पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

मांग:वीआईपी रोड के पास लोगों ने की पोस्ट ऑफिस बनाने की मांग

जीरकपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
Advertisement
Advertisement

जीरकपुर शहर की आबादी लगातार बढ़ रही है, लेकिन यहां पोस्टल सर्विस अब भी किस कस्बे के लिए जैसी ही है। वीआईपी रोड के रेजिडेंट्स को पोस्टल सर्विस के लिए पभात जाना पड़ रहा है। अब यहां कई नए अपार्टमेंट बनकर उनमें लोग भी रहने लगे हैंं। लेकिन उनको पोस्टल सर्विस के लिए बेहद परेशान होना पड़ता है। आलम यह है कि 9 मंजिला तक ऊंचे इस शहर के अपार्टमेंट में रहने वाले परिवारों की कई जरूरी डाक समय पर नहीं पहुंचती है। वीआईपी रोड निवासी राम किशोर शर्मा ने इस बारे में पोस्टल विभाग के अधिकारियों को लिखा भी पर अभी तक यहां कुछ नहीं हुआ।

जीरकपुर में पोस्ट ऑफिसों का कमी के साथ यहां लोगों को लेटर डालने के लिए लेटर बॉक्स तक नहीं मिल रहे हैं। डेढ़ लाख की आबादी वाले इस शहर में गिनती के ही लेटर बॉक्स है। यहां पहले तो पोस्टल सर्विस बेहतर करने के लिए पोस्टल सेवा में विस्तार की ज़रुरत है। पुराने समय से चल रहे सब पोस्ट ऑफिस अब इस शहर की ग्रोथ के हिसाब से कम पड़ रहे हैं। कई जगह पर नए सब पोस्ट आॅफिस बनाने की बात को लेकर लोग पोस्टल विभाग को भी लिख चुके हैं।

पोस्टर सर्विस की हालत किस तरह से यहां कमजोर हो रही है इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि एक ही डाकिए को कई कॉलोनियों में डाक देनी पड़ती है। इस कारण जिस दिन जीरकपुर में कोई लेटर आता है तो उनमें से कुछ उसी दिन डिलीवर नहीं होते हैँ यहां ढकौली एरिया इतना बडा है कि एक दिन में कवर नहीं किया जा सकता है।  इस एरिया में तीन सालों में ही 20 हजार से अधिक की आबादी बस गई। अभी कई मल्टीस्टोरीज बिल्डिंगों बनकर तैयार है। जो भी लोग यहां आ रहे है उनमें रिटायर लोगों की भी अच्छी खासी संख्या है।

रिटायरमेंट के बाद ऑफिस से जुड़ने का एकमात्र साधन डाक सेवा है। यहां रिटायर व सीनियर सिटीजंस के लिए पोस्टऑफिस न होना सबसे बड़ी परेशानी है। लोगांे को जीरकपुर में पटियाला चौक के पास बने पोस्ट ऑफिस आना पड़ता है। सीनियर सिटीजन के लिए वीआईपी रोड से जीरकपुर में पटियाला चौक तक आना आसान काम नहीं है। 10 रुपए की काम के लिए 100 रुपए का पेट्रोल गाड़ी में फूंकना पड़ता है। जीरकपुर की जिन जगहों पर कुछ ही साल में नई आबादी बढ़ने वाले एरिया मे पीरमुछल्ला भी है। यहां 5 सालों में करीब 5 हजार नए परिवार आ गए है। एक दर्जन से अधिक अपार्टमेंट और गांव के हिस्से में भी कई परिवार आए है। यह संख्या आगामी 5 सालों में दोगुनी से ज्यादा हो जाएगी। इन सब लोगों को अभी ढकौली के सब पोस्ट ऑफिस पर ही निर्भर रहना पड़ रहा है। पीरमुछल्ला के लोगों को पोस्ट ऑफिस न होने के कारण ज्यादा परेशानी होती है।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement