पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सावधानी:बर्डफ्लू को देखते हुए एहतियात, उपकरण केमिकल व पीपीई किट रखने दी हिदायत

बेमेतरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बर्ड फ्लू रोकने तथा सीमावर्ती राज्यों से पक्षियों के परिवहन पर कड़ी निगरानी के भी निर्देश

प्रदेश में बर्ड फ्लू का अब तक कोई भी मामला प्रकाश में नहीं आया है। केरल, राजस्थान, मध्यप्रदेश व हिमाचल प्रदेश में बर्ड फ्लू रोग की पुष्टि होने के बाद छत्तीसगढ़ राज्य में भी इसको लेकर अलर्ट जारी किया गया है। पशुधन विकास विभाग द्वारा बर्डफ्लू के प्रवेश को रोकने के संबंध में सभी जिलों के कलेक्टर व एसपी समेत पशु चिकित्सा विभाग के जिला स्तरीय अधिकारियों को सीमावर्ती प्रदेश से पक्षियों के परिवहन पर कड़ी निगरानी रखने के निर्देश दिए गए हैं। जिलों को बर्डफ्लू रोग से निपटने के लिए आवश्यक उपकरण, रसायन व पीपीई किट तैयार रखने की भी हिदायत दी गई। सभी शासकीय व अशासकीय कुक्कुट पालन प्रक्षेत्रों व पोल्ट्री व्यवसायी केंद्रों का सर्विलेंस करने के निर्देश दिए गए हैं। बर्डफ्लू के मामले में एहतियातन पशुधन विकास विभाग द्वारा राज्य के 7 जिलों में स्थित शासकीय पोल्ट्री फार्मों से एकत्र सैम्पल की जांच में बर्डफ्लू रोग का कोई भी लक्षण नहीं पाया गया है। कृषि उत्पादन आयुक्त व सचिव डॉ. एम गीता ने बताया कि शासकीय पोल्ट्री फार्म से बर्डफ्लू की जांच पड़ताल के लिए वहां से सैम्पल लेकर जांच की गई। सभी सैम्पल की रिपोर्ट निगेटिव आई है। छत्तीसगढ़ में बर्डफ्लू का अब तक कहीं से कोई भी मामला सामने नहीं आया है। बर्ड फ्लू पर नियंत्रण के लिए पोल्ट्रियों के उत्पादन पर रोक लगाने की मांग: सर्व ब्राह्मण समाज के उपप्रांताध्यक्ष लेखमणि पाण्डेय, जिलाध्यक्ष किशोर शर्मा, जिला कोषाध्यक्ष धनेश्वर पाण्डेय, जिला उपाध्यक्ष लाला तिवारी ने कहा कि देश भर में बर्ड फ्लू ने एक और संकट पैदा कर दिया है। देश के अन्य राज्यों में पिछले 11 दिन में लाखों की संख्या में पक्षियों की मौत हो चुकी है। अभी तक यह संक्रमण मानव में नहीं फैला है। अगर यह मानव में फैला, तो बड़ी भयावह स्थिति हो सकती है। पक्षियों के अलावा पोल्ट्री उत्पादन का सेवन करने से भी यह संक्रमण फैल सकता है और इस संक्रमण का कोई इलाज भी नहीं है। इसलिए देशभर में पोल्ट्री फार्म के ऊपर कड़ाई के साथ प्रतिबंध लगे, जिसमें पक्षियों की आवाजाही पर रोक लगे। खुले आम पक्षियों के व्यापार करने वालों पर कार्रवाई की जाए। गांव-गांव में मुर्गी पालन का व्यवसाय फल-फूल रहा है, लेकिन इनके व्यवसायियों द्वारा अभी तक एहतियात नहीं बरती जा रही है। इसे लेकर अलर्ट रहें।

नमूने इकट्ठा कर रायपुर भिजवाने के भी निर्देश
उन्होंने बताया कि राज्य में बर्डफ्लू रोग के प्रवेश को रोकने के संबंध में जिलों को विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। पक्षियों की असामान्य बीमारी व मृत्यु होने की स्थिति में अधिकारियों को सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं। भारत सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देश के अनुसार सैम्पल साइज का पालन करते हुए नमूने एकत्र कर राज्य स्तरीय रोग अन्वेषण प्रयोगशाला रायपुर भिजवाने के भी निर्देश दिए गए हैं। पोल्ट्री व्यवसाय से जुड़े लोगों को बर्डफ्लू के रोकथाम व जैव सुरक्षा के सभी नियमों की जानकारी देने को कहा गया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें