पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बड़ी लापरवाही:पोंडी में 6 घंटे में 4 कौए मृत मिले 3 सैंपल जांच को भोपाल लैब भेजे

बालाेद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पशु चिकित्सा केंद्र के बगल में मृत मिले एक कौए को ग्रामीणों ने जला दिया

राजस्थान, मध्यप्रदेश सहित कई राज्यों में बर्ड फ्लू के दौर के बीच बालोद जिला मुख्यालय से 10 किमी दूर ग्राम पोंडी में बुधवार को 6 घंटे में ही एक के बाद एक 4 कौओं की मौत होने की पुष्टि गुरुवार को पशु चिकित्सा विभाग ने की है। 4 में से एक को कुछ ग्रामीणों ने केरोसिन डालकर जला दिया क्योंकि बर्ड फ्लू को लेकर किसी ने ध्यान नहीं दिया। इसके बाद रोड किनारे तालाब में तीन कौओं की मौत और हो गई। जिसकी सूचना मिलने के बाद पशु चिकित्सा विभाग के अफसर गंभीर होकर तत्काल मौके पर पहुंचे और सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्र अधिकारी विकास श्रीवास्तव ने पीपीई किट पहनकर मृत कौओं को बाहर निकाला, जिसके बाद बर्फ में पैक करके विभाग के गाड़ी में रायपुर भेजने की कार्रवाई की। जिसके बाद वहां से भोपाल के हाई सिक्योरिटी एनिमल डिसीज लेबोरेटरी यानी राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान भेजने की बात अफसर कह रहे हैं। हालांकि बर्ड फ्लू की पुष्टि अब तक विभाग, जिला प्रशासन की ओर से नहीं की गई है। सूचना मिलने के बाद पोंडी गांव में ब्लॉक पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. टीडी देवांगन, सहायक अधिकारी विकास श्रीवास्तव, जिला अस्पताल के चिकित्सा अधिकारी डॉ. आरके गुप्ता, मोबाइल यूनिट के डॉ. पवन गुप्ता, डॉ. डीके सिहारे पहुंचे। यहां हो रही गतिविधियों के संबंध में उच्च अफसरों को जानकारी देते रहे।

दफ्तर के बगल में ही मृत अवस्था में पड़ा था कौआ
पोंडी के सरपंच मुरलीधर भूआर्य ने बताया कि बुधवार को ग्रामीणों से सूचना मिली कि पशु चिकित्सा विभाग केंद्र के बगल में एक काैआ मृत अवस्था में पड़ा है। इसके बाद देर शाम को रोड किनारे तालाब में 3 कौओं की मरने की जानकारी हुई। जिसके बाद विभाग को सूचित किया गया। विभाग ने पीपीई किट की व्यवस्था नहीं की थी, पंचायत से किए तब तालाब से मृत कौओं को बाहर निकाला गया।

कोई चोट के निशान नहीं इसलिए मामला गंभीर
पशु चिकित्सा विभाग के विकास श्रीवास्तव ने बताया कि तालाब के पानी में उफले तीन मृत कौओं को बारीकी से चेक किया गया है, इस दौरान पंख उठाकर देखे तो चोट के निशान नहीं है। गुलेल या किसी चीज में मारने के निशान नहीं है। लैब में सिरम यानी खून निकालकर जांच के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी।

अब जिले में पोल्ट्री फार्म का किया जाएगा सर्वे
कलेक्टर जनमेजय महोबे ने अफसरों की बैठक लेकर सावधान होने के निर्देश दिए हंै। हालांकि जिले में बर्ड फ्लू की दस्तक होेने की पुष्टि किसी ने नहीं की है। फिलहाल अाशंका व अटकलों का दौर जारी है। पोल्ट्री फार्म चलाने वालों पर सख्ती बरती जाएगी। कहां कितना पोल्ट्री फार्म है, इसके लिए सर्वे करने कहा गया है।

जानिए, कैसे फैलता है बर्ड फ्लू और इनके लक्षण
रिटायर्ड सीएमएचओ डॉ. एकेएस रात्रे ने बताया कि यह एक प्रकार का इन्फ्लूएंजा वायरस है। पक्षियों में एक-दूसरे से फैलने वाला है। वायरस काफी संक्रामक होता है। यह उनमें सांस की गंभीर बीमारी का कारण बनता है। इसके कई स्ट्रेन हैं, लेकिन एच5एन1 सबसे खतरनाक है। बुखार (अक्सर तेज बुखार) और बेचैनी, खांसी, गले में खराश और मांसपेशियों में दर्द इसके लक्षणों में शामिल हैं।

तालाब में नहाने पर रोक एक-एक घर में सर्वे शुरू
ग्राम पंचायत पोंडी की ओर से मुनादी कराई गई है कि जब तक कौओं की मौत कैसे हुई, उनमें बर्ड फ्लू के वायरस थे कि नहीं, इसकी रिपोर्ट नहीं आ जाती, तब तक तालाब में नहाने पर रोक लगी रहेगी। इसके अलावा 1800 की आबादी वाले इस गांव के प्रत्येक घर में सर्वे होगा। जिनके घर में मुर्गी है उसे बताना होगा।

जांच रिपोर्ट आने में एक-दो दिन लग सकता है
जिला पशु विभाग ने रायपुर पेंडरी और वहां से कुछ विभागीय कार्रवाई करने के बाद जांच के लिए 3 मृत कौओं को भोपाल लैब भेजा गया है। बताया गया कि जहां भेजा गया है, वहां कोरोना के साथ-साथ बर्ड फ्लू वायरस की भी जांच चल रही है। इसलिए रिपोर्ट आने में एक-दो दिन लग सकते है। रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी फिलहाल सावधानी बरतने कहा गया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

    और पढ़ें