पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

समस्या:पिंजौर-कालका मेन रोड की हालत जर्जर, नहीं ले रहा विभाग कोई सुध

पिंजौर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पिंजौर से कालका तक 7 किमी. में हजारों गड्‌ढे बने लोगों के लिए परेशानी का कारण

पिंजौर-कालका मेन रोड जहां पर सबसे बड़ी समस्या ट्रैफिक जाम की है जिसको बढ़ावा देने में सबसे ज्यादा अहम भूमिका पिंजौर-कालका के करीब 7 किमी लंबे मेन रोड पर हजारों गड्ढों की है। पिंजौर खाकीशाह मलंग पीर से लेकर कालका काली माता मंदिर तक करीब 7 किमी सड़क लंबी रोड में गड्‌ढाें के कारण वाहनों को जगह-जगह पर ब्रेक लगानी पड़ती है जिससे वाहनों की लंबी लाइनें लगी रहती है।

हैरानी की बात है कि पिछले करीब एक साल से ज्यादा हो गए इस रोड की हालत खराब है जबकि इस रोड से संबंधित पीडब्ल्यूडी विभाग के अधिकारी भी निकलते हैं फिर भी उन्होंने इस रोड को ठीक करने के बारे में कोई सुध नहीं ले रहे।

पिंजौर-कालका मेन रोड के गड्‌ढों के बारे में बात करने के लिए जब विभाग के एक्सईएन अभिषेक को फोन किया तो उन्होंने कहा कि वो मीटिंग में है । बाद में बात करेंगे, दो घंटे बाद फोन किया गया तो फोन ही नहीं उठाया। सोशल मीडिया पर मैसिज भी दिया गया फिर भी कोई जवाब नहीं दिया। उसके बाद शाम को भी फोन किया फिर भी फोन नहीं उठाया।

^पिंजौर कालका मेन रोड पर जहा ज्यादा गड्‌ढे हैं जैसे रतपुर के पास, रौनक होटल के पास और कालका बाजार से पहले रेलवे पुल के पास है। उन्हें भरा जाएगा। यह काम दो दिन बाद शुरू हो जाएगा। उसके बाद रोड के बाकी गड्ढे भरे जाएंगे।- परमजीत सिंह गिल, जेई

^बड़ी हैरानी की बात है कि क्षेत्र में सड़कों की जर्जर हालत को न तो विभाग गंभीरता से ले रहा है न ही सरकार, पिंजौर-कालका मेन रोड की जर्जर हालत को करीब एक साल से ज्यादा हो गया केवल पैच लगाकर या फिर गड्‌ढे भरकर विभाग द्वारा औपचारिकता ही निभाई जा रही है जबकि इस समय हालात ऐसे है कि इसकी कारेपटिंग की बहुत ज्यादा जरूरत है। इसके अलावा शहर में पिंजौर से लेकर मल्लाह व विराटनगर मेन रोड की हालत भी बहुत ज्यादा खराब है। - नरेश मान, कांग्रेसी नेता

^ पिंजौर-कालका मेन रोड के इन गड्‌ढों के कारण जहां एक ओर प्रतिदिन हजारों वाहनों को परेशानी हो रही है। वहीं इनके कारण दोनों शहरों के मेन बाजार में सैकड़ों दुकानदारों का कारोबार भी प्रभावित हो रहा है। क्योंकि रोड के गड्‌ढों के कारण दिन में ट्रैफिक प्रभावित रहता है जिससे दोनों मेन बाजारों में वाहनों की लंबी कतारें लगी रहती है और ग्राहक दुकान के आगे अपना वाहन तक नहीं खड़ा कर सकता और वो आगे निकल जाता है। - ललित गोयल, दुकानदार पिंजौर

^जब ज्यादा बड़े गड्‌ढे हो जाते है तो इन गड्‌ढों में संबंधित विभाग द्वारा मलवा भरवा दिया जाता है जिसके दो दिन बाद ही मलवा बाहर निकल जाता है और हालत फिर वही हो जाती है। इन गड्‌ढों के कारण वाहनों की जगह जगह ब्रेक लगने व जाम के कारण समय और तेल की भी बर्बादी हो रही है। पिंजौर में प्रवेश करते ही वाहनों को रोड के गड्‌ढों का सामना करना पड़ता है जिनका साथ कालका काली माता मंदिर तक बना रहता है। - संजीव कपिल, बिजनेसमैन

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- चल रहा कोई पुराना विवाद आज आपसी सूझबूझ से हल हो जाएगा। जिससे रिश्ते दोबारा मधुर हो जाएंगे। अपनी पिछली गलतियों से सीख लेकर वर्तमान को सुधारने हेतु मनन करें और अपनी योजनाओं को क्रियान्वित करें।...

और पढ़ें