पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राहत पर चिंता:जून के 17 दिनों में 16 कोरोना संक्रमितों की मौत, जिले में संक्रमण दर 0.9 फीसदी बढ़ी

बालोदएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गुंडरदेही में 2 दिनों से एक भी संक्रमित नहीं, जांच कराने वाले सभी 308 की रिपोर्ट निगेटिव

जिले में भले ही कोरोना के केस पहले की तुलना में कम मिल रहे हैं। लेकिन मौतों की रफ्तार थम नहीं रही है। वहीं संक्रमण दर में भी उतार-चढ़ाव जारी है। गुरुवार को संक्रमण दर 1.4 प्रतिशत रहा। जबकि बुधवार को संक्रमण दर 0.5 प्रतिशत था। इस लिहाज से संक्रमण दर में 0.9% का इजाफा हुआ। हालांकि दर घटते व बढ़ते क्रम पर है।

लेकिन मौतें हो ही रही है। पिछले चार दिन यानी 14 से 17 जून तक रोजाना एक-एक संक्रमित की मौत होने की पुष्टि विभाग ने की है। ऐसे में सावधान होने की जरूरत है। पिछले साल अगस्त से लेकर इस साल के 31 मई तक कोरोना से जूझ रहे 426 संक्रमितों की मौत होने की पुष्टि की गई थी। 17 जून की स्थिति में मौतों का आंकड़ा 442 में पहुंच गया है। इस लिहाज से जून के 17 दिन में 16 संक्रमितों की मौत हुई। वहीं राहत की बात यह रही कि गुरुवार को गुंडरदेही ब्लॉक में एक भी कोरोना मरीज नहीं मिला। ऐसी स्थिति यहां लगातार दो दिन से है। वहीं बालोद ब्लॉक में 6, डौंडी में 4, डौंडीलोहारा में 7 और गुरूर ब्लॉक में 2 संक्रमित मिलने की पुष्टि जिला स्वास्थ्य विभाग ने की है। डौंडीलोहारा ब्लॉक में ज्यादा केस मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गई है।

1402 लोगों ने जांच करवाई, 19 संक्रमित मिले, सावधानी जरूरी
स्वास्थ्य विभाग के अनुसार गुरुवार को सभी ब्लॉक के 1402 लोगों ने कोरोना जांच करावाई। जिसमें 17 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। आरटीपीसी जांच लैब के लिए 278 सैंपल भेजा गया। वहीं एंटीजन किट से 947 और ट्रू-नॉट मशीन से 177 सैंपल की जांच हुई। संक्रमितों के संपर्क में आने वाले लोगों को भी ट्रेस कर लक्षण आधार पर जांच के लिए सैंपल देने प्रेरित किया जा रहा है ताकि संक्रमण न फैलें और रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर तत्काल दवाई वितरित कर सकें। सीएमएचओ डॉ. जेपी मेश्राम ने बताया कि केस कभी 15-20 से कम तो कभी ज्यादा मिल रहे है। कई लोगों की रिपोर्ट लैब से एक-दो दिन बाद आ रही है, इसलिए भी यह स्थिति बन रही है। पहले की तुलना में मरीजों की संख्या में काफी गिरावट आई है लेकिन लोगों को अब भी सावधानी बरतनी चाहिए।

3 लाख 16 हजार सैंपल की जांच हो चुकी, 26 हजार 248 लोग हुए ठीक
रोजाना सैंपलिंग टेस्टिंग जारी है। पिछले साल से इस साल के 17 जून तक 3 लाख 16 हजार 992 सैंपल की जांच हो चुकी है। जिसमें 26 हजार 983 लोगों की रिपोर्ट पाॅजिटिव है यानी इतने संक्रमित मिले। इनमें से 26 हजार 248 से ज्यादा लोग डिस्चार्ज हो चुके है। एक्टिव केस 300 से कम हो गया है। मई के दूसरे सप्ताह के बाद रोजाना एक्टिव केस घटते क्रम पर है क्योंकि रोजाना पॉजिटिव केस की तुलना में कोरोना की चपेट में आने वाले लोग ठीक हो रहे हैं।

कोविड सेंटरों में सिर्फ 90 भर्ती, 72 संक्रमित घर पर करवा रहे इलाज
शुक्रवार दोपहर की स्थिति में 72 संक्रमित ही होम आइसोलेट थे यानी पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद घर में रहकर इलाज करा रहे है। वहीं 90 संक्रमित कोविड अस्पताल, सेंटरों में भर्ती थे। दो माह पहले 2 हजार से ज्यादा संक्रमित होम आइसोलेट थे। कोरोना संक्रमण की रफ्तार मई के तीसरे सप्ताह से धीमी पड़ी है, इसलिए ऐसी स्थिति है। वहीं पिछले कुछ दिनों से संक्रमण दर में उतार-चढ़ाव जारी है। लक्षण के आधार पर तत्काल कोरोना जांच कराने लोगों को प्रेरित किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...