पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कायाकल्प स्कीम:कबूतर काटेंगे जनरल हाॅस्पिटल के नंबर, चेकिंग में मिले पंख और बीट

पंचकूलाएक महीने पहलेलेखक: संदीप कौशिक
  • कॉपी लिंक
  • टीम की चेकिंग में मिले पंख और बीट, छताें की फाॅल सीलिंग से भी आ रही थी गूटर-गूं की आवाजें

जनरल अस्पताल की कायाकल्प में अब कबूतराें ने अपनी टांग अड़ा दी है। अस्पताल की काया बदलने के लिए जिस टीम ने बुधवार काे यहां पर विजिट किया, उन्हें मरीजाें के कमराें की छताें पर कबूतर भी मिले। कमराें के अंदर और खिड़कियाें के ऊपर कबूतराें के पंख और गंदगी भी मिली।

ऐसा नहीं है कि इस बारे में अस्पताल काे पता नहीं था, पता हाेने के बावजूद ऐसे हालात थे। अस्पताल काे पता था कि अगर चेकिंग में नंबर कटेंगे ताे इन कबूतराें के कारण ही कटेंगे। जिसके बाद अब इन कबूतराें काे यहां से हटाने के लिए भी काम शुरू किया जाना है।

दरअसल, मंगलवार काे सेक्टर 6 के जनरल अस्पताल में कायाकल्प अभियान के तहत अंबाला की डाॅक्टराें की टीम ने विजिट किया। इस दाैरान टीम में एएसएमओ डाॅ. अनुराग, डिस्ट्रिक्ट क्वालिटी मैनेजर विशाल, अनुदीप और डाॅ. शालिनी शामिल थी।

अस्पताल की ओर से पीएमओ डाॅ. सुवीर सक्सेना, डाॅ. रीटा कालरा, डाॅ. माेनीषा, डाॅ. अरविंद सहगल भी माैजूद रहे। जिन्हाेंने जनरल अस्पताल में क्वालिटी काे लेकर चेकिंग की। इस दाैरान अस्पताल के अलग अलग वार्ड, फ्लाेर पर भी चेकिंग की।

डाॅ. रीटा कालरा ने बताया कि इस बार कायाकल्प की टीम काे पहले से बेहतर बंदाेबस्त मिले है। काेराेना काल में काफी ज्यादा मरीजाें काे एडमिट किया गया था। दवाइयाें का छिड़काव करने से भी दीवाराें से साइन बाेर्ड हट गए थे, जिन्हें ठीक करवाया गया।

फिर भी 2020 से बेहतर मिली सेक्टर-6 जनरल हॉस्पिटल में क्वालिटी

इस बार बेशक अस्पताल में कबूतराें काे लेकर नंबर कट सकते है, लेकिन इस साल पिछले साल की बजाय ज्यादा क्वालिटी बेहतर मिली है। पिछले साल काेविड के काफी ज्यादा मरीज एडमिट थे, हर जगह स्प्रे हाे रहा था। जिस कारण दिवाराें से रंग उड़ गया था। जहां मरीजाें की सुविधा के लिए साइन बाेर्ड लगाए गए थे, वाे उखड़ गए थे।

दवाई के छिड़काव से अलमारियाें तक का रंग फीका पड़ गया। वहीं, अब अस्पताल में दाेबारा से मरीजाें के लिए साइन बाेर्ड लगाए गए थे। हर जगह पर दिवाराें काे ठीक किया गया था, अब सिर्फ वाे जगह बच गई है, जहां पर सीलन आ रखी है। जिसके लिए भी काम चल रहा है। पंचकूला के जनरल अस्पताल काे कायाकल्प का दाे बार पहला इनाम 50 लाख रुपए मिल चुका है।

खबरें और भी हैं...