पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

परेशानी:पावरकॉम ने लोगों को भेजे रीडिंग के आधार पर बिल, लोग बोले-ज्यादा हैं, दुरुस्त किए जाएं

जीरकपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अप्रैल महीने में पावरकॉम ने लोगों से वसूल किए थे एवरेज बिल, उस वक्त बिल हजार से डेढ़ हजार थे, अब 3 हजार का अंतर
Advertisement
Advertisement

लॉकडाउन के दौरान बिजली मीटर की रीडिंग न लेकर लोगांे को एवरेज बिल भेजने वाले पंजाब पावर काॅर्पोरेशन लिमिटेड ने अब जो बिल भेजे हैं, उनको देखकर लोग परेशान हैं। लोगों को ये बिल बहुत ज्यादा लग रहे हैं। इस समय जीरकपुर की हरेक कॉलोनी से लोगांे को शिकायत है कि पावरकाम अब जो बिजली बिल भेज रहा है, उसका कोई हिसाब उनको समझ नहीं रहा है। एवरेज बिल जो लोग दे चुके हैं। उनको भी दाेबारा बिल मंें जोड़ा जा रहा है। कहीं बेहताशा काउ सेस लगाया जा रहा है। 

कुछ ऐसे टैक्स है जिसका कोई हिसाब न तो लोग समझ पा रहे हैं न पावरकाम बता रहा है।  देश में लॉकडाउन के दौरान पावरकाम ने लोगों को राहत देने के नाम पर एवरेज बिल भेजे। लेकिन अब पावरकाम ने हरेक मीटर की रीडिंग लेकर बिल भेजने का काम शुरू कर दिया है। लोगों का आरोप है कि लॉकडाउन के दाैरान के एवरेज बिल तो पावरकाम वसूल ही रहा है। अब हरेक मीटर की रीडिंग लेने के बाद जो बिल भेजे जा रहे है। उनमें एवरेज बिल भी जोड़ गया है। इसे इस तरह समझा जा सकता है। अप्रैल महीने में एक उपभोक्ता से एवरेज बिल 1500 रुपए वसूले। उस महीने की रीडिंग नहीं ली गई। अब पावरकाम ने रीडिंग लेनी शुरु कर दी है। लॉकडाउन के दौरान की रीडिंग भी बिल मंें जोड़ी जा रही है और यही बिल लोगों से वसूला जा रहा है। एवरेज बिल जो पावरकाम वसूल चुका है।

जो बिल भेजे गए हैं, रीडिंग से कोई मैच नहीं हो रहा
यहां शहर की अलग अलग कॉलोनियों से लोगों की शिकायत है कि पावरकाम ने इस समय जो बिल भेजे हैं, उनका रीडिंग से कहीं कोई मैच नहीं हो रहा है।, किसी में एवरेज बिल भी जोड़कर भेजे गए हैंं लोगों की पावरकाम के आॅफिस में सुनवाई नहीं हो रही है। दूसरी ओर बिजली की हालत यह है कि हरेक दिन कट लग रहे है। जीरकपर शहर मंे कुछ बिल खराब आते तो उसको लेकर कहा जा सकता है कि गलती हो गई। पर जानबूझ कर किया गया है। जिसका बोझ पब्लिक पर डाला जा रहा है। बिलों मंे एकदम स्पष्टता होनी चाहिए। रीडिंग के अनुसार बिल नहीं भेजे गए है। पावरकाम का सिस्टम पब्लिक को परेशान करने वाला है।- नीतू खुराना
हमने रीडिंग ली तो असली खपत पता चली...

लोगों को लग रहा है कि उनको ज्यादा बिल भेजे गए हैं। जबकि ऐसा नहीं है। पहले एवरेज बेस्ड बिल भेजे थे। यानि कि एक घर को 1500 रुपए बिल भेजा था। अब हमने रीडिंग ली तो उस महीने उस उपभोक्ता की असल खपत पता चली है। उसने 3 हजार की बिजली खर्च की थी। इसलिए एक्चुअल बिल बनाकर भेजे हैं। इसलिए बल्कि कई बिलों में ऐसा हुआ कि जिन्हाेंने कम बिजली खर्च की उनको एवरेज बेस्ड बिल में बचे रुपए वापस किए हैं।- निशांत बंसल, एसडीओ कमर्शियल पावरकाम जीरकपुर

यहां समझें उपभोक्ता पर कैसे पड़ा असर
आर पी मल्होत्रा काे पावरकाम ने 9640 का बिल भेजा। मल्होत्रा का कहना है कि पावरकाम के अनुसार पहली 100 यूनिट बिजली खर्च करने पर बिजली का रेट प्रति यूनिट 4 रपए 99 पैसे हैं। 100 से 500 यूनिट तक 7 रुपए 17 पैसे है। और 500 से लेकर उसके उपर बिजली यूनिट खर्च करने पर 7 रुपए 29 पैसे का रेट है। मैंने इस कैटेगरी मंे जो बिजली खपत की, उसके अनुसार मेरा बिजली यूनिट का खर्च 6181 रुपए बनता है। मुझे पावरकाम ने जो बिल भेजा वह 9640 रुपए का भेजा है। बिजली यूनिट खर्च करने की कुल रकम 6181 आ रही है। इससे मेरे बिल में पावरकाम ने 3459 रुपए का टैक्स वूसला। मैंने इसकी शिकायत बिल भेजकर पावरकाम के ऑफिस को दी। पर वहां कोई कुछ बताने को तैयार नहीं है।  लोगों को मनमर्जी के बिल भेजे गए है। उनको सुधारने वाला कोई नहीं है। लोगांे की मजबूरी का पावरकाम फायदा उठा रहा है

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज पिछले समय से आ रही कुछ पुरानी समस्याओं का निवारण होने से अपने आपको बहुत तनावमुक्त महसूस करेंगे। तथा नजदीकी रिश्तेदार व मित्रों के साथ सुखद समय व्यतीत होगा। घर के रखरखाव संबंधी योजनाओं पर भ...

और पढ़ें

Advertisement