पूर्व केंद्रीय मंत्री अरविंद नेताम का बड़ा बयान:बोले- आरक्षण पर सरकार यदि नहीं लेगी फैसला, तो आदिवासी समाज हर विधानसभा में उतारेगा अपना उम्मीदवार

जगदलपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अरविंद नेताम ने जगदलपुर में प्रेस वार्ता ली। - Dainik Bhaskar
अरविंद नेताम ने जगदलपुर में प्रेस वार्ता ली।

पूर्व केंद्रीय मंत्री अरविंद नेताम ने जगदलपुर में आरक्षण को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि, यदि सरकार आरक्षण पर कोई निर्णय नहीं ले पाती है तो बस्तर में आदिवासी समाज विधानसभा चुनाव में अपना उम्मीदवार उतारेगा। अरविंद नेताम का आरोप है कि, सरकार ने हाईकोर्ट में आदिवासियों के आरक्षण के संबंध में मजबूती से पक्ष नहीं रखा है। जिसकी वजह से आरक्षण का प्रतिशत घट गया है।

दरसअल, अरविंद नेताम ने जगदलपुर में प्रेस वार्ता ली। इस दौरान उन्होंने कहा कि, कांग्रेस और भाजपा दोनों ही पार्टियों ने आदिवासियों को ठगने का काम किया है। हाईकोर्ट में आरक्षण के मुद्दे पर राज्य सरकारों ने गंभीरता से आदिवासियों का पक्ष नहीं रखा। आदिवासी युवाओं से उनके नौकरी का अधिकार छीना जा रहा है। आगामी दिनों में आदिवासी समाज आर्थिक नाकेबंदी करेगा।

कुछ दिन पहले समाज के लोगों ने आंदोलन भी किया था।
कुछ दिन पहले समाज के लोगों ने आंदोलन भी किया था।

इसके अलावा अरविंद नेताम ने वर्तमान विधायकों और सांसदों को भी आरक्षण के मुद्दे पर घेरा है। उन्होंने कहा कि, अक्सर आदिवासी समाज की बात करने वाले नेता चुनाव लड़ के विधायक और सांसद बन जाते हैं। लेकिन, समाज के मुद्दे उठाना भूल जाते हैं। पार्टी हितों को ज्यादा महत्व और समाज को दरकिनार करने का आरोप अरविंद नेताम ने वर्तमान आदिवासी विधायकों और सांसद पर लगाया है।

खबरें और भी हैं...