बस्तर में बाढ़, रिहायशी बस्तियां और हाईवे डूबे:तेलंगाना से संपर्क कटा, स्कूल बंद-फ्लाइट कैंसिल; दंतेवाड़ा के अस्पताल में भरा पानी, किरंदुल-विशाखापट्टनम रेलवे रूट बंद

​​​​​​​जगदलपुर/बीजापुर/दंतेवाड़ा2 महीने पहले

छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग के कई जिलों में रविवार से मूसलाधार बारिश जारी है। बारिश के चलते नदी-नाले उफान पर आ गए हैं। जगदलपुर और बीजापुर में पानी रिहायशी इलाकों में घुस गया है। मौसम विभाग ने सोमवार और मंगलवार के लिए रेड अलर्ट घोषित किया है। इसके चलते जगदलपुर और बीजापुर में स्कूल बंद कर दिए गए हैं। नेशनल हाईवे पानी में डूब जाने के कारण एक बार फिर छत्तीसगढ़-तेलंगाना रूट बंद हो गया है। किरंदुल-विशाखापट्‌टनम रेलवे रूट डूबने के कारण ट्रेनों की आवाजाही बंद है।

पानी में डूबा किरंदुल-विशाखापट्‌टनम रेलवे ट्रैक।
पानी में डूबा किरंदुल-विशाखापट्‌टनम रेलवे ट्रैक।

बस्तर में लगातार हो रही बारिश से दंतेवाड़ा में किरंदुल रेल लाइन पर दाबपाल और कांवड़गांव के बीच पानी भर गया है। इसके कारण सुबह सात बजे से मार्ग बाधित है। किरंदुल-विशाखापट्टनम पैसेंजर ट्रेन जगदलपुर नहीं आई। ओडिशा के कोरापुट से विशाखापट्टनम लौट गई। हालांकि लौह अयस्क लेकर किरंदुल से विशाखापट्टनम जा रही एक मालगाड़ी को ही कम रफ्तार में पार करवाया गया। बाकी ट्रेनों की आवाजाही पर ब्रेक लगा दिया गया है।

बारिश के चलते दंतेवाड़ा के कटेकल्याण अस्पताल में पानी भर गया है।
बारिश के चलते दंतेवाड़ा के कटेकल्याण अस्पताल में पानी भर गया है।

दंतेवाड़ा का कटेकल्याण अस्पताल में भी पानी भर गया है। इसके कारण भर्ती मरीजों और उनके परिजनों को दिक्कत हो रही है। अस्पताल में ओपीडी का संचालन भी प्रभावित हुआ है। पानी मरीजों के वार्ड तक पहुंच गया है। इसके बाद गंभीर भर्ती मरीजों की दिक्कत बढ़ गई है। वहीं संक्रमण का खतरा भी मंडराने लगा है। हालांकि कर्मचारी अस्पताल से पानी निकालने का प्रयास कर रहे हैं। सफाई कर्मचारियों की इंचार्ज का कहना है कि हर साल यही समस्या होती है, पर ध्यान नहीं दिया जाता।

जगदलपुर-बीजापुर के बीच हाईवे पर पानी भरने से लगी वाहनों की कतार।
जगदलपुर-बीजापुर के बीच हाईवे पर पानी भरने से लगी वाहनों की कतार।

बीजापुर में तुमनार और दंतेवाड़ा में डंकनी नदी उफान पर है। इसके कारण शहर के पुल और कई सड़कें जलमग्न हो गई हैं। जगदलपुर में गांगामुंडा वार्ड, रवींद्रनाथ टैगोर वार्ड, धरमपुरा, श्यामा प्रसाद मुखर्जी वार्ड पानी डूबे हुए हैं। इसे देखते हुए प्रशासन की ओर से राहत कार्य शुरू किया गया है। वहीं दंतेवाड़ा में डंकनी नदी के सामने बने पुल के ऊपर से पानी बह रहा है।

जगदलपुर में कई वार्ड बारिश के चलते जलमग्न हो गए हैं।
जगदलपुर में कई वार्ड बारिश के चलते जलमग्न हो गए हैं।

