पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मनरेगा व टैक्स ने बना दी अलग होने की दीवार:चुनाव से पहले नगर पंचायत में शामिल होने के बाद फिर से अलग हुए पांच गांव

बालोद3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

अमूमन आप सुनते आए होंगे कि गांव, कस्बा को जोड़कर नगर पंचायत में शामिल किया जाएगा क्योंकि जनसंख्या कम पड़ रही लेकिन डौंडी और चिखलाकसा में स्थिति विपरीत है क्योंकि डौंडी नपं के 2 वार्ड और चिखलाकसा के 3 वार्ड को अलग कर ग्राम पंचायत का दर्जा दिया जाएगा। वैकल्पिक व्यवस्था के तहत अभी आसपास के ग्राम पंचायत में अटैच किया जा सकता है, लेकिन बाद में नियमानुसार स्वतंत्र ग्राम पंचायत का दर्जा मिलेगा, फिर नगर पंचायत के हिस्से में वार्ड नहीं आएंगे। शासन स्तर से नगर पंचायत से वार्ड अलग होने की सूचना संबंधित आदेश राजपत्र में प्रकाशन होने के साथ ही यहां भी स्थानीय स्तर पर आगे के लिए रूपरेखा तैयार की जा रही है। लोग नपं का दर्जा मिलने के बाद शासन की महत्वाकांक्षी योजना मनरेगा यानी रोजगार गारंटी का लाभ उठाना चाह रहे थे, यूं कहे कि मनरेगा ने नगर पंचायत से वार्डों के अलग होने की दीवार बना दी, सुनने में भले अटपटा लगे लेकिन यह सच है। लोग कह रहे थे कि नपं में रहने के बाद संपत्ति, समेकित, जलकर ज्यादा देना पड़ रहा है।

यह भी जानें आप

  1. भाजपा की सत्ता में 13 साल पहले चिखलाकसा को तीन वार्ड 1, 14 व 15 (कारूटोला, कुंजामटोला, भोयरटोला) जुड़ने के बाद नगर पंचायत का दर्जा मिला था।
  2. ग्राम पंचायत में शामिल करने की मांग को लेकर लोग चुनाव का बहिष्कार कर अनूठे तरीके से विरोध करते आ रहे थे। डौंडी के अलग होने वाले वार्ड में चुनाव जीतकर पार्षद इस्तीफा देते थे।
  3. चिखलाकसा में दो बार मुख्य चुनाव व लगभग 14 बार उपचुनाव हो चुके है। लेकिन तीन वार्ड में पार्षद पद रिक्त ही रहे।
  4. डौंडी में अब तक 3 बार 2005, 2009 और 2014, 2019 में मुख्य चुनाव हो चुके है। दो वार्ड में हर बार चुनाव के बाद पार्षद तय हो जाते है लेकिन वे इस्तीफा दे देते है।
  5. डौंडी में वर्ष 2009 में एक बार ऐसा मौका आया जब एक व्यक्ति पार्षद पद में पांच साल तक बना रहा, जबकि वार्डवासी इसका विरोध करते रहे।
  6. वर्तमान में जिले में 8 नगरीय निकाय है। दल्लीराजहरा में 27, बालोद में 20 वार्ड है। बाकी 6 नगर पंचायत गुरूर, गुंडरदेही, अर्जुन्दा, डौंडी, डौंडीलोहारा, चिखलाकसा में 15-15 वार्ड है।
  7. वर्तमान में जिले में 435 ग्राम पंचायत है। दो ग्राम पंचायत और बनने से संख्या 437 हो जाएगी।

वैकल्पिक व्यवस्था बनाने के लिए दो विकल्प
2 नपं से 5 वार्ड को अलग करने की औपचारिक कार्रवाई चल रही है। स्वतंत्र ग्राम पंचायत का दर्जा मिलने तक वैकल्पिक व्यवस्था बनाने आसपास ग्राम पंचायत में वार्डाे को शामिल किया जा सकता है। उकारी के पंडित आर्य, धनसाय रावटे, ज्ञानसिंह मरकाम, थानसिंह निषाद, लखन हिड़को ने बताया कि डौंडी नगर पंचायत से अलग होने के बाद जल्द ही अलग से उकारी को स्वतंत्र ग्राम पंचायत का दर्जा दिया जाना चाहिए। 2011 जनगणना अनुसार 650 मतदाता थे, आगे जनगणना होगी तो 700 मतदाता होने का अनुमान है। जनसंख्या लगभग एक हजार हो जाएगी। जो स्वतंत्र ग्राम पंचायत के मापदंड अनुरूप है। गांव स्तर पर प्रत्येक घर में सर्वे कर जनगणना की जा चुकी है।

