10 बेड की सुविधा:खलारी कोविड सेंटर में 50 ऑक्सीजन बेड की मिलेगी सुविधा

बालोद6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खलारी सेंटर के सामने निरीक्षण करते संसदीय सचिव व अफसर। - Dainik Bhaskar
खलारी सेंटर के सामने निरीक्षण करते संसदीय सचिव व अफसर।
  • अर्जुंदा व गुंडरदेही के व्यापारियों ने की पहल, गुंडरदेही ब्लॉक में एकमात्र सेंटर में थी बेड की कमी, रेफऱ हो रहे थे केस

गुंडरदेही ब्लॉक के एकमात्र खलारी कोविड सेंटर में 50 ऑक्सीजन बेड की सुविधा मिलेगी। वर्तमान में यहां 60 बेड है। जिसमें से 10 बेड में ऑक्सीजन सप्लाई शुरू हो गई है। धीरे-धीरे ऑक्सीजन बेड की संख्या बढ़ने की बात कही जा रही है। दरअसल आने वाले समय में सिलेंडर की उपलब्धता अनुसार 50 बेड पर भर्ती मरीजों को ऑक्सीजन सप्लाई करने की प्लानिंग बनी है।

इस संबंध में संसदीय सचिव व गुंडरदेही विधायक कुंवर सिंह निषाद ने प्रभारी मंत्री, कलेक्टर जनमेजय महोबे, बीएमओ, एसडीएम, तहसीलदार सहित अन्य संबंधितों से चर्चा की है। सिलेंडर आसानी से उपलब्ध नहीं हो पा रहा है इसलिए धीरे-धीरे ऑक्सीजन बेड की संख्या बढ़ाने की बात अफसर कह रहे हैं।

वहीं प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत को पत्र भेजकर संसदीय सचिव ने मांग की है कि कोविड सेंटर खलारी में 60 बेड की व्यवस्था है। यदि यहां पर 50 बेड में भर्ती मरीजों के लिए ऑक्सीजन सप्लाई शुरू होता है तो बालोद, दुर्ग, धमतरी के लिए जरूरतमंदों को भटकना नहीं पड़ेगा। सेंटर में पर्याप्त जगह उपलब्ध है। ऐसे में आप भी तत्काल सकारात्मक पहल करें। सामान्य की तुलना में ऑक्सीजन बेड की जरूरत ज्यादा है। कई अस्पतालों में भटकने की नौबत आ रही है।

10 सिलेंडर उपलब्ध कराएगा गुंडरदेही व्यापारी संघ

संसदीय सचिव निषाद ने बताया कि अर्जुन्दा व गुंडरदेही व्यापारी संघ की ओर से 10 सिलेंडर उपलब्ध कराने का निर्णय लिया गया है। आपातकाल में व्यापारियों की यह अच्छी पहल है। प्रशासन, शासन, व्यापारियों व जनसहयोग के संयुक्त प्रयास से ही मरीजों को ऑक्सीजन बेड की सुविधा मिलेगी। वहीं मंत्री ने जरूरत अनुसार ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था करने अफसरों को दिए हैं, ताकि केस रेफर करने की नौबत न आए।

रेफर हो रहे थे इसलिए जरूरी है ऑक्सीजन बेड

अब गुंडरदेही व डौंडी ब्लॉक में ज्यादा मरीज मिल रहे हैं। इस हिसाब से ऑक्सीजन बेड व पर्याप्त सुविधा नहीं है। मजबूरी में संक्रमितों को होम आइसोलेट होने की नौबत आ रही है। बालोद कोविड अस्पताल में सभी बेड फुल है। डौंडी वालों के लिए शहीद अस्पताल में भर्ती होने का विकल्प है। यहां जल्द ही 100 ऑक्सीजन बेड का सेंटर शुरू करने की तैयारी चल रही है। देवरीबंगला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में 20 ऑक्सीजन बेड है। गुंडरदेही में पर्याप्त ऑक्सीजन बेड नहीं है।

सिलेंडर की उपलब्धता अनुसार बेड बढ़ाएंगे

गुंडरदेही बीएमओ डॉ. रेणुका प्रसन्नो ने बताया कि खलारी कोविड सेंटर में 10 ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था कर ली गई है। सिलेंडर की उपलब्धता अनुसार आगे और भी बेड में ऑक्सीजन सप्लाई कर मरीजों को सुविधा दिलाएंगे। कलेक्टर भी प्रयास कर रहे हैं कि जितना जल्दी हो सकें, यहां ज्यादा बेड में भर्ती मरीजों को ऑक्सीजन सपोर्ट मिल सके। संक्रमितों से भी अपील कर रहे है कि आॅक्सीजन लेवल डाउन होने के बाद तत्काल भर्ती हो। ज्यादा डाउन होने से स्थिति बिगड़ जाती है।

खबरें और भी हैं...