अमृत मिशन प्रोजेक्ट:343 किमी पाइपलाइन बिछाने बनाने 3 बार तारीख बदली गई

दुर्ग10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पचरीपार सड़क को बंद किया। - Dainik Bhaskar
पचरीपार सड़क को बंद किया।

शहर में पेयजल आपूर्ति व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए शहर में अमृत मिशन प्रोजेक्ट के तहत 142 करोड़ रुपए की लागत से कार्य जारी है। इसके तहत 343 किलोमीटर की पाइपलाइन शहर के सभी 60 वार्डों में बिछाई जानी है। इसके अलावा 6 नई पानी टंकियां बनाई जानी है। 11 व 24 एमएलडी के पुराने फिल्टर प्लांट का रिनोवेशन किया जाना है। अप्रैल 2018 से यह कार्य शुरू हुआ।

मार्च 2021 तक इसे पूरा किया जाना था, लेकिन अब तक 20 प्रतिशत से ज्यादा काम शेष है। पहले जुलाई तक समय बढ़ाया गया। इसके बाद सितंबर और दिसंबर तक का समय कार्य एजेंसी को दिया गया है। इधर के चलते शहर की पब्लिक परेशान है। पिछले दिनों बस स्टैंड से शहर को जोड़ने वाली पचरीपारा प्रमुख सड़क को बंद कर दिया गया है। इसकी वजह से लोगों को आवाजाही में खासी दिक्कतों का सामने करना पड़ रहा है। कई बार इसे लेकर शिकायतें भी हुई। लेकिन समस्या तस के तस बनी हुई है। पुरानी सड़कों का मेंटेनेंस तक नहीं हो पाया है।

पूरे शहर में पेयजल आपूर्ति लगातार प्रभावित हो रही अमृत मिशन के इस प्रोजेक्ट के तहत पूरे शहर में पेयजल आपूर्ति प्रभावित है। लोगों को पर्याप्त पानी उपलब्ध नहीं मिल पा रहा है। टेस्टिंग व लीकेज के चलते यह समस्या सामने आ रही है। इसे लेकर अब तक स्थानीय प्रतिनिधि भी गंभीर नहीं हैं।

सप्ताहभर में पचरीपारा का काम पूरा हो जाएगा
बस स्टैंड के सामने सड़क चौड़ीकरण का काम शुरू होना है। यह 11 एमएलडी फिल्टर प्लांट नलघर से जुड़ेगा। हफ्तेभर में काम पूरा हो जाएगा। 31 दिसंबर तक प्रोजेक्ट पूरा कर लिया जाएगा।
-हरेश मंडावी, आयुक्त नगर निगम दुर्ग

खबरें और भी हैं...