पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आरयूबी का मामला:समर्थन में आई नंबरदार एसो. ने कहा, बिना किसी के नुकसान वाला काम हो

पिंजौर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पिंजौर-कालका रेलवे फाटक पर बन रहे आरयूबी से सैकड़ों दुकानों को हो रहे नुकसान को देखते हुए बड़े आरयूबी के विरोध में बैठी पिंजौर-कालका वेलफेयर एसो., मार्केट वेलफेयर एसो. पिंजौर व दुकानदारों को धरने पर बैठे हुए 18 दिन हो चुके है परंतु अभी तक संघर्ष कर रहे इन दुकानदारों को केवल आश्वासन ही मिला है।

जिसमें सबसे पहले हरियाणा में गठगंधन सरकार बनाने वाली सहयोगी जेजेपी पार्टी के जिलाध्यक्षो ने विगत 2 अक्टूबर को धरनास्थल पर पहुंचकर दुकानदारों का समर्थन करते हुए उनकी मांग को उपमुख्यमंत्री तक पहुंचाकर उसे जल्द दुकानदारों के हक में पूरा करवाने का आश्वासन दिया था। उसके बाद विगत 9 अक्टूबर को भाजपा जिलाध्यक्ष ने धरनास्थल पर आकर उनकी मांग के मुताबिक ही आरयूबी बनने का आश्वासन दिया था। परंतु दुकानदार नए सर्वे पर काम शुरू करने के सरकार के लिखित में आदेश आने की इंतजार कर रहे है जिसको लेकर उनका धरना 18वें दिन भी जारी रहा।

धरने पर बैठी एसोसिएशन व दुकानदारों का सर्मथन देने के लिए नंबरदार एसोसिएशन के प्रधान रघुबीर सोढ़ी अपने नंबरदारों के साथ धरनास्थल पर पहुंचे। जिसमें नंबरदार मनमोहन भट्टी, ताराचंद, अच्छर कुमार, हसंराज और गीताराम आदि भी मौजूद रहे। प्रधान सोढ़ी ने कहा कि पीडब्ल्यूडी विभाग को शुरू से ही उस प्रोजेक्ट पर काम शुरू करना चाहिए था जिसमें दुकानदारों व सरकार के रेवेन्यू का भी फायदा होता।

मौके पर मौजूद व्यापारी रविंद्र अरोड़ा ने कहा कि इन त्योहारों के दिनों में अपना कारोबार बंद करके यहां पर धरना देना किसी को भी ठीक नहीं लगता परंतु जब अपनी सारी जिंदगी लगाकर बनाई गई प्राप्ट्री व रोजी रोटी खत्म होने पर बात आ जाए तो मजबूरन उन्हें धरने पर बैठना पड़ रहा है।

खबरें और भी हैं...