बाप-बेटे ने मारकर महिला को जमीन में गाड़ दिया:विवाद के बाद दिया वारदात को अंजाम, 21 दिन बाद बच्ची ने खोला राज

जगदलपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खेत की मेड़ से लाश निकालते जवान। - Dainik Bhaskar
खेत की मेड़ से लाश निकालते जवान।

छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में पिता ने अपने सौतेले बेटे के साथ मिलकर अपनी ही साली की हत्या कर दी। हत्या के बाद महिला के शव को खेत की मेड़ में गाड़ दिया था। वहीं इस घटना की चश्मदीद आरोपी की 8 साल की बेटी ने 21 दिनों के बाद हत्या का राज खोला है। जिसके बाद पुलिस ने महिला का शव बरामद कर लिया है। बताया जा रहा है कि जिस महिला की हत्या हुई है वह नक्सल हिंसा पीड़ित है। कुछ महीने पहले महिला के पति को नक्सलियों ने मार दिया था।

जानकारी के मुताबिक, जिले के गुडरीपारा की रहने वाली महिला मैनिबाई पिछले 17 अप्रैल को बाजार के लिए निकली थी। इसके बाद वह घर नहीं लौटी। पड़ोसियों और महिला के बच्चों ने थाने में महिला की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। वहीं जब पुलिस इस मामले की जांच कर रही थी तो आरोपी की 8 साल की बेटी ने हत्या होना बताया। बच्ची ने पुलिस को बताया कि उसके पिता और भाई ने उसकी मौसी मैनिबाई की हत्या की है। दोनों शराब के नशे में चूर थे। बच्ची ने पुलिस को बताया कि, बाजार वाले दिन उसकी मौसी घर की तरफ आई थी।

पिता के साथ थोड़ा विवाद हुआ। जिसके बाद पिता ने मौसी का हाथ पकड़ा और भाई ने कुल्हाड़ी से सिर पर वार कर मार दिया। जिसके बाद शव को खेत की मेड़ में गाड़ दिया था। बच्ची के बयान के बाद पुलिस ने दोनों बाप-बेटे को हिरासत में लिया। जिसके बाद उनसे पूछताछ की गई, जिसमें दोनों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। खेत में जिस जगह लाश को गाड़ रखे थे, वहां से पुलिस ने लाश को बरामद कर लिया है। जिसे पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवाया गया है। हालांकि पुलिस इस मामले में आरोपियों से अब भी पूछताछ कर रही है।

खबरें और भी हैं...