पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

परेशानी:नगर परिषद के कम्युनिटी सेंटर बने पब्लिक के लिए सिरदर्द लोगों ने कहा-इनके शोर-शराबे से रातों की नींद भी उड़ गई

जीरकपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दैनिक भास्कर ने लोगों से बातचीत कर जानी समस्याएं, सबकी राय-रिहायशी एरिया से हटाए जाएं कम्युनिटी सेंटर

बलटाना के सैनी विहार फेस-2 में बने कम्युनिटी सेंटर में शनिवार की रात शादी का आयोजन हुआ। इस कम्युनिटी सेंटर के आसपास रहने वाले लोगों का आरोप है कि रात 3 बजे तक इसमें शोर-शराबा होता रहा। कम्युनिटी सेंटर के सामने एक घर में रहने वाली बलजिंदर कौर ने कहा कि रात 11.30 बजे में अपने पति के साथ कम्युनिटी सेंटर में लोगों को कहने के लिए बाहर निकली कि तेज आवाज में डीजे बज रहा है, इसे बंद करें। इससे पहले पुलिस को शिकायत दी, लेकिन पुलिस भी मौके पर नहीं आई।

बलजिंदर कौर ने कहा कि हताश होकर मैं रोने के लिए मजबूर हो गई। इससे पहली रात भी यहां शादी का समारोह था और मेरे घर की खिड़की के पास बैठकर लोग शराब पीते रहे। यहां का माहौल इतना खराब हो चुका है कि अगर मोहल्ले वाले डीजे बंद करने के लिए कहते हैं तो नशे में धुत लोग मारपीट करने पर भी उतारू हो जाते हैं।

जीरकपुर नगर परिषद ने इस जगह कम्युनिटी सेंटर बनाकर उनकी जान के लिए मुश्किल खड़ी कर दी है। रात को घरों के बाहर गाड़ियां लगती हैं क्योंकि कम्युनिटी सेंटर में एक भी गाड़ी की पार्किंग नहीं है। शादी के समारोह में आने वाले लोगों की गाड़ियां यहां घरों के आगे लग जाती हैं। अगर ऐसी हालत में किसी बीमार को अचानक हॉस्पिटल ले जाना पड़ गया तो उस बीमार को यहा से निकाल नहीं सकते।

बुजुर्गों को हो रही है सबसे ज्यादा दिक्कत...

लोगों ने यहां इकट्‌ठा होकर कम्युनिटी सेंटर की जगह शादियों के आयोजन को बंदकर इस जगह का इस्तेमाल पोस्ट ऑफिस या सुविधा सेंटर के तौर पर करने को कहा। क्योंकि रात को इसके आसपास के घरों में रहना खासकर बुजुर्गों के लिए बहुत मुश्किल हो रहा है।

स्कूली बच्चों की पढ़ाई पूरी तरह चौपट हो गई है।लोगों का कहना है कि जब यहां पर इतनी दिक्कतें हो रही हैं तो वह कहां जाएंगे। पुलिस और अन्य अधिकारी इस बात को क्यों नहीं समझते हैं। लोग कई बार इसकी शिकायत संबंधित अधिकारियों को दे चुके हैं, लेकिन आज तक इस समस्या का समाधान नहीं हो पाया है।

यह समस्या कम होने के बजाय दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। लोगों का कहना है कि यदि उनकी बात अब नहीं सुनीं जाती है तो वह सब लोग एकत्र होकर सड़कों पर उतरने के लिए मजबूर होंगे। उन्होंने जल्द से जल्द इस समस्या का समाधान करने की मांग की है।

मेरे घर से 15 फीट की दूरी पर कम्युनिटी सेंटर की दीवार है। रात को 10 बजे के बाद यहां शादियों का आयोजन शुरू होता है। मैं सीनियर सिटीजन हूं और मेरे पति भी सीनियर सिटीजन हैं। घर में बच्चे भी हैं। कई रातों से हम सो नहीं पाए हैं। एक-एक रात काटना यहां मुश्किल हो रहा है। कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं है। पूरी रात यहां तमाशा बना रहता और शनिवार की रात हमने पुलिस को भी फोन किया था, लेकिन पुलिस ने भी यहां न तो आकर मौके के हालात देखे और न ही डीजे बंद कराया।- श्याम कुमारी