नए सिरे से 2 नपं के 25 वार्डों का परिसीमन होगा, आरक्षण बदलेगा
नगरीय निकाय चुनाव के पहले डौंडी के बचे 13 और चिखलाकसा के 12 वार्डों का नए सिरे से परिसीमन होगा ताकि दोबारा 15 वार्ड हो सकें। आरक्षण भी बदलेगा।

राजनीतिक मायने क्या: डौंडी नपं से अलग होने वाले दो वार्ड उकारी को कांग्रेस का गढ़ माना जाता है, ऐसे में नए सिरे से परिसीमन व आरक्षण बदलने की स्थिति में राजनीतिक बदलाव भी देखने को मिल सकता है। वर्तमान में चिखलाकसा व डौंडी नपं में भाजपा के अध्यक्ष काबिज है।

आम लोगों पर इस तरह का प्रभाव: परिसीमन होने की स्थिति में कई वार्ड के मतदाता प्रभावित हो सकते है। ऐसे में चुनाव में सीधा असर देखने को मिलेगा, क्योंकि एक-एक वोट कीमती है।

अफसर कह रहे: आदेश मिलते ही कार्रवाई करेंगे
अलग करने राजपत्र में प्रकाशन: जिपं सीईओ लोकेश चंद्राकर ने बताया कि हमें अभी दस्तावेज नहीं मिला है। यह मिलते ही नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। 5 वार्ड को नगर पंचायत से अलग करने राजपत्र में प्रकाशन होने की सूचना मिली है।
परिसीमन, विभागीय प्रोसेस में समय लगेगा: नपं चिखलाकसा के सीएमओ आरएल सोनी ने बताया कि नए सिरे से परिसीमन होने में अभी समय है। अभी अलग होने वाले तीन वार्ड की व्यवस्था को लेकर आदेश आने का इंतजार कर रहे है।

परिसीमन को लेकर निर्देश आने का इंतजार: उप जिला निर्वाचन अधिकारी प्रेमलता चंदेल ने बताया कि परिसीमन को लेकर अभी निर्देश नहीं आया है। आदेश के आधार पर नियमानुसार आगे की कार्रवाई होगी।
अधिसूचना जारी हो चुकी है: नपं डौंडी सीएमओ कन्हैयालाल निर्मलकर ने कहा कि नगर पंचायत से 2 वार्ड अलग करने को लेकर अधिसूचना जारी हो चुकी है। शासन के आदेशानुसार आगे नियमानुसार कार्रवाई होगी।

जनपद सीईओ, एसडीएम इस पर करेंगे कार्रवाई
जनपद सीईओ, एसडीएम अपने स्तर पर कार्रवाई करेंगे। स्वतंत्र ग्राम पंचायत का दर्जा दिलाने को लेकर एसडीएम, जिपं सीईओ, कलेक्टर से प्रस्ताव शासन को भेजा जाएगा। जिसके आधार पर शासन अनुमति देगी कि आगे क्या करना है। इसी अनुसार स्थानीय स्तर पर कार्रवाई होगी। संबंधित ग्रामीणों को शासन की योजनाओं का भी लाभ मिलेगा।

जानिए, इस तरह मिला था नगर पंचायत का दर्जा
28 फरवरी 2003 के पहले डौंडी ग्राम पंचायत हुआ करती थी, तब उकारी आश्रित गांव था। इसके बाद 8 हजार 42 की जनसंख्या व 15 वार्ड के साथ डौंडी नगर पंचायत अस्तित्व में आई। वहीं 2008 में 6 हजार 160 की जनसंख्या व 15 वार्ड के साथ चिखलाकसा नगर पंचायत अस्तित्व में आई लेकिन 5 वार्ड के लोग विरोध करते रहे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें