पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सुखदर्शनपुर में डॉग पॉन्ड का उद्‌घाटन 5 फरवरी को:500 स्ट्रे डॉग्स रख सकेंगे यहां, बीमार कुत्तों के लिए मेडिकल यूनिट भी होगी

पंचकूला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सुखदर्शनपुर में डॉग पॉन्ड के काम का जायजा लेते मेयर कुलभूषण गोयल। - Dainik Bhaskar
सुखदर्शनपुर में डॉग पॉन्ड के काम का जायजा लेते मेयर कुलभूषण गोयल।
  • मेयर कुलभूषण गोयल ने किया मौके का दौरा, काम जल्द से जल्द पूरा करने के दिए निर्देश

नगर निगम की ओर से सुखदर्शनपुर गांव में बनाए जा रहे स्ट्रे डॉग्स रेस्क्यू एंड रिहैबिलिटेशन सेंटर का उद्‌घाटन 5 फरवरी को होना है। इसके लिए साइट पर निर्माण कार्य जोर-शोर से चल रहा है। मेयर कुलभूषण गोयल ने शनिवार को साइट का दौरा किया और तय अवधि से पहले काम पूरा करने के निर्देश दिए।

सुखदर्शनपुर गांव में पूर्व कैबिनेट मंत्री कविता जैन ने 3 दिसंबर 2018 को डॉग पॉन्ड की नींव रखी थी। इसका काम एक साल में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया था, लेकिन निगम अफसरों के ढुलमुल रवैये के कारण इसका निर्माण कार्य लेट होता रहा है। अभी सेक्टर-3 में पेट एनिमल सेंटर है, जहां बीमार कुत्तों का इलाज किया जाता है। ट्रे डॉग्स के हेल्थ चेकअप के लिए डॉक्टरों की टीम होगी। ओपीडी, इमरजेंसी रूम व मेडिसिन सेंटर भी होगा। खेलने के लिए प्ले एरिया डेवलप किया जाएगा। यहीं पर स्ट्रे डॉग्स को ट्रेंड भी किया जाएगा। डॉग्स के किचन, कैनाल स्पा की भी सुविधा होगी। शुरुआत में 500 स्ट्रे डॉग्स यहां रखे जाएंगे, यह संख्या धीरे-धीरे 1000 की जाएगी।

डॉग हॉस्टल भी बनेगा

यहां कैनाल हाउस में डबल स्टोरी एडमिनिस्ट्रेटिव ब्लॉक बनेगा। यहां स्टाफ के लिए डबल स्टोरी हाउस भी बनाए जाएंगे। स्टाफ के लिए रिटायरिंग रूम भी होंगे। यहां डॉग्स के लिए हॉस्टल भी बनाया जा रहा है। शहर से बाहर जाने वाले लोग अपने कुत्तों को कुछ दिनों के लिए यहां छोड़ सकेंगे हालांकि, इसके बदले में उन्हें प्रतिदिन के हिसाब से किराया चुकाना होगा। किराया कितना होगा, यह तय किया जा रहा है। डॉग पॉण्ड में घायल व बीमार कुत्तों का इलाज भी होगा।

इसलिए जरूरी है यह सेंटर

आवारा कुत्तों के कारण शहर में डॉग बाइट के केस काफी ज्यादा हैं। शहर में रोजाना ऐवरेज डॉग बाइट के आठ से दस केस सामने आते हैं। स्ट्रे डॉग्स के टू व्हीलर्स के पीछे भागने पर वाहन को बैलेंस बिगड़ने पर गिरने से कई लोग टांग बाजू भी तुड़वा चुके हैं। स्टरलाइजेशन करने वाली एजेंसी को रूल्स के मुताबिक डॉग्स की स्टरलाइजेशन के बाद उसे वहीं वापस छोड़ना होता है, जहां से उसे पकड़ा गया था। सेंटर बनने पर स्ट्रे डॉग्स को यहां छोड़ने से समस्या का समाधान हो सकेगा। हर सेक्टर में लगभग 50 से 70 कुत्ते हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों में आपकी व्यस्तता बनी रहेगी। किसी प्रिय व्यक्ति की मदद से आपका कोई रुका हुआ काम भी बन सकता है। बच्चों की शिक्षा व कैरियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी संपन...

    और पढ़ें