कम्युनिटी सेंटर पब्लिक के लिए बने हैं। हम भी चाहते हैं कि गरीब परिवारों के शादी-समाराेह हों लेकिन जिनके घर कम्युनिटी सेंटर के आसपास हैं, उनके हित के लिए भी प्रशासन को सोचना चाहिए। एक तरफ प्रशासन कहता है कि डीजे बजाने का समय तय किया हुआ है।

लेकिन सैनी विहार फेस-2 के इस कम्युनिटी सेंटर के लिए कोई नियम-कानून नहीं है। रात 2-3 बजे तक इसमें शोर-शराबा होता है। न तो पुलिस सुन रही है और न ही जीरकपुर नगर परिषद इसको लेकर कोई कार्रवाई कर रही है। -विजय शर्मा

जब भी शादी होती है तो इस कम्युनिटी सेंटर में शराब पीने वाले लोग हमारे घर के आसपास बैठ जाते हैं क्योंकि कम्युनिटी सेंटर बहुत बड़ा नहीं है। जिन लोगों को शराब पीने के लिए जगह नहीं मिलती वे यहां लोगों के घरों की दीवारों के पास खड़े होकर शराब पीते हैं।

शराब पीने के बाद ऊंची-ऊंची आवाजों में गालियां भी निकालते हैं। महिलाएं रात को घर से बाहर नहीं निकल सकती हैं। माहौल बेहद खराब हो चुका है और इसको लेकर प्रशासन और पुलिस को शिकायत की गई है। -हिम्मत सिंह

यहां कम्युनिटी सेंटर में रात के 12 बजे से लेकर तड़के तक टैंट लगाने और उतारने का काम चलता रहता है। टैंट का काम करने लोगों को इससे कोई लेना-देना नहीं होता कि यह रिहायशी एरिया है और आसपास के घरों में लोग सो रहे हैं। कम्युनिटी सेंटर में लोग जोर-जोर से चिल्लाते रहते हैं।

लोहे के पाइप इधर-उधर फेंकने की आवाजों की वजह से हम रात को चैन से सो भी नहीं पाते हैं। प्रशासन की ओर से कम्युनिटी सेंटर के लिए गाइडलाइन जारी की जानी चाहिए। टैंट लगाने और उतारने का काम भी दिन में होना चाहिए। नीलम रानी

शनिवार रात को यहां के हालात देखने लायक थे। न तो पुलिस आई और न ही डीजे वालों और शादी समारोह करने वालों को आसपास रहने वाले लोगों की परेशानी की फिक्र हुई। हम लोग रात 12 बजे तक बहुत परेशान रहे। 12 बजे तक डीजे बजना आम बात है, लेकिन कभी-कभी यहां रात को जब पूरी रात टैंट लगाने और उतारने का काम चलता है तो उसकी वजह से भी काफी परेशानी होती है। पुलिस को यहां रात 10 बजे के बाद शोर-शराबा करने और डीजे चलाने वालों के खिलाफ केस करना चाहिए। अगर पुलिस इस काम को नहीं करेगी तो पब्लिक इसके विरोध में यहां धरना-प्रदर्शन करेगी। वंदना

रविवार को हम सब सैनी विहार फेस-2 के लोग विरोध के लिए जमा हुए हैं, क्योंकि शनिवार रात और इससे पहले कई रातें हम सो नहीं सके। यहां के लोगों ने इस कम्युनिटी सेंटर में होने वाले शादी-समारोहों की वजह से अपना चैन खो दिया है और इसके लिए जिम्मेदार नगर परिषद जीरकपुर है।

जीरकपुर नगर परिषद को चाहिए कि इसका इस्तेमाल पोस्ट ऑफिस या सुविधा केंद्र के तौर पर किया जाए। शादियों के आयोजन के लिए यह जगह उचित नहीं है।कुलदीप

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह गोचर और परिस्थितियां आपके लिए लाभ का मार्ग खोल रही हैं। सिर्फ अत्यधिक मेहनत और एकाग्रता की जरूरत है। आप अपनी योग्यता और काबिलियत के बल पर घर और समाज में संभावित स्थान प्राप्त करेंगे। ...

और पढ़ें