कार्रवाई:एमसी की टीम ने फर्नीचर मार्केट से अवैध कब्जे हटाए

जीरकपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एमसी की टीम ने फर्नीचर मार्केट में एन्क्रोचमेंट पर कार्रवाई की। - Dainik Bhaskar
एमसी की टीम ने फर्नीचर मार्केट में एन्क्रोचमेंट पर कार्रवाई की।
  • विरोध में दुकानदारों ने सड़क जाम की, पुलिस ने आकर शांत किया मामला

बलटाना की फर्नीचर मार्केट में एन्क्रोचमेंट हटाने के लिए पहुंची एमसी की टीम को दुकानदारों के विरोध का सामना करना पड़ा। टीम के पहुंचने के बाद भी दुकानदारों ने दुकानों के आगे रखा फर्नीचर नहीं हटाया। जब एमसी की टीम ने कुछ सामान उठाकर एमसी की गाड़ी में रखा तो दुकानदारों ने गाड़ी को घेर लिया और सामान उतारने को कहा।

दोनों पक्षों में कुछ देर तक झगड़ा होता रहा। जब एमसी की टीम ने सामान नहीं लौटाया तो दुकानदार इकट्‌ठे होकर के-एरिया से बलटाना मार्केट की ओर आने वाली सड़क को जाम कर दिया। इसके बाद लोगों ने मामले की शिकायत बलटाना पुलिस चौकी में कर दी।

दुकानदारों ने करीब 10 मिनट तक सड़क ट्रैफिक को रोके रखा। थोड़ी देर में ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और जाम खुलवाया। इसके बाद जीरकपुर एमसी की टीम और सामान से लदी गाड़ी को पुलिस अपने साथ थाने ले गई। पीछे-पीछे दुकानदार भी थाने पहुंच गए। इसके बाद एमसी कर्मचारी गाड़ी लेकर जीरकपुर एमसी ऑफिस चले गए।

फाइन तो वसूलते हैं पर रसीद नहीं देते

फर्नीचर मार्केट के कई दुकानदारों ने यह भी कहा कि उनकी दुकानों के आगे से उठाया गया सामान वापस लेने में दुकानदार एक-दो दिन की देरी कर देते हैं तो सामान सही-सलामत नहीं मिलता। कई बार तो सामान मिलता ही नहीं है। दुकानदारों ने यह भी कहा कि सामान लौटाने के बदले जीरकपुर एमसी की ओर से फाइन तो वसूला जाता है लेकिन उसकी रसीद नहीं दी जाती है। उन्होंने कहा कि हो सकता है ये रुपए एमसी के खाते में जाने की बजाय किसी की जेब में जाते हों।

एन्क्रोचमेंट करने वाले दुकानदारों पर फाइन किया जाएगा

दुकानदारों ने कर्मचारियों को सामान उठाने से रोका था। इसके बाद पुलिस हमारे कर्मचारियों और गाड़ी को थाने लेकर गई। हमने गाड़ी वापस मंगवा ली है। एन्क्रोचमेंट करने वाले दुकानदारों पर फाइन किया जाएगा।

- गिरीश वर्मा, ईओ, जीरकपुर एमसी

एमसी के कर्मचारियों ने कोई शिकायत भी नहीं दी

​​​​​​​पुलिस ने किसी के खिलाफ कार्रवाई नहीं की है। जीरकपुर एमसी के कर्मचारियों ने कोई शिकायत भी नहीं दी है। शिकायत की जाती है तो उसके हिसाब से बनती कार्रवाई की जाएगी।- जशनप्रीत सिंह, इंचार्ज, बलटाना पुलिस चौकी

खबरें और भी हैं...