खड़े ट्रक को कार ने मारी टक्कर, 2 की मौत:देर रात लौटते समय हादसा, मौके पर ही गई जान; दो की हालत गंभीर

सरगुजा11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर-बिलासपुर मार्ग पर रविवार देर रात ग्राम गुमगा के पास मिनी ट्रक और कार की जोरदार टक्कर हो गई। हादसे में 2 लोगों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, वहीं 2 लोग गंभीर रूप से घायल हैं। हादसा उदयपुर थाना क्षेत्र में हुआ है।

पुलिस ने बताया कि नेशनल हाईवे-130 पर सड़क पर खड़े ट्रक को तेज रफ्तार कार ने पीछे से टक्कर मार दी। टक्कर इतनी तेज थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। मौके पर ही एक महिला समेत 2 लोगों ने दम तोड़ दिया। गंभीर रूप से घायल 2 लोगों को उदयपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में ले जाया गया। वहां से प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज शिफ्ट किया गया है। पुलिस ने बताया कि कार में 4 लोग सवार थे।

कार के सामने का हिस्सा बुरी तरह क्षतिग्रस्त।
कार के सामने का हिस्सा बुरी तरह क्षतिग्रस्त।

पुलिस ने बताया कि ग्राम तारा का रहने वाला और वहां के स्वास्थ्य केंद्र का कर्मचारी दानबहादुर अपनी कार से गांव में ही रहने वाली जिनामती के साथ किसी काम से खोंदला गया हुआ था। यहां इनकी मुलाकात गांव के ही कन्याकुमारी और रामविलास यादव से हुई। ये दोनों भी किसी काम से खोंदला गए हुए थे। जब इन्हें पता चला कि दानबहादुर भी रात में ही तारा गांव लौट जाएगा, तो रामविलास और कन्याकुमारी ने कहा कि उन्हें भी अपने साथ ले ले। इसके लिए दानबहादुर ने हामी भर दी।

चारों एक कार में सवार होकर वापस लौटने लगे। गाड़ी दानबहादुर चला रहा था, लेकिन वो नशे में पूरी तरह धुत था। कार की रफ्तार भी बहुत तेज थी। सड़क पर खड़ी मिनी ट्रक को देख वो गाड़ी पर अपना नियंत्रण नहीं रख सका और पीछे से जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में कन्याकुमारी और रामविलास की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दानबहादुर और जिनामती गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। दुर्घटना रविवार रात करीब 11 बजे हुई।

राहगीरों ने तत्काल इसकी सूचना डायल 112 को दी। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने कार में फंसे शवों को निकलवाया और उन्हें पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवाया है। वहीं घायलों का इलाज मेडिकल कॉलेज अस्पताल में चल रहा है। उदयपुर थाना प्रभारी धीरेंद्र नाथ दुबे ने रात में ही अस्पताल पहुंचकर घायलों का हालचाल जाना। परिजनों को सूचना दी गई है।

खबरें और भी हैं...