पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नगर निगम के प्रति रोष:अब्बदुलापुर में धर्मशाला का काम पिछले दो साल से अधर में लटका

पिंजौर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • धर्मशाला की जर्जर हालत, लोगों ने कहा-कार्यक्रम करने के लिए इसी पर निर्भर

पिंजौर नगर निगम जोन के वार्ड 4 के अंर्तगत पड़ने वाले रत्तपुर अब्बदुलापुर के सैकड़ों लोगों ने श्मशानघाट और धर्मशाला को ठीक करवाने के लिए करीब दो साल पूर्व भाजपा नेता के माध्यम से नगर निगम में मांग की थी जिस पर आज तक कोई भी कारवाई नहीं हो पाई। दो साल से लोग इनके ठीक होने के इंतजार में बैठे है।

इसको लेकर जहां एक ओर लोगों का नगर निगम के प्रति रोष है। वहीं उन्होंने नगर निगम की कार्यशैली पर भी सवाल उठाए है। दो साल पूर्व 2018 में स्थानीय लोगों ने पचंकूला शिकायत निवारण कमेटी की बैठक में लोगों की मांग पर अब्बदुलापुर में जर्जर हालत श्मशानघाट व धर्मशाला को ठीक करवाने के लिए उस समय नगर निगम के जेई द्वारा इन दोनों के लिए करीब 47 लाख का एस्टीमेट भी बनाकर भेज दिया गया। परंतु कुछ दिन इस पर आगे कोई कार्रवाई नहीं हो पाई। जिस स्थानीय लोगों ने इसके लिए सीएम विंडो में इसकी शिकायत कर दी जहां पर उन्हें 28 नवंबर 2018 को नगर निगम द्वारा सीएम विंडो में दिए गए जवाब का पत्र मिला जिसमें नगर निगम के कार्यकारी अधिकारी द्वारा कहा गया कि रत्तपुर अब्बदुलापुर काॅलोनी पिंजौर के श्मशानघाट का अनुमान तैयार कर दिया गया है। विभागीय कार्रवाई पूर्ण होने के उपरांत कार्य करवा दिया जाएगा। इसमें श्मशानघाट के लिए 38 लाख और धर्मशाला के लिए 9 लाख रुपए का अनुमान बनाया गया।

वहीं पूर्व पार्षद लाजपत ने कहा कि श्मशानघाट के लिए उन्होंने नगरपालिका के समय अपने कार्यकाल में रास्ता बनवाया था जो भी उस समय काम हुआ उसके बाद नगर निगम ने वहां पर कोई भी काम नहीं किया जबकि इस समय श्मशानघाट की चारदीवारी नहीं है, अंदर कच्ची जगह है, लोगों के बैठने के लिए कोई भी शेड आदि भी नहीं है, इसके साथ ही एक डंगा भी लगाया जाना था। कहा कि अब्बदुलापुर हरिजन बस्ती में एक धर्मशाला है जो उन्होंने बनवाई थी उसकी हालत भी जर्जर हो चुकी है उसकी मरम्मत भी आज तक नगर निगम नहीं करवा पाया। यहां के लोग आर्थिक रूप से कमजोर है वो शादी और किसी शोक सभा का कार्यक्रम करने के लिए इसी पर निर्भर है परंतु धर्मशाला की हालत इतनी ज्यादा खराब है कि लोग यहां पर कुछ भी नहीं कर पाते। पूर्व पार्षद ने कहा कि उन्होंने इसी धर्मशाला में आगंनवाड़ी भी शुरू करवाई थी, हालत खराब होने के कारण छोटे-छोटे बच्चों को भी यहां पर काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

पूर्व पार्षद समेत काॅलोनी वासियों की मांग पर भाजपा महिला मोर्चा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य पवन कुमारी ने मौके पर पहुंचकर हालात देखे और कहा कि ऐसे जनहित के कार्यों में देरी करके या फिर ठंडे बस्ते में डालकर सरकार की छवि खराब की जा रही है। इस मामले को नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी से अवगत करवाकर इस पर जल्द समाधान करवाया जाएगा, इस काॅलोनी में अधिकतर वो लोग है जो आर्थिक रूप से कमजोर है इसलिए वो लोग किसी भी परिवारिक कार्यक्रम के लिए किसी पैलेस आदि में जाने से असमर्थ है, सरकार द्वारा बनाई गई यह धर्मशाला ही उनके लिए बड़ी सुविधा है, उधर श्मशानघाट को भी ठीक करवाने के लिए अधिकारियों से मांग की जाएगी।

इसके बारे में पहले ही नगर परिषद के जेई जतिन भारद्वाज कह चुके हैं कि उनके पास लोगोंं की मांग आई थी जिस पर अनुमान बनाकर ऊपर भेज दिया गया था जैसे ही ऊपर से कार्रवाई होकर फाइल आएगी तो काम शुरू हो जाएगा। स्थानीय हिमशिखा निवासी मोनिका मान ने कहा कि कालका हल्का में सैकड़ों करोड़ के विकास कार्यों की पोल खुल रही है। सरकार नगर निगम क्षेत्र में पड़ने वाले श्मशानघाट व धर्मशाला पर भी कोई ध्यान नहीं दे रही। मंहगाई बढ़ाने और टैक्स वसूलने के साथ लोगों की मूलभूत सुविधाओं पर भी सरकार ध्यान दे। दो साल से निगम इन दोनों कार्यों पर कोई कार्रवाई नहीं कर पाया। मान ने कहा कि हिमशिखा में भी एक धर्मशाला है जिसमें उन्होंने राज्यसभा सदस्य कुमारी शैलजा से 11 लाख रुपए लगवाकर उसमें काम करवाया था। उसके बाद किसी ने कोई सुध नहीं ली। अब इस मामले में आगे कार्रवाई कहा तक पहुंचने की जानकारी के लिए जब दुबारा जेई जतिन भारद्वाज को फोन किया गया तो उन्होंने फोन ही नहीं उठाया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser