मौसम की मार:बारिश का असर... लगातार पांचवें दिन धान खरीदी बंद, सोमवार से शुरू होने का अनुमान

बालोद6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले के 138 केंद्रांे में 1 लाख 210 किसान अब तक बेच चुके 37.87 लाख क्विंटल धान

बेमौसम बारिश होने की वजह से जिले के अधिकतर केंद्रों में शुक्रवार को भी धान खरीदी बंद रही। लगातार 5वें दिन ऐसी स्थिति बनी। हालांकि कितने केंद्र में खरीदी हुई और कितने में बंद रही, इस संबंध में विभागीय अफसर एक-एक केंद्र से जानकारी मिलने के बाद ही कुछ कहने की बातें कह रहे हैं लेकिन स्वीकार कर रहे हैं कि ज्यादातर केंद्र में खरीदी नहीं हो पाई, कहीं बारिश की वजह तो कहीं केंद्र में जमीन गीली होना वजह रही।

नोडल अफसर एसके वैदे, सहायक नोडल अफसर ईस्दा व कम्प्यूटर ऑपरेटर बता नहीं पा रहे हैं कि कितने केंद्रों में खरीदी बंद रही। बहरहाल रविवार से बारिश होने के बाद से अब तक किसान धान बेच नहीं पाए हैं। गुरुवार को सिर्फ डौंडी व गुरुर केंद्र में खरीदी शुरू हुई थी लेकिन बाकी केंद्रों में बंद की स्थिति थी।

अब शनिवार और रविवार को भी शासकीय अवकाश के चलते खरीदी बंद रहेगी। ऐसे में इस दौरान मौसम खुलने की स्थिति में केंद्रों में सोमवार से खरीदी शुरू होने का अनुमान है हालांकि कितनें केंद्रों में खरीदी शुरू हो पाएगी, इस पर संशय की स्थिति है, वजह यह है कि जमीन गीला है।

इस सीजन बारिश की वजह से 9 दिन बंद रही खरीदी
दिसंबर के अंतिम सप्ताह से लेकर जनवरी के दूसरे सप्ताह के बीच 9 दिन जिले के अधिकतर केंद्रों में बारिश की वजह से धान खरीदी बंद रही। जनवरी अंत तक खरीदी पूरी करने शासन की ओर से फरमान जारी किया गया है। लेकिन बारिश की वजह से खरीदी प्रभावित हो रही है। इसकी जानकारी शासन को भी है।

ऐसे में तय समय तक किसान धान बेच नहीं पाएंगे तो अतिरिक्त समय दिया जा सकता है। हालांकि स्थानीय विभागीय अफसरों का कहना है कि इस संबंध में शासन स्तर पर निर्णय लेकर जानकारी दी जाएगी। जिसके बाद समिति वाले स्थानीय स्तर पर किसानों को सूचना देंगे। वैसे अधिकतर किसान धान बेच चुके हैं। उम्मीद है मौसम खुलने के बाद सोमवार से अधिकतर केंद्रों में खरीदी हो जाएगी।

सुबह से रुक-रुककर होती रही हल्की बारिश
शुक्रवार को सुबह रुक-रुककर से हल्की बारिश होने का सिलसिला जारी रहा। जिला सहकारी केंद्रीय मर्यादित बैंक के अनुसार एक लाख 210 किसान 138 केंद्रांे में 37 लाख 87 हजार 150.80 क्विंटल धान बेच चुके हैं। जिसमें 17 लाख 26 हजार 638.61 क्विंटल धान का उठाव गुरुवार शाम तक हो गया था। 20 लाख 60 हजार 512.19 क्विंटल धान केंद्रों में जाम था। अब तक खरीदे गए धान की कुल कीमत 737 करोड़ 86 लाख 79 हजार 136 रुपए है।

अब भी 38 हजार किसान नहीं बेच पाए हैं धान
जिला सहकारी केंद्रीय मर्यादित बैंक व सेवा सहकारी समितियों के अनुसार अब भी पंजीकृत 38 हजार से ज्यादा किसान धान बेच नहीं पाए है। समर्थन मूल्य पर धान बेचने के लिए जिले के सभी ब्लॉक में एक लाख 38 हजार 754 किसान पंजीकृत है। जिसमें एक लाख 210 किसान धान बेच चुके है। इस सीजन समर्थन मूल्य पर धान बेचने 8 हजार से ज्यादा किसानों ने पहली बार पंजीयन करवाया है। किसानों को मौसम खुलने का इंतजार है।

खबरें और भी हैं...