न्यायालय का फैसला:विवाद होने के बाद की हत्या मामले में आरोपी को उम्रकैद

बेमेतरा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ग्राम खुड़मुड़ा में घर में बकरी घुसने पर विवाद इतना बढ़ा कि बकरी मालिक बिसम्भर यादव ने लाठी से गांव के ही नन्द यादव की हत्या कर दी। पौने दो साल पुराने इस मामले में जिला न्यायालय ने 14 गवाहों के बयान के बाद फैसला सुनाया। सत्र न्यायालय बेमेतरा के पीठासीन अधिकारी जगदीप विजय निमोणकर ने 7 अगस्त को फैसला देते हुए अभियुक्त बिसम्भर यादव पिता लक्ष्मण यादव (35 वर्ष) को भादवि की धारा 302 के मामले में दोषी सिद्ध होने पर आजीवन कारावास व 500 रुपए के दंड से दण्डित किया।

सत्र प्रकरण में लोक अभियोजक दिनेश तिवारी ने पैरवी की। मामला 19 दिसंबर 2019 का है। ग्राम खुड़मुड़ी में रात्रि 8 बजे नन्द कुमार यादव के घर बिसम्भर यादव की बकरी घुस गई थी। नन्द कुमार यादव ने बिसम्भर की पत्नी से बकरी के घर में घुस जाने की शिकायत की। इस पर दोनों के बीच विवाद और बढ़ गया। बकरी मालिक बिसम्भर यादव ने नन्द कुमार के साथ गाली-गलौज करना शुरू कर दिया। मना किया, तो बिसम्भर यादव ने लाठी से नंद कुमार के सिर को जोर से मारा। इससे वह वहीं बेहोश हो गया। 28 दिसंबर 2019 को इलाज के दौरान रायपुर में उनकी मौत हो गई।

खबरें और भी हैं...