बैठक में विधायक ने उठाया मुद्दा:राशन कार्ड बनाने के नाम पर वसूली की शिकायत कृषि मंत्री ने कम्प्यूटर ऑपरेटर को किया सस्पेंड

बेमेतराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सरकार की योजनाओं की समीक्षा करते कृषि व जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे। - Dainik Bhaskar
सरकार की योजनाओं की समीक्षा करते कृषि व जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे।

प्रदेश सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं के क्रियान्वयन को लेकर कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने अफसरों व मैदानी अमले को दो टूक चेतावनी दी है। बेमेतरा में सरकार की योजनाओं की समीक्षा करने पहुंचे कृषि मंत्री ने दो टूक कहा कि फ्लैगशिप योजनाओं में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इसी दौरान बेमेतरा विधायक आशीष छाबड़ा ने राशनकार्ड बनाने के नाम पर वसूली का मुद्दा उठाया, ऐसे में कृषि मंत्री ने तत्काल कम्प्यूटर ऑपरेटर का सस्पेंड करने के निर्देश जारी कर दिए।

कृषि मंत्री ने बुधवार को कलेक्टोरेट सभाकक्ष बेमेतरा में आगामी खरीफ सीजन की तैयारियों व अन्य विषयों पर समीक्षा बैठक ली। यह बैठक लगभग साढ़े चार घण्टे चली। बैठक के दौरान कृषि मंत्री ने जिले में खाद व बीज के भण्डारण व वितरण की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि खरीफ सीजन के दौरान किसानों को खाद व बीज के लिए भटकना न पड़े। अधिकारी इसका विशेष ध्यान रखें। आम लोगों को सरकार की विभिन्न हितग्राही मूलक योजनाओं का लाभ मिले, इस दिशा में अधिकारी अधिक संवेदनशील होकर कार्य करें।

3-3 हजार रुपए वसूलने की शिकायत: कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने विभागीय समीक्षा के दौरान राशनकार्ड बनाने के नाम पर शिकायत मिलने पर कम्प्यूटर ऑपरेटर को सस्पेंड कर दिया। उन्हें शिकायत मिली कि बेरला जनपद पंचायत में प्रति नया राशनकार्ड बनाने के नाम पर कम्प्यूटर ऑपरेटर भागवत सिन्हा 3-3 हजार रुपए लेता है। कृषि मंत्री ने उसे तत्काल निलंबित करने के निर्देश दिए। बैठक के दौरान विधायक बेमेतरा आशीष कुमार छाबड़ा ने इसकी शिकायत की। इस शिकायत को गंभीरता से लेते हुए कृषि मंत्री ने संबंधित कम्प्यूटर ऑपरेटर के खिलाफ तत्काल कार्रवाई के निर्देश दिए।

3-3 हजार रुपए वसूलने की शिकायत: कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने विभागीय समीक्षा के दौरान राशनकार्ड बनाने के नाम पर शिकायत मिलने पर कम्प्यूटर ऑपरेटर को सस्पेंड कर दिया। उन्हें शिकायत मिली कि बेरला जनपद पंचायत में प्रति नया राशनकार्ड बनाने के नाम पर कम्प्यूटर ऑपरेटर भागवत सिन्हा 3-3 हजार रुपए लेता है।

कृषि मंत्री ने उसे तत्काल निलंबित करने के निर्देश दिए। बैठक के दौरान विधायक बेमेतरा आशीष कुमार छाबड़ा ने इसकी शिकायत की। इस शिकायत को गंभीरता से लेते हुए कृषि मंत्री ने संबंधित कम्प्यूटर ऑपरेटर के खिलाफ तत्काल कार्रवाई के निर्देश दिए। बैठक में अधिकारी मौजूद थे।

मुख्यमंत्री का दौरा शुरू, इसकी तैयारी के दिए निर्देश
कैबिनेट मंत्री ने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री का प्रदेशव्यापी विधानसभावार मैदानी क्षेत्र का भ्रमण प्रारंभ हो गया है। इस दौरान वे आम जनता से भेंट-मुलाकात भी कर रहे हैं। उन्होंने इसकी तैयारी करने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिए। उन्होंने अविवादित नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन, फौती के प्रकरण, नवीन राशनकार्ड का निर्माण इत्यादि का काम जल्द करने के निर्देश दिए।

बैठक में संसदीय सचिव व विधायक नवागढ़ गुरुदयाल सिंह बंजारे, विधायक बेमेतरा आशीष कुमार छाबड़ा, कलेक्टर बेमेतरा विलास भोसकर संदीपान, पुलिस अधीक्षक धर्मेंद्र सिं, सीईओ जिपं लीना मण्डावी समेत जिला स्तर के अधिकारी, जपं सीईओ, नगरीय निकाय के सीएमओ व तहसीलदार उपस्थित थे।

दी हिदायत: सरकार के कामकाज में उदासीनता न बरतें
कृषिमंत्री ने दो टूक कहा कि सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन हो इसमें किसी भी प्रकार की उदासीनता व लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। सुराजी गांव योजना, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना, गोधन न्याय योजना, राजीव गांधी किसान न्याय योजना जैसे हितग्राही मूलक योजनाओं का अधिक से अधिक लोगों को लाभ मिले। बैठक में कृषि विभाग के उप संचालक ने बताया कि खरीफ वर्ष 2022 के अन्तर्गत जिले में खाद एवं बीज का भण्डार कर लिया गया है।

किसान अपनी सुविधानुसार इसका उठाव कर रहे हैं। जिले में धान, सोयाबीन, कोदो, अरहर, उड़द, मूंग, मक्का के कुल 3003.90 क्विंटल का भण्डारण किया गया है। इसी तरह सेवा सहकारी समितियों में उर्वरक, खाद 4758 क्विंटल का भण्डारण हुआ है व 2557 क्विंटल का वितरण कर लिया गया है। इस बार गैर धान फसल के लिए बेमेतरा जिले का रकबा (लक्ष्य) 19 हजार 292 हेक्टेयर का है।

खबरें और भी हैं...