है।

इसमें उपायुक्त चेयरपर्सन, जिला परिषद के चेयरमैन सह चेयरमैन, अतिरिक्त उपायुक्त-मुख्य कार्यकारी अधिकारी, पुलिस उपायुक्त, सिविज सर्जन, अधीक्षक अभियंता लोक निर्माण विभाग व जिला राजस्व अधिकारी को सदस्य मनोनीत किया गया है। यह अथॉरिटी प्लानिंग, कोर्डिनेशन के अलावा सभी तरह के आपदा प्रबंधन को लेकर राज्य और राष्ट्रीय अथॉरिटी से समन्वय स्थापित करेगी।

कॉन्फ्रेंस में एसडीएम कालका राकेश संधु, नगराधीश धीरज चहल, जिला राजस्व अधिकारी नरेश कुमार, रैडक्रास सचिव सविता अग्रवाल, प्रोजेक्ट ऑफिसर आपदा प्रबंधन अनिता ठाकुर, एनडीआरएफ चण्डीमंदिर टीम के अधिकारियों सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे। डीसी मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि जिला आपदा प्रबंधन कमेटी का भी गठन किया गया है।

जिसमें उपायुक्त व अतिरिक्त उपायुक्त के अलावा महाप्रबंधक रोडवेज, एसडीएम, कार्यकारी अभियंता जनस्वास्थ्य, जिला शिक्षा अधिकारी, जिला खाद्य एवं पूर्ति नियंत्रक, जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी, सिविल सर्जन, जिला आयुर्वेदिक अधिकारी व नगरनिगम के कार्यकारी अधिकारी, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी को सदस्य बनाया गया है।

बैठक में एनडीआरएफ के डिप्टी कमाण्डेंट कुलेश आनन्द ने विस्तार से इंसीडेंट रिस्पोंस सिस्टम के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि पंचकूला जोन-4 में आता है। इसलिए भूकंम्प आने के अधिक चांस होते है।

आपदा के समय इंसीडेंस कमांड का होता है अहम रोल

आपदा के समय इंसीडेंट कमांडर का अहम दायित्व होता है और दुर्घटना स्थल पर सभी आवश्यक उपकरण, पोस्ट, स्वास्थ्य सेवाएं, एंबुलेंस, खाद्य आपूर्ति आदि त्वरित गति से पहंुचाना सुनिश्चित करते हैं। इसके अलावा आॅपरेशन, लोजिस्टिक सेक्शन रिर्सोस यूनिट के बारे में भी जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि एनडीआरएफ की देशभर में 13 टीमें गठित की गई हैं जो किसी भी तरह की आपदा होेने पर तत्काल संबधित क्षेत्र में कार्य एवं मदद करने के लिए तत्पर रहती हैं। इन टीमों को तुरंत जान व माल की सुरक्षा करना अनिवार्य है। उन्होंने बताया कि नेहरू युवा केंद्र के युवाओं को आपदा प्रबंधन को लेकर प्रशिक्षण दिया गया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर विजय भी हासिल करने में सक्षम रहेंगे। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से ...

और पढ़ें