पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नाराजगी:चार साल से सीवर लाइन जाम, कोई भी नेता इस काम के लिए आगे नहीं आया

जीरकपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शिवालिक विहार में वोट मांगने वाले नेताओं को करना होगा पब्लिक के गुस्से का सामना

जीरकपुर-पटियाला रोड पर स्थित शिवालिक विहार की जनता इस बार वोट मांगने वाले नेताओं काे खरी-खोटी सुनाने को तैयार बैठी है। जो भी नेता यहां वोट मांगने पहुंचेगा, उसको यह बताना होगा कि पिछले पांच सालों में कहां गायब रहे और अब वोट के दिनों में ही क्यों याद आई।

शिवालिक विहार में 4 साल से सीवरेज ओवरफ्लो चल रहा है। नर्क जैसी हालत से लोग गुजर रहे हैं। यहां के निवासी गुरदीप सिंह ने कहा कि हम उस दिन का इंतजार कर रहे हैं जब कोई नेता यहां आए और हम उसका स्वागत फूल मालाओं की जगह अपने तीखे सवालों से करें। अगर नेता में गैरत होगी तो वह सच समझने की कोशिश करेगा। पब्लिक की पीड़ा को समझेगा। घरों के अंदर तक सीवरेज जाम होने से यहां एक-एक दिन काटना मुश्किल हो रहा है।

भले ही जीरकपुर नगर परिषद ने 52 लाख रुपए का एस्टीमेट यहां नई सीवर लाइन डालने के लिए तैयार किया है लेकिन इसका पब्लिक को कोई फायदा नहीं हुआ। चार साल में पूरा एक शहर बस सकता था लेकिन यहां के प्रशासन और नेताओं की नाकाबिलियत से जनता रोज रो रही है। नेताओं ने जनता को हर दिन रोने पर मजबूर कर रखा है। किसी के घर के आगे सीवरेज के गंदे पानी का तालाब 365 दिन में से 200 दिन बना रहे, ऐसे में उसका भरोसा न तो प्रशासन पर रहेगा और न ही नेता पर।

गुरदीप सिंह की तरह की यहां के अन्य लोगों ने कहा कि पिछले चार सालों में हर साल दस-दस बार हमने इस काम को करने के लिए प्रोटेस्ट किया, धरने दिए। जीरकपुर एमसी ऑफिस में चक्कर काटे, लेकिन न तो अफसर और न ही नेताओं का मन हुआ कि पब्लिक की परेशानी को समझकर यह काम पूरा करे। शिवालिक विहार में सीवर लाइन डालने का काम जीरकपुर नगर परिषद को करना था।

नेता एमसी पर लगा रहे काम न करने का आरोप...

कांग्रेस के नेता भी यही कहते रहे कि हम तो काम करने को तैयार हैं लेकिन जीरकपुर एमसी में तैनात अकाली पार्षद और प्रधान यह काम नहीं होने दे रहे हैं। दोनों के तर्क लोगों के अब समझ आ रहे हैं। अगर एक नेता में भी काम करने की इच्छा शक्ति होती तो वह कांग्रेस का हो या अकाली दल का, पब्लिक को किसी दल से काेई वास्ता नहीं है, जब तक उनके लिए काम नहीं हो जाता। शिवालिक विहार के हालात बद से बदतर करने में पभात एरिया के अकाली पार्षदों का भी रोल है, क्योंकि पभात में लगातार पिछले 10 सालों में अवैध कॉलोनियां बनती रहीं और इनका सीवरेज शिवालिक विहार की छोटी सीवरेज लाइन से जोड़ दिया, जिसकी वजह से यहां ऐसी स्थिति पैदा हुई।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें