मौसम में बदलाव / नाैतपा के पहले तपा शहर, सीजन में पहली बार पारा 42 डिग्री पर

First Tapa city of Naitapa, mercury at 42 degrees for the first time in the season
X
First Tapa city of Naitapa, mercury at 42 degrees for the first time in the season

  • ऐसा इसलिए क्योंकि नमी की मात्रा महज 13% रही, राजस्थान से आ रही गर्म हवाएं, उमस के कारण लोग हलाकान हो रहे, बूंदाबांदी के आसार

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

बालोद. नौतपा के दो दिन पहले शुक्रवार को बालोद शहर सहित जिलेभर में सूर्य की तपिश ज्यादा रही।  इस सीजन में पहली बार दोपहर 2 बजे दिन का अधिकतम तापमान 42 डिग्री पर पहुंचा। इस दौरान नमी की मात्रा महज 13 फीसदी रही। सुबह से दोपहर तक मौसम साफ रहने के अलावा 11 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से गर्म हवाएं चली। लिहाजा गर्मी व उमस का सामना करना पड़ा। न्यूनतम तापमान 26 डिग्री रहा। पिछले 48 घंटे में दिन व रात का तापमान 2-2 डिग्री बढ़ा। मई में अब तक अधिकतम तापमान  41 डिग्री पहुंचा था। इसके बाद मौसम में उतार-चढ़ाव होने से ज्यादा गर्मी नहीं लग रही थी। मौसम विभाग की मानें तो आने वाले चार दिन अधिकतम तापमान 40 डिग्री के ऊपर ही रहने का अनुमान है। लिहाजा तेज गर्मी बरकरार रहेगी। वहीं दो दिन बाद नौतपा की शुरूआत हो जाएगी जो दो जून तक रहेगा। मान्यता अनुसार चंद्र के  रोहिणी नक्षत्र में आने से सूर्य की तपिश ज्यादा रहती है यानि गर्मी ज्यादा लगती है। जबकि मौसम विभाग के अनुमान अनुसार नौतपा शुरूआत में तपेगा लेकिन सभी 9 दिन नहीं, क्योंकि दूसरे राज्यों में द्रोणिका, चक्रवात सिस्टम बनने से तेज गर्मी के अलावा बूंदाबांदी, बारिश के भी आसार हैं। 
इस बार भी ऐसे ही आसार
पिछले साल मई के 19 दिन द्रोणिका, चक्रवात तूफान के कारण तेज गर्मी नहीं लगी। इस बार भी ऐसे ही आसार है। मौसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा का कहना है कि नौतपा में कभी तेज धूप से गर्मी व उमस तो कभी मौसम में बदलाव से तापमान में गिरावट आएगी। गर्म हवाएं चलेंगी। 
तेज गर्मी, पड़ेगी बौछार
मौसम विभाग की मानें तो नौतपा में जैसे ही तेज गर्मी पड़ेगी, गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी, बौछारें पड़ने की संभावना भी बढ़ेगी, क्योंकि ज्यादा गर्मी से बादल बनेंगे। जो बरस सकते हैं। हालांकि यह मौसम विभाग का अनुमान है। जो पिछले कई साल से सही साबित हो रहा है।
एक सप्ताह पहले हो चुकी है 115 मिमी बारिश
वैसे मई के पहले सप्ताह में तेज गर्मी के बाद मौसम में उतार-चढ़ाव रहा। द्रोणिका व चक्रवात सिस्टम के चलते जिले में बूंदाबांदी, बारिश हो चुकी है, वह भी ओले गिरने के साथ। एक सप्ताह पहले रिकॉर्ड 115 मिमी बारिश हो चुकी है। शु़क्रवार को सुबह तेज गति से हवा भी चली। आने वाले समय में  मौसम में बदलाव की उम्मीद की जताई है। 
खाड़ी से नमी व राजस्थान की ओर से गर्म हवा आ रही
मौसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा ने बताया कि बंगाल की खाड़ी से नमी आ रही है और राजस्थान की ओर से गर्म हवा आ रही है। यहां से आ रही गर्म और शुष्क हवा आने का सिलसिला मई तक जारी रहेगा। यह तभी रुकेगा जब समुद्र में कोई हलचल या छत्तीसगढ़ के आसपास कोई बड़ा सिस्टम बनेगा। जो हर साल मई के अंतिम सप्ताह में बनता है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना