बालोद जिले में दिल दहला देने वाली घटना:शादी के दूसरे दिन ही दुल्हन ने फांसी लगाकर दी जान, कोई सुसाइड नोट नहीं मिला; कारणों की तलाश में जुटी पुलिस

बालोद7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बालोद जिले के दल्लीराजहरा में नवविवाहिता ने शादी के दूसरे दिन ही खुदकुशी कर ली है। - Dainik Bhaskar
बालोद जिले के दल्लीराजहरा में नवविवाहिता ने शादी के दूसरे दिन ही खुदकुशी कर ली है।

छत्तीसगढ़ के बालोद जिले के दल्लीराजहरा थाना क्षेत्र में एक नवविवाहिता ने शादी के दूसरे दिन ही फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है। नवविवाहिता ने आख़िर इतना बड़ा कदम क्यों उठाया। यह अभी जांच का विषय बना हुआ है। जानकारी के अनुसार दल्लीराजहरा के वार्ड क्रमांक 12 निवासी महेश निषाद के पुत्र अनिल निषाद का की शादी ग्राम लोण्डी के युवती उमेश्वरी निषाद से 28 अप्रैल को सामाजिक रीति रिवाज के साथ हुआ था। फिलहाल दल्लीराजहरा पुलिस ने पूरे मामले की जांच में जुट गई है।

रिसेप्शन के कुछ घंटों बाद मातम में बदली खुशियां

शादी के दूसरे दिन दूल्हे के घर में रिसेप्शन का कार्यक्रम हुआ। पूरा परिवार नई बहू लाने की खुशियां मना रहा था और दूल्हा महेश अपनी शादी के बाद गृहस्थ जीवन के सपने सजा रहा था। लेकिन परिवार की सारी खुशियां चंद घंटों में मातम में तब्दील हो गई। जब उसको पता चला कि उसकी पत्नी ने खुदकुशी कर ली है। जब सुबह नहाने के बाद अपने कमरे में जाकर देखा तो फांसी के फंदे में झूलती मिली।

बालोद जिले के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ASP) बी.आर.पोर्ते ने दैनिक भास्कर को बताया कि युवती के घर वाले चौथा लेकर आए हुए थे और वह उनके साथ सोई भी थी। लेकिन, पता नहीं किन कारणों से उसने खुदकुशी की है। फिलहाल दोनों पक्षों से बयान लिया जाएगा और बयान के बाद अगर किसी प्रकार से युवती को प्रताड़ित करना पाया जाएगा, तो आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। मृतका के शव के पास किसी प्रकार कोई सोसाइडल नोट नहीं मिला है।

बड़ा सवाल कि आखिर नवविवाहिता ने यह कदम क्यों उठाया
इस पूरे प्रकरण में दल्लीराजहरा पुलिस जांच में जुटी है और पता करने की कोशिश कर रही है कि आखिर क्या कारण है कि नवविवाहित के हाथों की मेहंदी भी नहीं उतरी थी और आखिर उसने इतना बड़ा कदम उठा लिया।

खबरें और भी हैं...