आभार / व्यापारियों की मांग पर हफ्ते में छह दिन दुकानें खुलवाने पर स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता का आभार जताया

Thanked Speaker Gyanchand Gupta for opening shops six days a week on the demand of traders
X
Thanked Speaker Gyanchand Gupta for opening shops six days a week on the demand of traders

  • पंचकूला के विधायक को सेक्टर-17 स्थित निवास पर जाकर उनकाे शाॅल, बुके और स्वामी दयानंद की फोटोग्राफ देकर सम्मानित किया

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

पंचकूला. शहर की विभिन्न मार्केटों के दुकानदारों ने शनिवार को हरियाणा विधानसभा के स्पीकर और पंचकूला के विधायक ज्ञानचंद गुप्ता के सेक्टर-17 स्थित निवास पर जाकर उनकाे शाॅल, बुके और स्वामी दयानंद की फोटोग्राफ देकर सम्मानित किया। व्यापारियों की मांग पर पंचकूला एडमिनिस्ट्रेशन के अफसरों से को-ऑर्डिनेट कर हफ्ते में शहर की छह दिन दुकानें खुलवाने पर स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता का आभार जताया गया। शहर के दुकानदारों की डिमांड पर पंचकूला में भी शुक्रवार से हफ्ते में छह दिन दुकानें खुलनी शुरू हो गई।

सांसद रत्नलाल कटारिया और हरियाणा विधानसभा के स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता के नेतृत्व में वीरवार की शाम को अफसरों के साथ हुई मीटिंग में यह फैसला लिया गया था। इस बारे में शुक्रवार की सुबह एडमिनिस्ट्रेशन ने नोटिफिकेशन कर दी गई थी। शनिवार को शहर में ज्यादातर दुकानें खुली। शनिवार से पंचकूला जिले में सैलून और पार्लर भी खोल दिए गए हैं। मोहाली एडमिनिस्ट्रेशन ने बीते रविवार और चंडीगढ़ एडमिनिस्ट्रेशन ने बीते सोमवार को हफ्ते में छह दिन दुकानें खोलने का फैसला किया था। पंचकूला एडमिनिस्ट्रेशन ने बीते मंगलवार की रात को कुछ दुकानें मंगलवार, वीरवार, शनिवार और कुछ दुकानें बुधवार, शुक्रवार और रविवार को खोलने का फैसला लिया था।

पंचकूला के दुकानदार एडमिनिस्ट्रेशन के हफ्ते में तीन दिन दुकानें खोलने का विरोध कर रहे थे। इन दुकानदारों का तर्क था कि महीने में 12 दिन काम कराने के बाद उन्हें अपने वर्कर को पूरे माह यानि 30-31 दिनों की सैलरी देनी होगी। यह घाटे का सौदा साबित होगा। मार्केट में पहले ही ग्राहक नहीं है। दो माह लॉकडाउन में दुकानें बंद होने के कारण भी घाटा उठाना पड़ा है। हफ्ते में तीन दिन दुकानें खुलने से कस्टमर भी खराब होगा। इससे पंचकूला की दुकानों के रेगुलर कस्टमर्स पड़ाेसी शहर चंडीगढ़ व जीरकपुर में खुली दुकानों में जाकर शॉपिंग करने लगेंगे।

इन दुकानदारों ने एडमिनिस्ट्रेशन के फैसले के खिलाफ सड़कों पर उतरने और अपनी चाबियां डिप्टी कमिश्नर को देने का ऐलान किया था। विभिन्न मार्केटों के दुकानदार बुधवार को एडमिनिस्ट्रेशन के इस फैसले के खिलाफ इक्ट्‌ठे होकर हरियाणा विधानसभा के स्पीकर और पंचकूला के विधायक ज्ञानचंद गुप्ता से उनके सेक्टर 17 स्थित निवास पर मिले थे। इन दुकानदारों का तर्क यह भी था कि चंडीगढ़ में पंचकूला के मुकाबले काफी ज्यादा कोरोना पॉजीटिव केस हैं। पंचकूला में केवल एक ही कोरोना पॉजिटिव केस रह गया है। ऐसे में अगर चंडीगढ़ में हफ्ते में छह दिन दुकानें खुल सकती है तो पंचकूला में क्यों नहीं। कोरोना महामारी के बढ़ते केस अभी रूकने वाले नहीं लग रहे।

सिंगल लेन मार्केट को भी 6 दिन खोलने की  हो परमिशन

शुक्रवार को रैली मार्केट एसोसिएशन के मेंबर्स मार्केट के दुकानों को 6 दिन खोलने की परमिशन को लेकर विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता से मिले। एसोसिएशन के मेंबर्स ने विधानसभा अध्यक्ष से कहा कि रैली मार्केट में कुल 30 दुकानों और सभी एक लेन में है। किसी भी दुकान के आमने-सामने कोई दुकान नहीं है। ऐसे में जिला प्रशासन की ओर से तीन दिन के बजाए 6 दिन दुकान खोलने की परमिशन उन्हें दी जाए। मार्केट एसोसिएशन के मेंबर्स की बात सुनने के बाद विधानसभा अध्यक्ष ने उनसे कुछ समय देने को कहा, ताकि वह उनकी समस्या के संदर्भ में प्रशासनिक अधिकारियों की मीटिंग बुलाकर रिव्यू कर सकें। इस मौके पर रैली मार्केट एसोसिएशन के चेयरमैन एसके पुरी, प्रधान सुरेश मित्तल, सेक्रेटरी उज्जवल गोयल, कैशियर सतीश गुलाटी सहित एसोसिएशन के करीब दर्जनभर मेंबर्स मौजूद रहे।

शहर की मेन मार्केट हफ्ते में 6 दिन फिर रैली मार्केट 3 दिन क्यों

रैली मार्केट एसोसिएशन के मेंबर कौशल गर्ग ने कहा कि जब प्रशासन की ओर से शहर की मेन मार्केट को हफ्ते में 6 दिन खोेलने की परमिशन दी गई है तो रैली मार्केट की दुकानों को तीन दिन की परमिशन क्यों। उन्होंने कहा कि रैली मार्केट में एक लाइन में यू शेप में कुल 30 दुकानें हैं। यहां तक कि दुकानों के सामने पार्किंग स्पेस भी है। फिर भी जिला प्रशासन की ओर से 3 दिन ही मार्केट खोले जाने की परमिशन दी गई है।

नुकसान में चल रहे हैं दुकानदार

एसोसिएशन के चेयरमैन एसके पूरी और प्रधान सुरेश मित्तल ने बताया कि एक तो कोरोना की वजह से दुकानदार काफी नुकसान में चल रहे हैं और उनका सामान भी खराब हो रहा है। दूसरी ओर जिला प्रशासन की ओर से रैली मार्केट के दुकानों को 3 दिन खोलने का गलत निर्णय लेने की वजह से दुकानदारों को और नुकसान सहना पड़ रहा है। प्रशासन को रैली मार्केट को 6 दिन खोलने की परमिशन दे और एसोसिएशन की ओर से सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करने की जिम्मेदारी लें।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना