एडमिशन ऑफर:पहले आओ, पहले पाओ की तर्ज पर प्रवेश का अंतिम मौका आज

बालोद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • लीड कॉलेज: बीकॉम में 3 तो गणित में 50 सीटें बची
  • गर्ल्स कॉलेज: गणित में 6 सीट पर प्रवेश, 84 खाली

बुधवार का यह नजारा जिले के लीड शासकीय घनश्याम सिंह गुप्त पीजी कॉलेज का है, जहां एक ओर कक्ष में प्रवेश लेने के लिए स्टूडेंट्स की कतार लगी रही, ओपन काउंसिलिंग के तहत तत्काल दस्तावेज देखकर प्रवेश कार्ड देने का दौर चला तो दूसरी ओर सूचना पटल पर जारी मेरिट लिस्ट में नाम देखने के लिए स्टूडेंट्स के साथ पालक भी पहुंचे थे। ताकि एडमिशन ले सकें। किसी को एडमिशन मिला तो कोई वंचित रह गए। रिक्त सीटों पर एडमिशन के लिए अंतिम मौका गुरुवार को भी मिलेगा।

जिले के 13 शासकीय व 5 निजी, कुल 18 कॉलेजों में पहले आओ पहले पाओ की तर्ज पर रिक्त सीटों पर एडमिशन मिलेगा। लीड कॉलेज में गणित संकाय के फर्स्ट ईयर में 50, बीकॉम में 3 सीट खाली है। बीए की सभी 400 सीटें फुल हो गई है। वहीं गर्ल्स कॉलेज में गणित में सिर्फ 6 स्टूडेंट ने एडमिशन लिया है। बाकी 84 सीट खाली है। वहींं बीकॉम संकाय में 20 ने एडमिशन लिया है, बाकी 70 सीट खाली है। लीड और गर्ल्स कॉलेज में संकायवार कितनी सीटें खाली है, इसकी जानकारी प्राचार्य जेके खलखो और प्रोफेसर सीडी मानिकपुरी को भी मालूम नहीं है।

ओपन काउंसिलिंग में पहुंची छात्राओं ने कहा- एडमिशन से हो गए वंचित
1. सांकरी से पहुंची पेमिन साहू ने बताया की एमएससी बाटनी में एडमिशन लेने आई थी। लेकिन लिस्ट में मेरा नाम नहीं आया है। मेरा 59.94 प्रतिशत बना है।
2. सीमा कुंभकार ने बताया कि 62 प्रतिशत अंक है और एमएससी बाटनी में कटऑफ भी 62 तक ही गया है। लेकिन मेरा ओबीसी कैटेगरी के कारण नाम नहीं आया।
3. पायल देशमुख ने बताया कि 64 प्रतिशत अंक मिला है। फिर भी मुझे कॉलेज के एमएससी बाटनी संकाय में एडमिशन नहीं मिल पा रहा है। बता रहे सीटें भर गई।

अब आगे क्या- रिक्त सीटों के आधार पर समय बढ़ा सकता है दुर्ग विश्वविद्यालय
30 सितंबर के बाद सभी कॉलेज प्रबंधन रिपोर्ट भेजकर दुर्ग विश्वविद्यालय को संकायवार प्रवेश की स्थिति की जानकारी देंगे। इसके बाद सीटें रिक्त रहने की स्थिति में विवि की ओर से प्रवेश के लिए अतिरिक्त समय दिया जा सकता है। इस संबंध में आदेश जारी की जाएगी। 30 के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी की कितनी सीटें खाली रहेगी और कितने स्टूडेंट्स ने एडमिशन लिया है।

अरमरीकला में मान्यता का रोड़ा नहीं- 45 सीटें बढ़ीं
इसी सत्र से शासकीय कॉलेज अरमरीकला में बीएससी बायोलॉजी में 20 सीटें और बीए संकाय में 25 सीटें बढ़ाने शासन ने स्वीकृति दी है। विवि से संबद्धता यानी मान्यता मिलने के बाद दो दिन में ही सभी सीटें भर गई। यहां बायो के 110 सीट, बीए के 130 में स्टूडेंटस प्रवेश ले चुके है। बीकॉम में 60 सीट में से 14 और गणित में 40 सीट में से 10 सीटें खाली है।1. शासकीय कॉलेज अर्जुन्दा में बीए में 250, बीकॉम में 100, बीएससी बायो में 110 सीटें भर गई है यानी 100% एडमिशन की स्थिति है। सिर्फ गणित संकाय में 90 में से 30 सीट खाली है। यहां अर्जुन्दा नगर सहित 15 हायर सेकेण्डरी स्कूल के बच्चे 12वीं उत्तीर्ण के बाद एडमिशन लेते है।

इन प्रमुख कॉलेजों में एडमिशन की स्थिति
1. शासकीय कॉलेज अर्जुन्दा में बीए में 250, बीकॉम में 100, बीएससी बायो में 110 सीटें भर गई है यानी 100% एडमिशन की स्थिति है। सिर्फ गणित संकाय में 90 में से 30 सीट खाली है। यहां अर्जुन्दा नगर सहित 15 हायर सेकेण्डरी स्कूल के बच्चे 12वीं उत्तीर्ण के बाद एडमिशन लेते है।

2. शासकीय कॉलेज खेरथा बाजार में बीए में 70 में से सभी 70, बीएससी बायो में 70 में से 70 सीटें भर गई है। बीकॉम में 60 में से 40 सीटें भर गई है। 20 सीट खाली है। प्रबंधन के अनुसार बीकॉम के लिए कम आवेदन आए थे, इसी अनुसार मेरिट लिस्ट जारी की गई थी। 20 सीट खाली रहने की संभावना है।

खबरें और भी हैं...