हैदराबाद से ही नहीं उड़ा‎ एलाएंस एयर का विमान‎
मौसम की खराबी के चलते‎ एलायंस एयर की विमान सेवा भी‎ रद्द कर दी गई है। रविवार सुबह जब हैदराबाद‎ से जगदलपुर आने के लिए यात्री‎ एयरपोर्ट पहुंचे तो एलायंस एयर ने‎ फ्लाइट रद्द करने की घोषणा कर‎ दी। इस दौरान करीब 70 यात्रियों‎ को जगदलपुर व रायपुर जाना था।‎ फ्लाइट रद्द करने के बावजूद‎ यात्रियों को किसी भी तरह की‎ सुविधाएं नहीं दी गईं। इसके चलते हैदराबाद एयरपोर्ट पर जमकर हंगामा भी हुआ।

बीजापुर में चेरपाल नाला भरने से गंगालूर और चेरपाल का संपर्क अभी भी जिला मुख्यालय से टूटा हुआ है।
बीजापुर में चेरपाल नाला भरने से गंगालूर और चेरपाल का संपर्क अभी भी जिला मुख्यालय से टूटा हुआ है।

बीजापुर में कई गांवों का संपर्क मुख्यालय से टूटा
बीजापुर में तीन दिनों से लगातार बारिश का दौर जारी है। इसके चलते अंदरूनी इलाकों में पानी भर गया है। चेरपाल नाला भरने से गंगालूर और चेरपाल का संपर्क अभी भी जिला मुख्यालय से टूटा हुआ है। चेरपाल‎ नाला में कुछ मवेशी बहे गये थे, लेकिन उन्हें कोई हानि नहीं पहुंची है। जिले के छोटे नदी-नाले भी उफान पर चल रहे हैं। जिससे कई गांव का जिला मुख्यालय व ब्लाक मुख्यालय से संपर्क टूट गया है।

नदी-नाले उफान पर हैं। कई गांव का जिला और ब्लॉक से संपर्क टूट गया है।
नदी-नाले उफान पर हैं। कई गांव का जिला और ब्लॉक से संपर्क टूट गया है।

कुछ जगहों पर सुरक्षाबल के कैंपों में भी पानी घुसने की खबर हैं। जिन्हें दूसरे स्थान पर शिफ्ट किया गया हैं। कोकडापारा में निर्माणाधीन भवन में फंसे 4 मजदूरों का रेस्क्यू किया गया।‎ मूसलाधार बारिश की वजह से सोमवार की सुबह तुमनार नदी उफान पर आ गई है। नदी में बने पुल के ऊपर पानी बहने से संपर्क टूट गया है। मार्ग पर आवाजाही बंद हो गई हैं। पुल के दोनों छोर पर वाहनों की कतार लगी हुई है। आपदा प्रबंधन टीम अलर्ट मोड पर हैं।

लगातार हो रही बारिश के कारण जगदलपुर में कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए हैं।
लगातार हो रही बारिश के कारण जगदलपुर में कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए हैं।

अगले 72 घंटों तक भारी के लिए अलर्ट‎
जगदलपुर‎ में दो दिनों से लगातार हो रही बारिश के‎ बाद अब बस्तर संभाग के सातों‎ जिलों में मौसम विभाग ने अगले 72‎ घंटों के लिए रेड अलर्ट घोषित कर‎ दिया है। दो सिस्टम बने हैं,‎ जिनका असर अगले 72 घंटों तक‎ बने रहने की संभावना है। इन हालातों‎ में दक्षिण छग में बारिश का सबसे‎ ज्यादा असर होने के आसार हैं।‎ इस बीच बीते 24 घंटों में‎ 39 मिमी बारिश दर्ज हुई है। बीजापुर जिले में फिर से भारी बारिश‎ शुरू हो गई है।

दंतेवाड़ा में डंकनी नदी उफान पर है। इसके कारण शहर के पुल और कई सड़कें जलमग्न हो गई हैं।
दंतेवाड़ा में डंकनी नदी उफान पर है। इसके कारण शहर के पुल और कई सड़कें जलमग्न हो गई हैं।