समस्या / सड़क उखाड़ पभात से लेकर सुखना नाले तक ड्रेन बनाने का काम किया, मरम्मत करना भूला विभाग

Road uprooted from Pabhat to Sukhna Nallah to work draining, repairing forgotten department
X
Road uprooted from Pabhat to Sukhna Nallah to work draining, repairing forgotten department

  • पानी की निकासी के लिए एमसी ने जिस जल्दबाजी में काम किया उसका खामियाजा हजारों लोग भुगत रहे, पभात एरिया की कॉलोनियों में खोद दिए गड्‌ढे

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

जीरकपुर. पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट के आदेश के बाद मोहाली में बने इंटरनेशनल एयरपोर्ट के रनवे पर बारिश के दौरान जमा होने वाले पानी की निकासी के लिए जीरकपुर एमसी ने जिस जल्दबाजी में काम किया उसका खामियाजा शहर के हजारों लोग भुगत रहे हैं। खासकर पभात एरिया की एक दर्जन से अधिक कॉलोनियों के लिए यहां की नगर परिषद ने गड्‌ढे खोद दिए हैं। पभात से लेकर सुखना नाले तक ड्रेन बनाने का काम किया। इसके लिए प्लानिंग तक ठीक तरीके से नहीं की गई। जीरकपुर एमसी के काबिल अधिकारियों ने पभात से सुखना नाले तक ड्रेन बनाने के लिए यहां की मेन रोड को चुना।

ड्रेन के लिए बड़े आकार की गोल पाइपें डालने का काम सड़क तोड़कर किया गया। यह ड्रेन जिस जगह से डाली गई उससे अलग भी एक जगह थी। जहां कम समय में यह काम हो सकता था। सड़क को भी तोड़ने की जरूरत नहीं पड़ती। सड़क तोड़ी गई। इस दौरान सैकड़ों घरों के सीवरेज और पानी कनेक्शन भी टूटे। लोग इसके लिए परेशान हुए। जबकि पभात से सुख्ना नाले तक बारिश के पानी की निकासी के लिए पहले से एक ओपन ड्रेन बनी है जो पभात में गोडाउन एरिया से हाेकर चंडीगढ़ अंबाला रोड पर होटल रमाडा के नजदीक से होकर बलटाना पुलिस चौकी के बाहर से सुखना नाले तक जाती है।

यह ड्रेन करीब 4 साल पहले ड्रेनेज विभाग ने बनाई। इसी ड्रेन को बड़ा कर पानी की निकासी का इंतजाम किया जा सकता था। लेकिन जीरकपुर एमसी के अधिकारियों ने ऐसा न कर एक नई ड्रेन बनाई। जो पभात गांव से लेकर यहां कई कॉलोनियों के बीच की मेन रोड को तोड़कर अंडरग्राउंड पाइपें डाली गई।

मेन पार्ट का काम अभी अधूरा

डेढ़ किलोमीटर लंबी ड्रेन डालने के बाद इसका एक मेन पार्ट यहां रहता है। इसके लिए एनएचएआई ने अभी ड्रेन डालने की परमिशन नहीं दी है। एनएचएआई अगर इस काम की परमिशन देने में देरी करती है तो रनवे पर बारिश के पानी की निकासी का इंतजाम नहीं हो सकता। जीरकपुर-अंबाला रोड पर सोनू स्वीट्स के पास से लेकर हाईवे के दूसरी ओर ड्रेन को पहुंचाना असाना नहीं है। यह काम जल्द होने वाला भी नहीं। इसलिए लोगों का कहना है कि जीरकपुर एमसी को पहले यह मेन पार्ट ही तैयार करना चाहिए था।

अगर एनएचएआई की ओर से इस काम करने की परमिशन नहीं दी जाती तो यहां करोड़ों रुपए का प्रोजेक्ट शहर के लिए परेशानी बन जाएगा। आगे बारिश का समय है कच्ची सड़क पर मिट्टी से कीचड़ पैदा होगा। इससे यहां हजारों लोगों को परेशानी होगी। जीरकपुर निवासी नवतेज सिंह ने कहा कि यहां सड़क बनाने का काम जल्द पूरा होना चाहिए। इससे यहां पब्लिक परेशान हो रही है।

  • सड़क बनाने का काम जल्द शुरू कर दिया जाएगा। इस बारे में कई बार लोग शिकायत भी कर चुके हैं। -बीडी सिंह, एडीओ 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना