पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कंद-मूल, फूल-फल के बारे में दी जानकारी:संसारगढ़ की महिलाओं ने विश्व पर्यावरण दिवस पर सीड बाॅल निर्माण व छिड़काव का लिया संकल्प

बांधाबाजार6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

समग्र सृष्टि समाज सेवी संस्था ग्राम दक्केटोला अंबागढ़ चौकी के तत्वावधान में शनिवार को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर ग्राम संसारगढ़ में स्थानीय महिला समुदाय द्वारा वन के संवर्धन के लिए आधुनिक तकनीक से सीड बाॅल निर्माण का कार्य किया गया। इस अवसर पर संस्था के पदाधिकारी केशव गुरनुले, सुनंदा मोहुर्ले एवं वनांचल वनाधिकार फेडरेशन के अध्यक्ष सुभाष पटेल और संस्था के समन्वयक जयदेव मोहुर्ले प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

संस्था प्रमुख गुरनुले ने सीड बाॅल निर्माण की आधुनिक प्रक्रिया, बीज संरक्षण और इसके छिड़काव के बारे में बताया। सुनंदा मोहुर्ले ने सीड बाॅल निर्माण कार्य के दौरान ग्रामीण महिलाओं को कोरोना के वैक्सीन गांव के सभी महिला-पुरुषों को लगाने के लिए प्रेरित किया। रोग प्रतिकारक शक्ति बढ़ाने और सामाजिक दूरी, मास्क लगाने आदि नियमों का पालन करने के लिए जानकारी दिया। लॉकडाउन जैसी विषम परिस्थिति में गांव के वनों से अनेक कंद-मूल, फूल, फल और पत्तियों की सब्जी के नाम और पकाने की विधि बताई गई। ग्रामीणों की आय का स्रोत कम हो गया: बेमौसमी वर्षा और तूफान से हजारों फलदार पौधे गिरने, फल-फूल के झड़ने से गांव के वन उपज को प्रभावित करने के कारण ग्रामीणों की आय स्रोत कम हो गया है। वन्य प्राणियों को भी भर पेट भोजन नहीं मिलने के कारण ग्रामीणों के लिए चिंता का विषय बन गया है। इसे ध्यान रखते हुए ग्राम संसारगढ़ की महिलाओं ने विश्व पर्यावरण दिवस शनिवार काे पर सीड बाॅल निर्माण करने और वन में छिड़काव करने का निर्णय लिया। संस्था समन्वयक जयदेव ने बताया कि वन की सुरक्षा और सीड बॉस बनाकर छिड़काव करने के लिए वन संवर्धन की पहली प्राथमिकता के रूप में कार्य करने की जरूरत है। अगर गांव के लोग बिना बताए या किसी मदद के बिना यदि यह कार्य करते हैं तो वन का संवर्धन होगा और पर्यावरण का संतुलन बना रहेगा। कोविड-19 के प्रोटोकाॅल के तहत स्थानीय स्तर पर उक्त कार्य संपन्न किया गया। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए कनक पटेल, अर्जुन कुमेटी,अनुसया बाई ने योगदान दिया।

खबरें और भी हैं...