पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दुर्ग में लॉकडाउन का असर बालोद में:ट्रेन में 50% यात्री कम, सिर्फ 15 बसें ही चलीं, वह भी खाली

बालोद13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मंगलवार को बालोद-दुर्ग-दल्लीराजहरा रूट पर सिर्फ 2 बसें चलीं, ऐसी स्थिति 14 अप्रैल तक रहेगी

मंगलवार को दुर्ग में लॉकडाउन लगा लेकिन असर दिनभर जिले में दिखा। ट्रेन और बसों में यात्रियों का टोटा रहा। सुबह 6.15 बजे बालोद से रवाना हुई केंवटी रायपुर ट्रेन में सिर्फ 41 लोगों ने सफर किया। वहीं वापसी के दौरान दल्लीराजहरा, भानुप्रतापपुर के लिए 12 लोग चढ़ें। इस तरह बालोद रेलवे स्टेशन से 53 लोगों ने टिकट कटाकर ट्रेन में सफर किया।

जिसमें अधिकांश रायपुर में ही उतरे। ऐसा रेलवे के अफसर कह रहे है। चीफ स्टेशन मास्टर पीके वर्मा ने बताया कि सुबह 41 और वापसी के दौरान 12 यात्री ट्रेन में सफर किए। पहले की तुलना में लगभग 50 प्रतिशत कम यात्री सफर किए। इसका अंदाजा इसी से लगा सकते है कि 5 अप्रैल को 93 लोग सफर किए थे। जिसमें बालोद से दुर्ग, रायपुर के लिए 85 और केंवटी वापसी के दौरान 8 यात्री शामिल है। 4 अप्रैल को बालोद से 107 लोग ट्रेन में दुर्ग, रायपुर तक के लिए टिकट कटाकर सफर किए थे। वापसी के दौरान 5 यात्री सफर किए थे। अफसर भी स्वीकार कर रहे है कि आंशिक असर पड़ा है।

जानिए, मंगलवार को किस रूट पर कितनी बसें चलीं
1. बालोद-धमतरी-राजनांदगांव रूट- सुबह से शाम तक कुल 12 बसें चली। इसके पहले 38-40 बसें चल रही थी। यात्रियों की संख्या कम रही।
2. घोटिया-चारामा रूट- सुबह सिर्फ एक ही बस चली। पहले दो बसें चलती थी। यात्रियों की संख्या कम रही।
3. बालोद-दुर्ग-दल्लीराजहरा रूट- सुबह से दोपहर तक सिर्फ 2 बसें दुर्ग से बालोद होकर दल्लीराजहरा पहुंची। लेकिन शाम 5.30 बजे तक वापस नहीं आ पाई। पहले 49-51 बसें चल रही थी।

शाम तक दोबारा दल्ली से बालोद नहीं आई बस
बस एम्पलाइज वेलफेयर सोसायटी के अनुसार मुख्य रूट में सुबह से शाम तक 93 में से 15 बसें ही चली। यात्रियों की संख्या भी कम रही है। दो दिन पहले ही सूचना दे रहे थे इस कारण से अधिकांश लोग अपने सुविधानुसार काम के सिलसिले में दूसरे साधन से पहुंचे। किसी बस में 3 तो किसी में 4-5 लोग ही सफर किए। दुर्ग से जो दो बस बालोद से दल्लीराजहरा पहुंची, वह खाली रही। इसका अंदाजा इसी से लगा सकते है कि देर शाम तक दल्लीराजहरा से बस बालोद नहीं आ पाई थी।

दुर्ग में लॉकडाउन तक ऐसे हालात रहने का अनुमान
बस एम्पलाइज वेलफेयर सोसायटी के जिला अध्यक्ष शेख इमरान अहमद ने बताया कि दुर्ग में लॉकडाउन के चलते आवागमन की दृष्टिकोण से असर यहां ज्यादा पड़ा, सुबह से शाम तक जिस रूट पर हर 30 मिनट में बसें चलती थी, वहां ऐसी स्थिति नहीं थी। सूचना मिल गई थी इसलिए जरूरत अनुसार कम यात्रियों ने ही सफर किए। फिलहाल ऐसी स्थिति 14 अप्रैल तक रहने का अनुमान लगा रहे है, क्योंकि दुर्ग जिला प्रशासन ने 14 तक लॉकडाउन का निर्णय लिया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी मेहनत और परिश्रम से कोई महत्वपूर्ण कार्य संपन्न होने वाला है। कोई शुभ समाचार मिलने से घर-परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। धार्मिक कार्यों के प्रति भी रुझान बढ़ेगा। नेगेटिव- परंतु सफलता पा...

    और पढ़ें