पर्यावरण को नुकसान / पीरमुछल्ला नेचर पार्क के बीचों बीच सड़क बनाने के लिए लगाईं बुर्जियां, 1400 पेड़ कटेंगे

The bastions planted to build the road in the middle of Pirmuchalla Nature Park, 1400 trees will be cut.
X
The bastions planted to build the road in the middle of Pirmuchalla Nature Park, 1400 trees will be cut.

  • पीरमुछल्ला से लेकर पंचकूला घग्गर पार के सेक्टर्स तक बनेगी नई सड़क

दैनिक भास्कर

Jun 01, 2020, 05:00 AM IST

जीरकपुर. (अनूप अंजुमन) पीरमुछल्ला से लेकर पंचकूला घग्गर पार के सेक्टर्स तक बनने वाली नई राेड और इसके साथ घग्घर नदी के ऊपर बनने वाले पुल से दोनों शहरों को फायदा होगा। जीरकपुर के पीरमुछल्ला और पंचकूला के घग्घर पार के सेक्टर्स की बीच होने वाली नई कनेक्टिविटी के साथ इस सड़क के बनने से इस एरिया में बड़ा बदलाव आएगा। यह तोहफा दोनों शहरों के लिए है पर इसकी प्लानिंग से पर्यावरण को बड़ा नुकसान होने वाला है। इसकी प्लानिंग बेहद अजीव तरीके से की गई है। 
पीरमुछल्ला के बीड एरिया में बने 25 एकड़ के नेचर पार्क के बीचोंबीच इस सड़क को बनाने की तैयारी की जा रही है। इसके लिए यहां बुर्जिंयां लगा दी गई हैं। नेचर पार्क के बीच कई औषधीय पेड भी इस प्रोजेक्ट के लिए काटे जाएंगे। इनमें खैर और अन्य औषधीय पेड़ शामिल हैं। 1400 पेड़ों को काटने से यह एरिया बाकी जीरकपुर की तरह ही कंक्रीट के जंगल में बदल जाएगा। 
विधायक एनके शर्मा ने कहा कि इस रोड और ब्रिज के बनने से भले ही दोनों शहरों को फायदा है। लेकिन सड़क की लोकेशन नेचर पार्क के बीच में नहीं आने दी जाएगी। इसका डिजाइन और लोकेशन बदलनी होगी। इसको सेक्टर 21 के पिछले हिस्से में जहां पंजाब की सीमा लगती है। दोनों शहरों की सीमा में इस सड़क को बनाने दिया जाएगा। घग्गर नदी पर नए पुल की लंबे समय से मांग की जा रही थी।

हरियाणा विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ने फरवरी में भूमि पूजन कर निर्माण शुरू करवाया, लेकिन उस दिन के बाद अभी पुल पर बहुत ज्यादा कुछ नहीं हुआ। वजह यह है कि पुल बनाने से पहले सड़क बनाने के लिए भी काम किया जाना था। जिस पर पंजाब की ओर से आपत्ति है।

ये है प्लानिंग

50 करोड़ की लागत से बनने वाला पुल सेक्टर-24/26 की विभाजित सड़क से शुरू होकर सेक्टर-20/21 की विभाजित सड़क को आपस में जोड़ेगा। यह पीरमुछल्ला पंजाब के एरिया में जुड़ेगा। एचएसवीपी के एक्सईएन ने बताया कि घग्गर नदी पर बनाने वाले पुल की कुल लंबाई 360 मीटर है।

लेकिन सेक्टर 24/26 की डिवाइडिंग रोड से शुरू होकर पंचकूला/पीरमुच्छला तक रोड सहित पुल की लंबाई 1190 मीटर है। जिसमें से पंजाब का एरिया 910 मीटर है और हरियाणा का 280 मीटर है। करीब 240 मीटर लंबी स्लैब के साथ इसकी कनेक्टिविटी नए मटका चौक से होगी। घग्गर पर नए पुल के निर्माण के कारण मौजूदा मटका चौक तोड़कर इस की जगह नया चौक बनाया जाएगा। जो मौजूदा सड़क से 15 फुट और ऊंचा होगा।

चौक से तीनों तरफ बनेगी स्लैब

पुल की कनेक्टिविटी 15 फुट ऊंचे चौक पर होगी, जिसके चलते नए बनने वाले चौक से 3 तरफ स्लैब बनेगी। सेक्टर-23 से आने वाली सड़क को भी ऊंचा कर नए चौक तक स्पैल दी जाएगी और इसी तरह चौक से सेक्टर-26 हर्बल पार्क की तरफ जाने वाली वाली रोड पर भी स्लैप दी जाएगी।

700 मीटर जमीन पंजाब देगा

सेक्टर-20/21 की तरफ पुल की कनेक्टिवटी घग्गर के साथ लगते पंजाब फाॅरेस्ट की जमीन से शुरू होगी। एचएसवीपी के एक्सईएन एनके पायल ने बताया कि 700 मीटर जमीन पंजाब फाॅरेस्ट विभाग द्वारा दी जा रही है। पंजाब सरकार द्वारा इस जमीन के बदले में फारेस्ट विभाग को पंजाब में कहीं और इतनी ही जमीन दी जाएगी।

घग्गर पर बनने वाले पुल की सड़क की पंचकूला के साथ कनेक्टिविटी जोड़ने के लिए हरियाणा सरकार की ओर से पंजाब फाॅरेस्ट विभाग का 700 मीटर क्षेत्र का जंगल साफ कर अपने खर्चे से सड़क बनाई जाएगी। वहीं 210 मीटर की सड़क जीरकपुर निगम क्षेत्र से लेकर बनाई जाएगी जिससे इस ब्रिज की कनेक्टिविटी सेक्टर 20/21 की विभाजित सड़क पर पंचकूला-पीरमछुला बैरियर पर की जाएगी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना