अव्यवस्था / डौंडी की महतारी एक्सप्रेस को लोग देते हैं धक्का, तब हो पाती है चालू

People push the Mahtari Express of Daundi, then it becomes operational
X
People push the Mahtari Express of Daundi, then it becomes operational

  • मलेरिया के लिए संवेदनशील क्षेत्र में कोई सुविधा नहीं

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

डौंडी. आदिवासी ब्लॉक मुख्यालय डौंडी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कई सालों से डॉक्टरों की कमी बनी हुई है। वैसे तो शासन ने इस अस्पताल के संचालन के लिए डॉक्टर से लेकर स्वीपर तक कुल 47 स्टाफ की पदस्थापना की है, परंतु व29 कर्मचारी कार्यरत हैं। 18 विभिन्न पद रिक्त है। जिसमें 6 पद तो डॉक्टरों का हैं। 
बालोद जिले का आदिवासी ब्लाॅक डौंडी में हमेशा से ही डॉक्टरों की कमी रही है। कई बार विभागीय अफसरों को अवगत कराने के बावजूद भी यहां की समस्या नहीं सुधर सकी। अभी 50 से 80 मरीज रोजाना ओपीड़ी में इलाज कराने पहुंचते हैं। यहां एंबुलेंस नहीं है। आसपास गांव वालों द्वारा इमरजेंसी में फोन करने पर पीएचसी घोटिया और जिला मुख्यालय बालोद के एंबुलेंस के माध्यम से यहां पर मरीजों को लाया जा रहा है।
कांकेर जिले की सीमा से लगने और जंगल पहाड़ वाले क्षेत्र होने से डौंडी ब्लाॅक को स्वास्थ्य विभाग ने मलेरिया के लिए हाईरिस्क एरिया में रखा है क्योंकि डाैंडी क्षेत्र के ग्राम कुसुमटोला, मरारटोला, बम्हनी, कटरेल, कोपेडेरा, कुमुड़कट्टा, नलकसा, नारगसुर, तुवेदंड, हिड़कापार, कोटागांव, आड़ेझर, खैरवाही, कामता, आंवराटोला, मरकाटोला, पेवारी, पुसावड़, नर्रालगुड़ा, मगरदाह, मरदेल, चिहरो, दिग्वाड़ी, आमाडुला, मथेना, बोहरडीह, पुतरवाही, सिघोला, बेलोदा आदि गांवों में मलेरिया रोग के मरीज अधिक संख्या मे निकलते हैं। डेंगू बुखार टाइफाइड उलटी दस्त के मरीज यहां आए दिन निकलते रहते हैं। 
विशेषज्ञ डॉक्टराें का पद खाली: डाैंडी ब्लॉक के करीब डेढ़ लाख जनसंख्या की स्वाथ्य की जिम्मेदारी शासन ने डाैंडी सीएससी काे दी है। यहां पर बीएमओ, मेडिसिन विशेषज्ञ, स्त्री रोग विशेषज्ञ, शिशु रोग विशेषज्ञ, सर्जरी विशेषज्ञ जैसे डॉक्टर का पद खाली है। इसके अलावा नर्सिंग सिस्टर का 1 पद, लेखापाल सहायक ग्रेड 2 के एक पद, कंप्यूटर ऑपरेटर के एक पद, सहायक ग्रेड 3 के एक पद ,सहायक ग्रेड 3 के लैब तकनीशियन दो पद, पुरुष परीक्षक एक पद, नॉन मेडिकल सुपरवाइजर एक पद, ड्रेसर ग्रेड वन के दाे पद, वाहन चालक, भृत्य, आया और स्लीपर का पद खाली है।

108 एंबुलेंस के पार्ट्स टूट गए, टायर चिकना हो गया
डाैंडी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में तीन-चार महीनों से 108 एंबुलेंस नहीं है। डौंडी की 108 एंबुलेंस कबाड़ हो चुकी है, जिसके कई जगहों से पार्ट्स टूट चुके हैं। साथ ही टायर भी चिकना हो गया है। इसी तरह गर्भवती व शिशुवती महिलाओं की सेवा के लिए आई महतरी एक्सप्रेस भी रखरखाव के बिना कंडम हो गया है। जिसे 4 लोगों द्वारा धक्का देने पर चालू होता है।

डाैंडी में 108 नई एंबुलेंस आने वाली है: डाॅ. ठाकुर
प्रभारी बीएमओ डौंडी डॉ नरेंद्र ठाकुर ने बताया कि डौंडी नगर के सरकारी अस्पताल में डॉक्टर व अन्य कर्मचारियों की कमी के बारे में साल में दो से तीन बार जानकारी सीएमएचओ बालोद को भेजी जाती है। 108 एंबुलेंस 102 महतारी एक्सप्रेस की कंडम हालत की जानकारी शासन को भेजी गई है। जल्द ही डाैंडी में 108 नई एंबुलेंस आने वाली है।    

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना