35 साल में ऐसा पहली बार:जिले में मकर संक्रांति पर 6 घंटे हुई बारिश

बालोद5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • डौंडी ब्लॉक में 3.4 मिमी बरसा पानी, आज भी बारिश संभव

बंगाल की खाड़ी से आ रही नमीयुक्त हवा व द्रोणिका सिस्टम सक्रिय होने की वजह से शुक्रवार को सुबह मौसम बदला और 5.30 से 11 बजे के बीच शहर सहित गांवों में रुक-रुककर बारिश हुई। ऐसी स्थिति 35 साल में मकर संक्रांति के दिन पहली बार बनी। इसके पहले मकर संक्रांति पर इतनी बारिश नहीं हुई थी।

ऐसा राजस्व विभाग में पिछले 38 साल से पदस्थ वरिष्ठ पटवारी सीआर साहू (61) का कहना है। उन्होंने बताया कि पिछले 35 साल में जनवरी माह में कई बार बारिश हुई है लेकिन मकर संक्रांति पर बारिश पहली बार हुई है। वहीं सुबह 8.30 बजे तक डौंडी ब्लॉक में 3.4 मिमी बारिश हुई। मौसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा ने बताया कि बंगाल की खाड़ी से नमी युक्त गरम हवा आ रही है।

एक द्रोणिका दक्षिण अंदरूनी कर्नाटक से उत्तर अंदरूनी उडीसा तक स्थित है। जिसके प्रभाव से बारिश हुई। 15 जनवरी को प्रदेश के एक-दो स्थान पर हल्की बारिश होने या गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी होने की संभावना है। अधिकतम तापमान में वृद्धि होने की संभावना है। उत्तर छग में उत्तर से ठंडी और शुष्क हवा आने के कारण सुबह कोहरा छाए रहने की संभावना है।
दोपहर में धूप फिर शाम तक छाए रहे बादल
सुबह 11 बजे के आसपास बारिश थमी। जिसके बाद धूप खिली रही। हालांकि शाम तक मौसम में उतार-चढ़ाव जारी रहा। धूप की तुलना में ज्यादा समय तक बादल छाए रहे। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 22 डिग्री और न्यूनतम तापमान 15 डिग्री रहा। साथ ही ठंडी हवा चलने की वजह से ठंड का अहसास हुआ। गुरुवार को भी दिनभर बादल छाए रहे। शनिवार को भी कहीं-कहीं बूंदाबांदी या हल्की बारिश हो सकती है। अब भी खाड़ी से नमीयुक्त हवा आ रही है।

खबरें और भी हैं...