अफसर बोले- डरें नहीं, सावधानी जरूरी:कोरोना का कहर: पिछले हफ्ते से फिर घट-बढ़ रहा है संक्रमण जिला प्रशासन अलर्ट: मास्क लगाने में लापरवाही की आशंका

बैकुंठपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • तीन दिन से रोज 6 मरीज मिल रहे, एक्टिव केस 35 पहुंचे
  • लोगों की लापरवाही को लेकर जिला प्रशासन ने फिर से शुरू कर दी सख्ती, वसूला जा रहा जुर्माना

शहर में कोरोना का संक्रमण पिछले हफ्ते से फिर घट-बढ़ रहा है। पहले एक्टिव केस अधिक थे तो रोज 2 से 3 नए केस सामने आ रहे थे, अब तीन दिन से रोज 6 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के साथ एक्टिव केस संख्या फिर बढ़ने लगी है। ऐसे स्थिति चिंताजनक होती जा रही है। मामले में जिला प्रशासन ने एक बार फिर सख्ती शुरू कर दी है, ऐसे में जरूरी है कि सतर्क रहे व मास्क जरूर लगाएं।

खास है सैम्पलिंग भी रोजाना हजार से 12 सौ हो रही है, लेकिन जो नए संक्रमित मिल रहे हैं, वे किस तरह चपेट में आए, इसका सोर्स ही नहीं मिल रहा, इससे नई परेशानी सामने आती दिख रही है। डॉक्टरों से केवल इतनी जानकारी मिली सकी है कि कुछेक पॉजिटिव मरीज मास्क ठीक से नहीं लगा रहे थे। बहरहाल, अब स्वास्थ्य विभाग एक्टिव मरीजों के इलाज कराने के साथ, उनके परिजनों व नजदीकी लोगों के सैम्पल लेने के साथ उनके निवास पर फिर एक बार बैरेकेडिंग करने लगा है। हालांकि जिले के कोविड अस्पतालों की बात करें तो यहां पूरा अस्पताल खाली है। यानी वायरस के गंभीर लक्षण नहीं दिख रहे हैं। इसमें सामान्य बुखार के साथ अन्य लक्षण नजर आ रहे हैं। डॉक्टर कह रहे हैं कि संक्रमण बढ़ता देख एहतियात बरतना जरूरी है। पिछले 7 दिनों से नए मामलों को बढ़ता देखा जा रहा है, भले ही मामूली संख्या भी बढ़ी हो, लेकिन चिंता तीसरी लहर की है। इसके लिए पॉजिटिव मरीजों के निवास, पिछली बातें आदि तो मिल जा रही है, लेकिन कॉन्टैक्ट ट्रैसिंग नहीं मिल पा रही। इसके चलते एक्टिव मरीजों को फिलहाल को होम आइसोलेट किया गया है।

नए केस बढ़ रहे, तीसरी लहर कहना ठीक नहीं
सीएमएचओ डॉ रामेश्वर शर्मा ने बताया जिले में संक्रमण के नए केस जरूर बढ़ रहे हैं, लेकिन इसे तीसरी लहर कहना ठीक नहीं है। संक्रमण दर में खास बढ़ोतरी नहीं है, लेकिन जरूरी है कि लोग सावधानी बरतें व सतर्क रहते हुए मास्क लगाएं।

सीएमएचअाे ने कहा- 11,900 डाेज उपलब्ध
जिले में वैक्सीन के 11 हजार 900 डाेज हैं। कोविशील्ड के 9 हजार व कोवैक्सिन के 2,900 डाेज हैं। जिला अस्पताल में कोविशील्ड के 1 हजार 200 व कोवैक्सिन के 600 डाेज हैं। मनेन्द्रगढ़ में 1,500 व 600, खड़गवां में हजार व 300, जनकपुर में हजार व 500, चिरमिरी में हजार, 500 व 300, सोनहत में हजार व 500, पटना में हजार व 300 व जिला वैक्सीन स्टोर में 400 डोज हैं।

मास्क की लापरवाही को लेकर होगी सख्ती
नए संक्रमित मरीजों के बढ़ते केस को देखते हुए प्रशासन ने मास्क की लापरवाही को लेकर पुलिस को सख्ती के साथ कार्रवाई करने के निर्देश दिये हैं। पुलिस व निकायों के कर्मचारी मास्क नहीं लगाने वालों पर जुर्माने की कार्रवाई कर रहे हैं।

कलेक्टर ने मप्र छग सीमा निरीक्षण किया
इधर कलेक्टर कोरिया श्याम धावड़े ने छग मध्यप्रदेश के घुटरीटोला आरटीओ बैरियर का औचक निरीक्षण किया है। आरटीओ बैरियर के रजिस्टर की जांच के साथ वहां मौजूद अधिकारियों व कर्मचारियों काे जरूरी दिशा निर्देश दिये हैं। इस दाैरान सीईओ जिला पंचायत कुणाल दुदावत व एसडीएम मनेन्द्रगढ़ समेत कई अधिकारी मौजूद रहे।

जिले में एक लाख 94 हजार लोगों को लगे टीके
प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि जिले में वैक्सीन के 11 हजार 900 डोज उपलब्ध हाेने के बाद अब टीकाकरण में फिर एक बार तेजी आएगी। जिले में अब तक 1 लाख 94 हजार 744 टीके लग चुके हैं। वहीं 44 हजार 804 लाेगाें ने वैक्सीन के दाेनाें डाेज लगवा लिया है। जिले में 8,644 स्वास्थ्य कर्मियों को पहला डाेज, जबकि 6 हजार 883 काे दोनों डाेज के टीके लग चुके हैं।

खबरें और भी हैं...