पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

राष्ट्रीय राजमार्ग:पुराने पगडंडी वाले रास्ते को बंद करने पर लोगों ने जताया राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के प्रति रोष

पिंजौर5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पिंजौर के किसानों व स्थानीय लोगों का अस्थाई पगडंडी वाला रास्ता राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) द्वारा बंद किए जाने को लेकर लोगों में भारी रोष है। इस संदर्भ में शशि चौहान धर्मपत्नी कंवरपाल चौहान निवासी चौना चौक ने जिला पंचकूला उपायुक्त को लिखित पत्र द्वारा शिकायत दी है कि करीब 12 साल पहले उनकी जमीन खसरा नंबर 371 एनएचएआई द्वारा बनाए गए पिंजौर, कालका, परवाणू बाईपास मार्ग में

आई थी जिसके लिए 6 बीघा 13 बिस्वा सहित अन्य कई किसानों की जमीन अधिग्रहण की गई थी। शशि चौहान ने आरोप लगाया है कि उन्हें आज तक उक्त जमीन का मुआवजा नहीं मिला है। इसी संदर्भ में शशि चौहान ने अटैचमेंट ऑफ प्रॉपर्टी ए.डी.जे संजय सधीर पंचकूला की कोर्ट में याचिका दायर की थी जो कि अभी भी विचाराधीन है। शशि चौहान ने बताया कि एनएचएआई के अधिकारी इनके साथ किसी निजी रंजिश के

कारण उक्त अस्थाई पगडंडी रास्ता जो कि किसानों के खेत व स्थानीय लोगों के घरों को लगता है उसे जबरदस्ती बंद कर दिया गया है जबकि नियमानुसार जब तक मुआवजे की राशि शिकायतकर्ता को नहीं मिलती तब तक रास्ता बंद नहीं किया जा सकता। उन्होंने बताया कि वैसे भी पगडंडी का रास्ता करीब 40 साल पुराना है जहां से किसान अपने खेतों में काम करने जाते हैं जिसको लेकर स्थानीय लोगों में अवतार सिंह, जगतार सिंह, चतर सिंह, करतारा राम, प्रकाश चंद, डिंपी, अनवर, सोमनाथ, सोनू, राजकुमार गोरी विनोद कुमार, दिनेश, गुरबख्श ने कहा कि उन्हें रास्ते के बंद होने को लेकर काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

जिसकी जानकारी शशि चौहान ने राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के परियोजना निदेशक (एनएचएआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर) को लिखित पत्र के रूप में दे चुके हैं। इस संदर्भ में राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण परियोजना निदेशक प्रदीप अत्री से बात की गई तो उन्होंने कहा कि उक्त शिकायत कर्ता का यह रास्ता उनके प्रोजेक्ट प्लान में नहीं है, इससे अधिक जानकारी कार्यालय से प्राप्त कर सकते हैं।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें