दाखिले के लिए मची होड़:बीयू के 46 कॉलेजों की 14 हजार सीटों के लिए 10 दिन में ही मिले 17 हजार आवेदन

जगदलपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बस्तर यूनिवर्सिटी ने ग्रेजुएशन कोर्स के फर्स्ट ईयर के लिए आवेदन लेने की शुरुआत कर दी है। पिछले 10 दिनों में बीयू के 46 अलग-अलग कॉलेजों की 14414 सीटों पर पढ़ाई करने के लिए 17467 हजार आवेदन आ चुके हैं। ऐसा माना जा रहा है कि 12वीं सीबीएसई के नतीजे और 1 जुलाई से कॉलेज शुरू होने तक आवेदनों की यह संख्या 40 हजार के पार पहुंच जाएगी। जिस हिसाब से अब तक आवेदन पहुंचे हैं उस हिसाब से सरकारी कॉलेजों में इस बार दाखिले के लिए कटऑफ 80 प्रतिशत के करीब रहने की उम्मीद है।

दरअसल, अभी फर्स्ट ईयर की पढ़ाई करने वाले ज्यादातर छात्र एडमिशन लेने मोड पर नहीं आए हैं। अभी वे ही छात्र एडमिशन के लिए आवेदन कर रहे हैं जिनका टारगेट बस्तर में रहकर पढ़ाई करना है, लेकिन आने वाले दिनों में ऐसे छात्र भी दाखिले के लिए आवेदन करेंगे जिन्होंने दो-तीन यूनिवर्सिटी के अलग-अलग कॉलेजों में दाखिले का टारगेट रखा है।

सरकारी कॉलेजों में सभी 8 संकायों की फीस भी बेहद कम है और छात्राओं के लिए तो कई संकायों में निशुल्क शिक्षा की व्यवस्था भी है। ऐसे में दाखिले के लिए छात्रों का रुझान फीस कम होने के चलते सरकारी कॉलेजों में ज्यादा है। यही कारण है कि दाखिले के लिए वेटिंग और कटऑफ प्रतिशत दोनों बढ़ेगा।

इधर अभी यूजी के अलग-अलग कक्षाओं के नतीजे नहीं आए हैं। ग्रेजुएशन कोर्स के फाइनल ईयर के नतीजों के आते ही पीजी कोर्स में भी दाखिले के लिए आवेदन आना शुरू हो जाएंगे। जिसमें अन्य दूसरी यूनिवर्सिटी से भी लोग आ सकते हैं।

बीबीए की पढ़ाई सिर्फ निजी कॉलेजों में, पीजीडीसीए के लिए भी गिनती के सरकारी कॉलेज

बीयू के तहत कुल 46 कॉलेज आते हैं लेकिन सभी कॉलेजों में सभी आठों संकायों की पढ़ाई नहीं हो रही है। अभी बीए की पढ़ाई 46 में से 39 कॉलेजों में हो रही है। इसी तरह बीसीए की पढ़ाई करीब 42 कॉलेजों में तो बीकॉम की पढ़ाई 38 कॉलेजों में हो रही है।

बीएससी होम साइंस की पढ़ाई तो सिर्फ जगदलपुर के महिला कॉलेज में हो रही है। इसी तरह बीसीए 7 कॉलेज तो बीबीए की पढ़ाई 3 कॉलेजों में हो रही है। इन कॉलेजों में एक भी सरकारी कॉलेज शामिल नहीं है।

बीबीए की पढ़ाई संभाग के किसी भी सरकारी कॉलेज में नहीं हो रही है। इससे पहले यह कोर्स पीजी कॉलेज जगदलपुर था, लेकिन इसे भी बंद कर दिया गया। इसी तरह डीसीए सिर्फ 4 कॉलेजों तो वहीं पीजीडीसीए की पढ़ाई छह कॉलेजों में हो रही है।

अलग-अलग 8 संकायों की होती है पढ़ाई

बस्तर यूनिवर्सिटी के अंतर्गत 46 कॉलेज आते हैं इन 46 कॉलेजों में अलग-अलग आठ संकायों की पढ़ाई करवाई जाती है। इन आठ संकायों के लिए कुल 14414 सीटें उच्च शिक्षा विभाग से अलॉट की गई हंै। ऑनलाइन आवेदन के शुरूआती दस दिनों में ही 17467 आवेदन पहुंच चुके हैं। बस्तर यूनिवर्सिटी के 46 कॉलेजों में दाखिले के लिए आवेदन करने की अंतिम तारीख अभी तय नहीं है। लेकिन कुलपति की विशेष अनुमति से हर साल 15 अगस्त तक दाखिला होता है।

बीए, बीएससी और बीकॉम में सबसे ज्यादा आवेदन

सरकारी कॉलेजों में पढ़ाई के लिए छात्रों का क्रेज कुछ चुनिंदा संकायों के लिए है अभी पिछले 10 दिन में सबसे ज्यादा आवेदन बीए, बीएससी और बीकॉम जैसे संकायों के लिए आये हैं। देखें 10 दिनों में कितनी सीटों के लिए कितने आवेदन आए हैं।

8 संकायों में इतने आवेदन

खबरें और भी हैं...