पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लापरवाही:डंपिंग ग्राउंड चौक पर एक हफ्ते से नहीं जल रहीं स्ट्रीट लाइटें

पंचकूला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सेक्टर-24 के डंपिंग ग्राउंड चौक पर बंद पड़ी स्ट्रीट लाइटें।  		फोटो : भास्कर - Dainik Bhaskar
सेक्टर-24 के डंपिंग ग्राउंड चौक पर बंद पड़ी स्ट्रीट लाइटें। फोटो : भास्कर
  • लोगों ने की मरम्मत की मांग, कहा- रात को लावारिस पशु अचानक आते हैं सड़कों पर और गाड़ी से टकरा जाते हैं

सेक्टर 24 के डंपिंग ग्राउंड चौक पर पिछले कुछ दिनों से रात के समय लाइट नहीं जल रही। इसके अलावा डंपिंग ग्राउंड से बंदर घाटी की साइड जाने वाली हाईवे से कनेक्ट होने वाली सड़क पर भी अंधेरा होने से लोग परेशान हैं। इस रूट पर कुछ दिनों तक लाइट जलती है और बाद में दोबारा से लाइट बंद हो जाती है।

यहां पर रात के समय आवारा पशु डंपिंग ग्राउंड से सड़क पर आ जाते हैं जिससे लोगों को हादसे होने का डर रहता है। सेक्टर-26 आरडब्ल्यूए के प्रधान धर्म सिंह की ओर से हाल ही में निगम कमिश्नर को भी इस बारे में शिकायत दी गई थी। इसमें उन्होंने बताया था कि अगर बार के सेक्टरों में कुछ सड़कें ऐसी हैं जो हाईवे से भी कनेक्ट हो रही है और रात के समय उन पर लाइटें भी नहीं जलती। धर्म सिंह ने बताया कि आजकल धुंध पड़ने से हादसे का ज्यादा खतरा बढ़ गया है।

घग्गर पार के सेक्टर्स में सड़कों के किनारे पर लगाए जाएंगे रिफ्लेक्टर
सेक्टर 25 में रहने वाले रवि दत्त शर्मा ने बताया कि घग्गर पार सेक्टरों में इन दिनों धुंध के कारण सड़क पर गाड़ी चलाना मुश्किल हो जाता है। कुछ सड़कें ऐसी हैं जहां पर न तो रिफ्लेक्टर लगाए गए और ना ही सड़क पर सफेद पटिया बनाई गई।

इस कारण रात के समय धुंध में गाड़ी चलाना काफी ज्यादा मुश्किल हो जाता है। निगम और एचएसवीपी की ओर से सड़कों किनारे रिफ्लेक्टर लगाने का काम किया जाना चाहिए और जहां पर सड़क पर सफेद पटिया नहीं बनाई गई उसके लिए भी काम किया जाए।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप प्रत्येक कार्य को उचित तथा सुचारु रूप से करने में सक्षम रहेंगे। सिर्फ कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा अवश्य बना लें। आपके इन गुणों की वजह से आज आपको कोई विशेष उपलब्धि भी हासिल होगी।...

    और पढ़ें